ताज़ा खबर
 

एसबीआई में 30 साल की नौकरी के बाद होगी काम की समीक्षा, खरे न उतरने पर छुट्टी, विरोध में कर्मचारी

सेवा विस्तार देने के लिए पहली बार समीक्षा कर्मचारी के 30 साल पूरा करने या फिर 55 साल की उम्र के हो जाने के बाद की जाएगी। इसमें यदि कर्मचारी योग्य पाए जाते हैं तो उन्हें 58 साल तक की आयु के लिए विस्तार दिया जाएगा।

Author Edited By यतेंद्र पूनिया नई दिल्ली | Updated: September 4, 2020 6:45 PM
state bank of indiaभारतीय स्टेट बैंक में लागू हुआ 30 साल की नौकरी के बाद समीक्षा का नियम

देश के सबसे बड़े बैंक एसबीआई ने वरिष्ठ अधिकारियों के सेवा विस्तार के लिए समीक्षा की व्यवस्था शुरू कर दी है। इसके अलावा बैंक की ओर से कर्मचारियों के लिए वीआरएस यानी स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति स्कीम लाने की भी तैयारी है। वीआरएस पर अभी सरकार की मंजूरी मिलनी बाकी है, लेकिन एसबीआई ऑफिसर्स एसोसिएशन ने ऐसी स्कीम का कड़ा विरोध किया है। बैंक ने अपने हालिया सर्कुलर में कहा है कि कर्मचारियों के सेवा विस्तार देने में उनके प्रभाव और उद्देश्य का आकलन करने के लिए इवेल्युएशन की व्यवस्था अपनाई गई है। सेवा विस्तार देने के लिए पहली बार समीक्षा कर्मचारी के 30 साल पूरा करने या फिर 55 साल की उम्र के हो जाने के बाद की जाएगी। इसमें यदि कर्मचारी योग्य पाए जाते हैं तो उन्हें 58 साल तक की आयु के लिए विस्तार दिया जाएगा। बता दें कि एसबीआई में कुल 2.50 लाख कर्मचारी हैं।

पहली समीक्षा के बाद 58 साल की आयु पूरी करने वाले कर्मचारियों का एक बार फिर से रिव्यू किए जाएगा। इसमें सफल पाए जाने पर ही उन्हें 60 साल तक की नौकरी का मौका मिलेगा। समीक्षा में कर्मचारियों और अधिकारियों के 100 में से 65 अंक आने चाहिए। यदि अंक इससे कम आते हैं तो फिर संबंधित कर्मचारी की रिपोर्ट रिव्यू कमिटी को भेजी जाएगी। यहां कर्मचारी के सेवा विस्तार, शॉर्ट टर्म विस्तार या फिर एक्सटेंशन न देने पर फैसला लिया जाएगा।

ऐसे कर्मचारी जिन्हें 65 से अधिक अंक प्राप्त हुए हों, उन्हें सेवा विस्तार के लिए योग्य माना जाएगा और उनके नाम को कंपीटेंट अथॉरिटी के सेक्शन के लिए भेजा जाएगा। इसके अलावा नए नियमों में ऑफिसर के व्यवहार, साख, अनुपालन और इंटीग्रिटी को भी मापदंड माना गया। साथ ही ऑफिसर के सीनियर्स और अधीनस्थ कर्मचारियों के साथ व्यवहार, बैंक के लिए उपयोगिता, सोशल मीडिया वायलेशन, कस्टमर सर्विस के प्रति व्यवहार आदि भी रेटिंग का हिस्सा होंगे।

फिलहाल एसबीआई के किसी कर्मचारी को 50 साल की आयु के बाद या फिर नौकरी के 25 वर्ष पूरे होने के बाद रिटायरमेंट दिया जा सकता है। ऐसे कर्मचारियों को रिटायरमेंट देते हुए तीन महीने की सैलरी दी जाती है और अन्य रिटायरमेंट बेनेफिट दिए जा रहे हैं। इसके अलावा  कंपीटेंट अथॉरिटी की ओर से 20 साल की नौकरी पूरी करने वाले कर्मचारियों को भी नौकरी से रिटायर किया जा सकता है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 बैंकों के भविष्य पर बोले भारतीय स्टेट बैंक के एमडी, सिर्फ वितरण केंद्र के तौर पर ही काम करेंगी शाखाएं
2 पीएम आवास योजना और होम लोन पर सस्ते ब्याज से घर खरीदने का सुनहरा मौका, पूरा करें आशियाने का सपना
3 कोरोना काल में पस्त हुई अर्थव्यवस्था पर कंपनियों ने जुटाई रिकॉर्ड पूंजी, बैंकों ने भी मजबूत की अपनी बैलेंस शीट
ये पढ़ा क्या?
X