ताज़ा खबर
 

सेंसेक्स 157 अंक गिरा, बैंक ऑफ जापान ने किया निराश

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का 50 शेयरों पर आधारित निफ्टी भी 27.80 अंक यानी 0.32 प्रतिशत गिरकर 8,638.50 अंक पर बंद हुआ।

Author मुंबई | July 29, 2016 9:10 PM
बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (फाइल फोटो)

बैंकिंग शेयरों में मुनाफा वसूली की बिकवाली और वैश्विक स्तर पर कमजोर संकेतों से बंबई शेयर बाजार में शुक्रवार (29 जुलाई) को सेंसेक्स 157 अंक घटकर 28,051.86 अंक पर बंद हुआ। बाजार में अगले महीने के लिये वायदा एवं विकल्प कारोबार की शुरुआत भी कमजोर रही। बैंक ऑफ जापान के उम्मीद से काफी कम प्रोत्साहन पैकेज से भी बाजार में धारणा कमजोर रही। देश के निजी क्षेत्र के सबसे बड़े बैंक आईसीआईसीआई बैंक का शेयर शुक्रवार (29 जुलाई) को 3.40 प्रतिशत गिरकर 262.85 रुपए रह गया। बैंक के तिमाही परिणाम जारी होने से पहले शेयर में यह गिरावट रही। इसके अलावा सार्वजनिक क्षेत्र के कई अन्य बैंकों ने भी अपने परिणाम जारी किये हैं जिनमें फंसे कर्ज में वृद्धि हुई है।

ढांचागत क्षेत्र में काम करने वाली प्रमुख कंपनी लार्सन एण्ड टुब्रो ने चालू वित्त वर्ष की पहली तिमाही में 46 प्रतिशत मुनाफा वृद्धि हासिल की है और उसका शुद्ध लाभ 610 करोड़ रुपए पर पहुंच गया। हालांकि शुक्रवार (29 जुलाई) को कारोबार की समाप्ति पर इसका शेयर मूल्य 1.20 रुपए गिरकर 1,558 रुपए रह गया। बंबई शेयर बाजार का 30-शेयरों पर आधारित सेंसेक्स शुक्रवार (29 जुलाई) को 28,037.87 अंक तक गिरने के बाद कारोबार की समाप्ति पर आखिर में 156.76 अंक यानी 0.56 प्रतिशत गिरकर 28,051.86 अंक पर बंद हुआ।

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का 50 शेयरों पर आधारित निफ्टी भी 27.80 अंक यानी 0.32 प्रतिशत गिरकर 8,638.50 अंक पर बंद हुआ। पिछले दो कारोबारी सत्रों में दोनों ही सूचकांक में खरीदारी का जोर रहने से बढ़त दर्ज की गई थी। जीएसटी विधेयक पारित होने की उम्मीद बढ़ने और कंपनियों के बेहतर परिणाम से बाजार में सुधार का रुख रहा। साप्ताहिक आधार पर सेंसेक्स में 248.62 अंक यानी 0.89 प्रतिशत और एनएसई निफ्टी में 97.30 अंक यानी 1.13 प्रतिशत की गिरावट रही। दोनों सूचकांक में लगातार पांचवें महीने तेजी का रुख रहा।

वैश्विक आधार पर भी कारोबारी धारणा कमजोर रही। बैंक ऑफ जापान ने ब्याज दरों और सरकारी बॉंड खरीद कार्यक्रम में कोई बदलाव नहीं किया। खासतौर से ऐसे समय जब विश्लेषकों को उम्मीद थी कि केन्द्रीय बैंक आर्थिक प्रोत्साहन उपायों के लिए ठोस कदम उठाएगा। हालांकि, इसके बावजूद निक्केई 225 एवरेज 0.56 प्रतिशत ऊंचा बंद हुआ लेकिन चीन, हांगकांग, सिंगापुर, दक्षिण कोरिया और ताइवान सहित अन्य एशियाई सूचकांक 1.71 प्रतिशत तक गिर गए। बीएसई में संसेक्स में शामिल 30 शेयरों में से 17 में गिरावट रही। शुक्रवार (29 जुलाई) के कारोबार में प्रमुख शेयरों में भारती एयरटेल 2.70 प्रतिशत, एचडीएफसी 1.92 प्रतिशत, विप्रो 1.32 प्रतिशत, लार्सन एण्ड टुब्रो 1.20 प्रतिशत, एशियन पेंट्स 1.09 प्रतिशत और रिलायंस इंडस्ट्री का शेयर मूल्य 1.03 प्रतिशत घट गया।

दूसरी तरफ अदाणी पोर्ट्स 2.95 प्रतिशत चढ़ गया। ल्यूपिन का शेयर 2.15 प्रतिशत, बजाज ऑटो 1.89 प्रतिशत, सिप्ला 1.83 प्रतिशत, एचयूएल 1.47 प्रतिशत, टाटा स्टील 1.27 प्रतिशत, महिन्द्रा एण्ड महिन्द्रा 1.01 प्रतिशत और सन फार्मा 0.72 प्रतिशत बढ़ गया। बीएसई के विभिन्न क्षेत्रवार सूचकांकों में दूरसंचार क्षेत्र का शेयर 1.64 प्रतिशत गिर गया जबकि टिकाऊ उपभोक्ता सामान, पूंजीगत सामान, बैंकेक्स और धातु सूचकांक में भी 0.92 प्रतिशत तक गिरावट रही।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App