बाबा रामदेव को महंगा पड़ा करोड़पति बनने का मंत्र देना, रुचि सोया पर यह बोलने से मिल गया नोटिस

बाबा रामदेव एक योग कार्यक्रम में शामिल लोगों को करोड़पति बनने का मंत्र बता रहे थे। सेबी ने इसे रुचि सोया के एफपीओ की मार्केटिंग माना। इसके बाद बाबा रामदेव को नियामक की ओर से नोटिस थमा दिया गया।

Baba Ramdev Ruchi Soya FPO
बाबा रामदेव लोगों को करोड़पति बनने का मंत्र देकर सेबी से डांट खा गए हैं। (Express Photo)

बाजार नियामक सेबी (SEBI) ने बाबा रामदेव (Baba Ramdev) को एक हालिया बयान पर नोटिस थमा दिया है। बाबा रामदेव को यह नोटिस लोगों को करोड़पति बनने का मंत्र देने के कारण मिला है। इस मंत्र में रामदेव लोगों से रुचि सोया (Ruchi Soya) और पतंजलि आयुर्वेद (Patanjali Ayurved) के शेयर खरीदने की अपील करते नजर आए हैं।

बीते दिनों रामदेव के एक योग कार्यक्रम का प्रसारण एक निजी चैनल पर किया गया। उक्त कार्यक्रम में रामदेव लोगों को रुचि सोया के शेयर खरीद करोड़पति बनने का रास्ता सुझाते दिख रहे हैं। देखते-देखते रामदेव का यह वीडियो वायरल हो गया, जिसके बाद सेबी ने कार्रवाई की।

योग कार्यक्रम में Ruchi Soya के FPO की मार्केटिंग कर रहे थे रामदेव

सेबी ने रामदेव के बयान का संज्ञान लेते हुए रुचि सोया के बोर्ड को आगे से इस तरह की किसी भी टिप्पणी करने से मना किया। बाबा रामदेव रुचि सोया के बोर्ड में गैर-कार्यकारी निदेशक की हैसियत से शामिल हैं। ऐसे में सेबी ने उनके ‘करोड़पति बनने के मंत्र’ को कंपनी के एफपीओ की मार्केटिंग माना है। सेबी ने चेतावनी देते हुए कहा कि यह उसके प्रावधानों का उल्लंघन है।

डेढ़ साल में 250 प्रतिशत चढ़ चुके हैं Ruchi Soya के शेयर

आपको बता दें कि रामदेव की पतंजलि आयुर्वेद 98.9 प्रतिशत हिस्सेदारी के साथ रुचि सोया की प्रोमोटर है। रुचि सोया के 4,300 करोड़ रुपये के एफपीओ को सेबी से अगस्त में मंजूरी मिली है। पिछले डेढ़ साल में रुचि सोया के शेयर करीब 250 प्रतिशत चढ़ चुके हैं।

रामदेव का दावा: करोड़पति बना देंगे Ruchi Soya और Patanjali के शेयर

विवादित वीडियो में बाबा रामदेव योग कार्यक्रम में शामिल लोगों से कहते हैं, ‘‘आजकल रुचि सोया के एफपीओ की बहुत चर्चा है। मैं करोड़पति बनने का मंत्र देता हूं। आज ही एक डीमैट अकाउंट खोलिए। जब मैं आपको बताऊं तो आप रुचि सोया के शेयर खरीद लेना। उसके बाद आप पतंजलि के शेयर खरीदना। कोई भी वैश्विक एजेंसी आपको बता सकती है कि पतंजलि का एमकैप लाखों करोड़ों में है।’’

इसे भी पढ़ें: जानिए उस कार का सफर जिसे महात्मा गांधी की हत्या में नाथूराम गोडसे ने किया था इस्तेमाल

पतंजलि अभी शेयर बाजार में लिस्टेड नहीं है। हालांकि कंपनी ने शेयर बाजार में उतरने का इरादा जाहिर किया है। रुचि सोया के एफपीओ के बाद पतंजलि बाजार में आईपीओ लेकर आ सकती है।

पढें व्यापार समाचार (Business News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट