ताज़ा खबर
 

1 जून से SBI की ये सर्विस हो गई हैं महंगी, जानिए अब किस सर्विस पर देना होगा कितना शुल्क

नियम के तहत एटीएम से प्रत्येक रकम निकासी पर 25 रुपए चार्ज लिए जाएगा। हालांकि यह बैंक के ऐप यूजर्स पर लागू होगा

स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (एसबीआई) के ग्राहकों के लिए उनके एटीएम कार्ड के लिए एक नया फीचर आ गया है, जो काफी हद तक उनके लिए लिए आसान और फायदेमंद साबित हो सकता है। यह फीचर खासकर ग्राहकों को धोखाधड़ी से बचाने के लिए लाया गया है। ग्राहक अगर स्मार्टफोन रखता है और नेटबैंकिंग का इस्तेमाल करता है, तो उसके लिए यह एकदम काम का फीचर हैं। ग्राहक अब स्मार्ट फोन से ही एटीएम कार्ड को ऑन और ऑफ कर सकते हैं। इसके लिए एसबीआई का नया क्विक एप आया है। बैंक खाते में लगे मोबाइल नंबर से ही एसबीआई का क्विक एप डाउनलोड करें। एप डाउनलोग होने के बाद उसमें रजिस्ट्रेशन करना होगा। जिस फोन नंबर से ग्राहक की नेट बैंकिंग चालू हैं, उस नंबर को डाउनलोड किए गए एप में डालना होगा । यह एप एक प्रकार से ग्राहक के एटीएम कार्ड को कंट्रोल करता है। एप गूगल के प्लेस्टोर पर उपलब्ध है।

देश के सबसे बड़े बैंक भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) ने अपनी मोबाइल ऐप SBI Bank Buddy के यूजर्स के लिए एटीएम निकासी के सर्विस चार्ज में बदलाव किया है। इसके अलावा बैंक ने अन्य कैश ट्रांजेक्शन के नियमों में भी फेरबदल किया है। नए नियम एक जून से लागू हो गए हैं। नियम के तहत एटीएम से प्रत्येक रकम निकासी पर 25 रुपए चार्ज लिए जाएगा। हालांकि बैंक ने साफ था किया कि 25 रुपए का चार्ज तभी लागू होगा जब मोबाइल वॉलेट ऐप के जरिए एटीएम से पैसे निकाले जाएंगे। बता दें कि एसबीआई की बैंक बडी ऐप के जरिए एटीएम से पैसे निकाल पाना संभव है। हालांकि नॉर्मल सेविंग अकाउंट यूजर्स को 8 मुफ्त ट्रांजेक्शन (5 एसबीआई एटीएम से और 3 अन्य बैंक के एटीएम से) मिलती रहेंगी। 8 ट्रांजेक्शन मेट्रो शहरों के लिए लागू होती हैं, जबकि नॉन-मेट्रो सिटी में 10 फ्री ट्रांजेक्शन दी जाती हैं।

इससे पहले मीडिया रिपोर्ट्स में कहा जाने लगा था कि एसबीआई सभी एटीएम ट्रांजेक्शन पर 25 रुपए का चार्ज ले सकता है। इसके बाद भारतीय स्टेट बैंक ने स्पष्ट था किया है कि 1 जून से एटीएम से की जाने वाली सभी किस्म की निकासी पर शुल्क नहीं लगेगा, बल्कि केवल मोबाइल वॉलेट से की जाने वाली निकासी पर ही 25 रुपए प्रति निकासी चार्ज लगेगा। बैंक ने एक बयान में कहा, “25 रुपये प्रति लेन-देन शुल्क केवल मोबाइल वॉलेट ऐप एसबीआई बडी से की जानेवाली एटीएम निकासी पर लगेगा। यह केवल एसबीआई ग्राहकों पर लागू होगा।”

HOT DEALS
  • Samsung Galaxy J6 2018 32GB Black
    ₹ 12990 MRP ₹ 14990 -13%
    ₹0 Cashback
  • Sony Xperia XZs G8232 64 GB (Warm Silver)
    ₹ 34999 MRP ₹ 51990 -33%
    ₹3500 Cashback

स्टेट बैंक ने विभिन्न कैश ट्रांजेक्शन पर भी सर्विस चार्ज में बदलाव किया है। जानिए 1 जून से क्या बदल रहा है:

ऑनलाइन ट्रांसफर: Immediate Payment Service या IMPS के जरिए ऑनाइन फंड ट्रांसफर करना अब महंगा पड़ सकता है। बैंक 1 लाख रुपए तक के अमाउंट पर 5 रुपए और सर्विस टैक्स वसूल करेगा। वहीं, 1 लाख से 2 लाख रुपए तक 15 रुपए व सर्विस टैक्स और 2 लाख से 5 लाख तक के अमाउंट पर 25 रुपए व सर्विस टैक्स वसूला जाएगा।

कटे-फटे नोट: 5,000 रुपए से अधिक के पुराने और कटे-फटे नोट बदलने पर भी शुल्क लिया जाएगा। बैंक हर नोट पर 2 रुपए व सर्विस चार्ज वसूल करेगा।

चेक बुक: 1 जून से ग्राहकों को एसबीआई बैंक चेक बुक के लिए भी चार्ज वसूल करेगा। इसके लिए बैंक 30 से 150 रुपए तक चार्ज वसूल कर सकता है।  10 लीफ वाली चेकबुक के लिए ये चार्ज होगा 30 रुपए और सर्विस टैक्स, जबकि 25 लीफ वाली चेकबुक के लिए 75 रुपए और सर्विस टैक्स देना होगा।

एटीएम कार्ड: बैंक अब नए डेबिट कार्ड जारी करने पर चार्ज वसूल करेगा। हालांकि केवल रूपे RuPay क्लासिक कार्ड मुफ्त में जारी किए जाएंगे।

कैश विदड्रॉल: बेसिक सेविंग्स एकाउंट होल्डर्स ने एटीम से महीने में 4 ट्रांसेक्शन कर लिए तो हर ट्रांसेक्शन पर 50 रुपये सर्विस चार्ज लगेगा। अपने बैंक एटीएम से 4 बार पैसा निकालने के बाद 10 रुपए प्रति ट्रांसेक्शन देना होगा। जबकि दूसरे बैंक के एटीएम से निकालने पर 20 रुपये प्रति एटीएम ट्रांसेक्शन चार्ज वसूल करेगा बैंक।

कर्नाटक चुनाव जीतने के लिए अपने नेताओं को “परिक्रमा” करवाएंगे राहुल गांधी

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App