ताज़ा खबर
 

SBI ने ब्याज दरों में की सातवीं बार कटौती, सस्ते होंगे कर्ज, जानें- कब से होंगी नई दरें लागू

State Bank of India: ब्याज दर में कटौती की नई दर 10 नवंबर 2019 से लागू होगी। अब 1 साल के ऋण का एमसीएलआर कम होकर 8 प्रतिशत पर आ जाएगा। एसबीआई ने इससे पहले अक्टूबर महीने में सभी परिपक्वता अवधि के ऋण पर एमसीएलआर में 10 बीपीएस की कटौती की थी।

Author नई दिल्ली | Updated: November 8, 2019 7:16 PM
तस्वीर का इस्तेमाल सिर्फ प्रस्तुतिकरण के लिए किया गया है।

State Bank of India: सार्वजनिक क्षेत्र के सबसे बड़े बैंक भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) ने ब्याज दरों में शुक्रवार (8 नवंबर 2019) को कटौती का एलान किया। बैंक ने सीमांत लागत आधारित ब्याज दर (एमसीएलआर) में 0.05 प्रतिशत की कटौती की है। यह सभी परिपक्वता अवधि के ऋण पर लागू होगा। इस फैसले के बाद अब कर्ज लेना सस्ता हो जाएगा। वित्त वर्ष 2019-20 में एसबीआई ने अबतक सात बार ब्याज दरों में कटौती की है।

ब्याज दर में कटौती की नई दर 10 नवंबर 2019 से लागू होगी। अब 1 साल के ऋण का एमसीएलआर कम होकर 8 प्रतिशत पर आ जाएगा। एसबीआई ने इससे पहले अक्टूबर महीने में सभी परिपक्वता अवधि के ऋण पर एमसीएलआर में 10 बीपीएस की कटौती की थी।

बता दें कि इससे पहले एचडीएफसी ने इसी हफ्ते में एमसीएलआर में 10 बेसिस प्वाइंट की कटौती की थी। एसबीआई ने फिक्स्ड डिपॉजिट (एफडी) पर भी ब्याज दरों में कटौती की है। इस फैसले का असर उन ग्राहकों पर पड़ेगा जिन्होंने बैंक में फिक्सड डिपॉजिट करवा रखा है।

एसबीआई ने बयान जारी कर जानकारी दी कि फिक्‍सड डिपॉजिट पर ब्‍याज दरों में 0.15 फीसदी से 0.75 फीसदी तक की कटौती की गई है। वहीं बीते महीने भी इसमें कटौती की गई थी। बैंक ने 1 साल से दो साल तक की मैच्योरिटी वाली रिटेल एफडी पर जमा दरों में 0.10 फीसदी की कटौती की है। यानि की अब ब्याज दर 6.50 से घटकर 6.40 हो गई है। इस फैसले से करोड़ों ग्राहकों को झटका लगा है। अब उन्हें एफडी पर कम ब्याज मिलेगा।

ये है नई ब्याज दर

– 7 से 45 दिन के लिए एफडी पर 4.50 फीसदी

– 46 से 179 दिन के लिए एफडी पर 5.50 फीसदी

– 180 से 210 दिन के लिए एफडी पर 5.80 फीसदी ब्याज मिलेगा

– 1 साल तक की एफडी पर बैंक 6.80 फीसदी

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories