ताज़ा खबर
 

जीएसटी को हरी झंडी के बाद बाजार में गिरावट थमी, सेंसेक्स 17 अंक चढ़ा

सेंसेक्स की कंपनियों में टाटा स्टील सबसे अधिक 4.60 प्रतिशत चढ़कर 374.05 रुपए पर पहुंच गया।

Author मुंबई | Updated: August 4, 2016 6:54 PM
sensex Share market, Share market Open, Share market news, Share market latest newsबॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (फाइल फोटो)

राज्यसभा द्वारा बुधवार (3 अगस्त) को  ऐतिहासिक वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) विधेयक को मंजूरी के बाद गुरुवार (4 अगस्त) को शेयर बाजारों में चार दिन से चली आ रही गिरावट का सिलसिला थम गया तथा सेंसेक्स मामूली लाभ के साथ बंद हुआ। वैश्विक बाजारों में मजबूती से भी यहां धारणा को बल मिला। कारोबार के अंत में बंबई शेयर बाजार का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स 17 अंक की सीमित बढ़त के साथ बंद हुआ। इससे निवेशकों की चिंता का पता चलता है कि जीएसटी के लिए आगे का रास्त आसान नहीं है और इसे लागू करने को केंद्र और राज्य सरकारों को काफी मेहनत करनी होगी। आजादी के बाद सबसे बड़ा कर सुधार कहे जा रहे जीएसटी को राज्यसभा ने बुधवार (3 अगस्त) को पारित कर दियाा।

गुरुवार (4 अगस्त) को कारोबार में वाहन, रीयल्टी, बुनियादी ढांचा, बिजली और स्वास्थ्य सेवा कंपनियों के शेयरों में लिवाली का दौर चला जबकि टिकाऊ उपभोक्ता सामान, आईटी, बैंकिंग और एफएमसीजी कंपनियों के शेयर बिकवाली दबाव में रहे। शुरुआती कारोबार में सेंसेक्स 224 अंक चढ़ गया, लेकिन बाद में मुनाफावसूली का सिलसिला चलने से यह नीचे आया। अंत में सेंसेक्स 16.86 अंक या 0.06 प्रतिशत के लाभ से 27,714.37 अंक पर बंद हुआ। इससे पिछले चार सत्रों में सेंसेक्स 511.11 अंक टूटा था। सेंसेक्स की कंपनियों में टाटा स्टील सबसे अधिक 4.60 प्रतिशत चढ़कर 374.05 रुपए पर पहुंच गया। ऐसी खबरें हैं कि सरकार ने कोल्ड रोल्ड इस्पात उत्पादों पर डंपिंग रोधी शुल्क लगाने की सिफारिश की है। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 6.25 अंक या 0.07 प्रतिशत के लाभ से 8,551.10 अंक पर बंद हुआ। कारोबार के दौरान यह 8,601.40 से 8,518.15 अंक के दायरे में रहा।

जीएसटी के लागू होने की उम्मीद से वाहन कंपनियों के शेयर मांग में रहे। माना जा रहा है कि जीएसटी से प्रवेश स्तर के वाहनों का सड़क पर आने का मूल्य घटेगा। इससे ये वाहन अंतिम ग्राहक की पहुंच में होंगे। वाहन कंपनियों में टाटा मोटर्स, हीरो मोटोकॉर्प, बजाज ऑटो तथा मारुति सुजुकी के शेयर 4.41 प्रतिशत तक चढ़ गए। सेंसेक्स के 30 शेयरों में 16 लाभ में रहे, 14 में नुकसान दर्ज हुआ। विभिन्न वर्गों के सूचकांकों मं रीयल्टी में सबसे अधिक 2.25 प्रतिशत का लाभ रहा। धातु में 1.53 प्रतिशत, वाहन में 1.35 प्रतिशत, बुनियादी ढांचा में 0.92 प्रतिशत तथा बिजली में 0.71 प्रतिशत की बढ़त दर्ज हुई। स्मालकैप और मिडकैप में 0.39 प्रतिशत तक का लाभ रहा।

बीएनपी परिबा म्यूचुअल फंड के कोष प्रबंधक (इक्विटीज) श्रेयष देवाल्कर ने कहा कि जीएसटी विधेयक के पारित होने से पता चलता है कि केंद्र सरकार के पास कड़े राजनीतिक फैसलों को भी लागू करने की क्षमता है। अस्थायी आंकड़ों के अनुसार विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों ने बुधवार (3 अगस्त) को शुद्ध रूप से 578.17 करोड़ रुपए के शेयर खरीदे। एशियाई बाजारों में मजबूती का रुख रहा। जापान का निक्की 1.07 प्रतिशत चढ़ गया। हांगकांग के हैंगसेंग में 0.43 प्रतिशत तथा शंघाई कम्पोजिट में 0.13 प्रतिशत का लाभ रहा। शुरुआती कारोबार में यूरोपीय बाजार ऊपर चल रहे थे। बाजार में कुल 1,430 शेयर लाभ में तथा 1,264 नुकसान में रहे। 171 शेयरों की कीमत स्थिर रही।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 जीएसटी विधेयक के पारित होने को उद्योग जगत ने बताया ‘एेतिहासिक कदम’
2 केंद्र सरकार एक अप्रैल 2017 से जीएसटी लागू करने पर कर रही काम: अरुण जेटली
3 कमजोर वैश्विक रुख और मांग में कमी के चलते सोना-चांदी लुढ़के
ये पढ़ा क्या?
X