ताज़ा खबर
 

चांदी ने 44000 रुपए के स्तर को लांघा, सोना 30000 रुपए पर कायम

दिल्ली में चांदी तैयार के भाव 200 रुपए की तेजी के साथ 44,050 रुपए प्रति किलो हो गये।

Author नई दिल्ली | March 2, 2017 18:14 pm
दिल्ली के सर्राफा बाजार में सोने-चांदी की कीमतों में गुरुवार (02 मार्च) को आया उतार-चढ़ाव। (पीटीआई ग्राफिक्स)

घरेलू उद्योगों की उठान बढ़ने के कारण दिल्ली सर्राफा बाजार में गुरुवार (2 मार्च) को चांदी की कीमत में 200 रुपए की तेजी आई और यह 44,000 रुपए के स्तर को लांघ गई जबकि सोना स्थिरता का रुख लिए बंद हुआ। विदेशों में कमजोरी के बावजूद छिटपुट सौदों के कारण सोने की कीमत 30,000 रुपए प्रति 10 ग्राम पर स्थिर बना रहा जबकि चांदी की कीमत तेजी के साथ 44,050 रुपए प्रति किग्रा हो गई। सर्राफा व्यापारियों ने चांदी कीमतों में तेजी आने का श्रेय घरेलू हाजिर बाजार में औद्योगिक इकाइयों की मांग में आई तेजी को दिया। वैश्विक स्तर पर सिंगापुर में सोना 0.24 प्रतिशत की गिरावट के साथ 1,246 डॉलर प्रति औंस रह गया। जबकि चांदी की कीमत 0.05 प्रतिशत की गिरावट के साथ 18.38 डॉलर प्रति औंस रह गई।

राष्ट्रीय राजधानी, दिल्ली में चांदी तैयार के भाव 200 रुपए की तेजी के साथ 44,050 रुपए प्रति किलो हो गये जबकि चांदी साप्ताहिक डिलीवरी के भाव 170 रुपए की तेजी के साथ 43,320 रुपए प्रति किलो पर बंद हुए। हालांकि चांदी सिक्कों के भाव (लिवाल) 74,000, (बिकवाल) 75,000 रुपए प्रति सैंकड़ा के पूर्वस्तर पर ही बंद हुए। दूसरी ओर सोना 99.9 और 99.5 शुद्धता के भाव क्रमश: 30,000 रुपए और 29,850 रुपए प्रति 10 ग्राम पर स्थिरता का रुख लिए बंद हुए। बुधवार को इसमें 150 रुपए की गिरावट आई थी। हालांकि गिन्नी 24,500 रुपए प्रति आठ ग्राम के भाव पर स्थिरता का रुख लिए बंद हुए।

सेंसेक्स 145 अंक टूटकर 28,840 पर बंद

बंबई शेयर बाजार गुरुवार (2 मार्च) को शुरुआती लाभ को कायम नहीं रख पाया और अंत में 145 अंक के नुकसान से 28,840 अंक पर बंद हुआ। यूरोपीय बाजारों की कमजोर शुरुआत के बीच निवेशकों ने कारोबार के अंतिम घंटे में मुनाफा काटा जिससे बाजार में गिरावट आई। सेंसेक्स के साथ नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी शुरुआती कारोबार में करीब दो साल के उच्चस्तर (मार्च, 2015) को छूने के बाद नीचे आ गए। फेडरल रिजर्व द्वारा इस महीने ब्याज दरों में बढ़ोतरी की संभावना के बीच एशियाई बाजारों में मिला जुला रुख रहा, वहीं यूरोपीय बाजार शुरुआती कारोबार में कमजोर खुला। बुधवार (1 मार्च) को अमेरिकी बाजार नई ऊंचाई पर बंद हुए थे।

बंबई शेयर बाजार का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स गुरुवार को ऊपर में 29,145.62 अंक और नीचे में 28,784.31 अंक के दायरे में घूमने के बाद अंत में 144.70 अंक या 0.50 प्रतिशत के नुकसान से 28,839.79 अंक पर बंद हुआ। बुधवार के कारोबार में सेंसेक्स दिसंबर तिमाही में जीडीपी के बेहतर आंकड़ों की वजह से 241.17 अंक चढ़ा था। सेंसेक्स के 30 शेयरों में 22 में नुकसान रहा और आठ में लाभ दर्ज हुआ। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 46.05 अंक या 0.51 प्रतिशत के नुकसान से 8,899.75 अंक पर आ गया। कारोबार के दौरान इसने करीब दो साल का उच्च स्तर 8,992.50 अंक भी छुटा। यह 3 मार्च, 2015 के बाद इसका उच्चतम स्तर है। कारोबार के दौरान निफ्टी 8,879.80 अंक के निचले स्तर तक भी गया।

पुश्तैनी गहनों पर नहीं लगेगा कोई टैक्स; जानिए कौन रख सकेगा कितना सोना

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App