ताज़ा खबर
 

सेंसेक्स में 107 अंक की बढ़त, फार्मा कंपनियों के शेयर लुढ़के

सेंसेक्स के 30 शेयरों में 13 लाभ जबकि 17 नुकसान में रहे।

Author मुंबई | Published on: January 12, 2017 6:43 PM
शेयर बाज़ार में 12 जनवरी की स्थिति। (पीटीआई ग्राफिक्स)

शेयर बाजारों में तेजी का सिलसिला गुरुवार (12 जनवरी) को तीसरे दिन भी जारी रहा और सेंसेक्स करीब 107 अंक की बढ़त के साथ दो माह के उच्च स्तर 27,247.16 अंक पर बंद हुआ। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 26 अंक सुधर कर 8,400 के स्तर से ऊपर निकल गया। बिजली, आईटी तथा बैंक शेयरों की अगुवाई में यह तेजी आयी। हालांकि फार्मा काउंटरों पर लिवाली से तेजी पर अंकुश लगा। बिजली, आईटी, प्रौद्योगिकी तथा पूंजीगत वस्तुएं बनाने वाली कंपनियों के शेयर चमक में रहे वहीं औषधि, रोजमर्रा के उपयोग का सामान बनाने वाली कंपनियों, वाहन कंपनियों तथा जमीन-जायदाद के विकास से जुड़ी कंपनियां बिकवाली दबाव में रही।

औषधियों के दाम पर अमेरिका के नवनिर्वाचित राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की टिप्पणी से औषधि कंपनियों के शेयरों में बिकवाली देखी गयी। इससे आने वाले समय में अमेरिका में भारतीय औषधि कंपनियों के लिये काम करना कठिन होने का संकेत मिलता है। सर्वाधिक नुकसान में ल्यूपिन रही। कंपनी का शेयर 2.03 प्रतिशत नीचे आया। तीस शेयरों वाला सेंसेक्स मजबूती के साथ 27,171.66 अंक पर खुला और एक समय 27,278.93 के उच्च स्तर पर चला गया। अंत में यह 106.75 अंक या 0.39 प्रतिशत की बढ़त के साथ 27,247.16 अंक पर बंद हुआ।

सेंसेक्स पिछले तीन कारोबारी सत्रों में 520.61 अंक या 1.95 प्रतिशत मजबूत हुआ था। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 26.55 अंक या 0.32 प्रतिशत की तेजी के साथ 8,407.20 अंक पर बंद हुआ। एक समय यह 8,417.20 अंक तक चला गया था। जियोजीत बीएनपी परिबा फाइनेंशियल सर्विसेज लि. के मुख्य बाजार रणनीतिकार आनंद जेम्स ने कहा, ‘बाजार मजबूती के साथ खुला लेकिन उस लाभ को बरकरार नहीं रख पाया। इसका कारण बुधवार (11 जनवरी) के संवाददाता सम्मेलन में ट्रंप का बयान है। इससे फार्मा कंपनियों के शेयरों में गिरावट रही। प्रमुख वृहत आर्थिक आंकड़ा तथा तीसरी तिमाही के वित्तीय परिणाम आने से पहले निवेशक थोड़ा सतर्क रहे।’

सेंसेक्स के 30 शेयरों में 13 लाभ जबकि 17 नुकसान में रहे। सेंसेक्स के तीस शेयरों में एनटीपीसी 5.69 प्रतिशत मजबूत हुआ। इसके अलावा पावर ग्रिड 4.14 प्रतिशत, इंफोसिस 3.20 प्रतिशत, एल एंड टी 2.57 प्रतिशत तथा विप्रो 1.52 प्रतिशत मजबूत हुए। वहीं दूसरी तरफ ल्यूपिन में 2.03 प्रतिशत, हिंद यूनिलीवर 1.76 प्रतिशत, आईटीसी 1.29 प्रतिशत तथा कोल इंडिया में 1.28 प्रतिशत में गिरावट दर्ज की गयी।

एनटीपीसी के राजस्थान राज्य विद्युत उत्पादन तथा राजस्थान ऊर्जा विकास निगम के साथ छाबरा तापीय बिजली संयंत्र के अधिग्रहण को लेकर किये गये गैर-बाध्यकारी समझौते से कंपनी का शेयर मजबूत हुआ। वैश्विक स्तर पर एशिया के अन्य बाजारों में जापान का निक्की 1.19 प्रतिशत, हांगकांग का हैंगसेंगे 0.46 प्रतिशत जबकि शंघाई कंपोजिट सूकचंक 0.56 प्रतिशत नीचे रहा। जबकि दक्षिण कोरिया तथा ताइवान के बाजारों में तेजी रही। यूरोप के प्रमुख बाजारों में भी शुरुआती कारोबार में मिला-जुला रुख दिखा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 सोने में तेज़ी का दौर जारी, चांदी में ₹50 की गिरावट
2 टीसीएस का मुनाफ़ा Q3 में 11% बढ़ा, ₹6110 करोड़ का लाभ
3 राजनीतिक दलों को एसोचैम ने दिया चुनावी घोषणापत्र के लिये सुझाव
जस्‍ट नाउ
X