ताज़ा खबर
 

तीसरे दिन भी जारी रही सेंसेक्स में गिरावट

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 16.65 अंक टूटकर 8706.40 अंक पर बंद हुआ।

Author मुंबई | September 27, 2016 9:28 PM
शेयर बाजार (फाइल फोटो)

यूरोपीय बाजारों से कमजोर रुख के बीच बिकवाली दबाव के चलते घरेलू शेयर बाजारों में गिरावट मंगलवार (27 सितंबर) लगातार तीसरे कारोबारी सत्र में जारी रही जहां सेंसेक्स एक महीने के निचले स्तर 28,224 अंक पर बंद हुआ। अमरीकी राष्ट्रपति चुनाव के प्रत्याशियों के बीच पहली सार्वजनिक बहस में डेमोक्रेट हिलेरी क्लिंटन के अच्छे प्रदर्शन से निवेशकों में उत्साह के बीच शेयर बाजारों की शुरुआत बहुत अच्छी रही। लेकिन तेल उत्पादक देशों की आगामी बैठक को लेकर आशंकाओं ने इस तेजी को जारी नहीं रहने दिया।

इसके अलावा गुरुवार को समाप्त होने वाले वायदा व विकल्प सौदों तथा चार अक्तूबर की मौद्रिक नीति समीक्षा बैठक को लेकर भी बाजार में अनिश्चितता रही। इसका नकारात्मक असर बाजार पर दिखा। बीएससी के 30 शेयर आधारित सेंसेक्स की शुरुआत मजबूत रही। हालांकि अंतिम कारोबारी घंटे में यह दबाव में आ गया और 70.58 अंक की गिरावट दिखाता हुआ 28,223.70 अंक पर बंद हुआ। सेंसेक्स बीते दो सत्रों में 478.85 अंक टूटा था। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 16.65 अंक टूटकर 8706.40 अंक पर बंद हुआ।

जियोजित बीएनपी परिबा फिनांशल सर्विसेज के मुख्य बाजार रणनीतिकार आनंद जेम्स ने कहा,‘बीते कुछ दिनों में एफआईआई शुद्ध बिकवाल रहे हैं। इसके अलावा एक दिन बाद समाप्त होने वाले वायदा व विकल्प सौदों तथा चार अक्तूबर की मौद्रिक नीति समीक्षा बैठक को लेकर भी अनिश्चितता का माहौल रहा।’ बीएसई के सूचकांक आधारित 30 में से 18 शेयरों में गिरावट आई। बिकवाली दबाव के कारण अडाणी पोर्ट्स का शेयर सबसे अधिक 2.20 प्रतिशत टूटा। भारती एयरटेल 2.01 प्रतिशत टूटा। एक्सिस बैंक, गेल व एसबीआई के शेयर में भी अच्छी खासी गिरावट दर्ज की गई। यूरोपीय शेयरों की बात की जाए तो लंदन का एफटीएसई 0.19 प्रतिशत, पेरिस का सीएसी 0.52 प्रतिशत व फ्रेंकफर्त 0.85 प्रतिशत टूटा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App