ताज़ा खबर
 

सेल की शेयर बिक्री पेशकश को बेहतर समर्थन, मिल सकते हैं 1,715 करोड़ रुपए

सरकार के विनिवेश कार्यक्रम की शुक्रवार को अच्छी शुरुआत हुई और इस्पात क्षेत्र की प्रमुख कंपनी सेल के शेयरों की बिक्री में पेश शेयरों की। सीमा से दोगुने से भी अधिक अभिदान मिला। इस बिक्री से सरकार को 1,715 करोड़ रुपए प्राप्त हो सकते हैं। चालू वित्त वर्ष में विनिवेश कार्यक्रम के तहत पहली बिक्री […]

Author December 6, 2014 12:24 PM
सरकार ने सेल के अलावा ओएनजीसी में पांच प्रतिशत, कोल इंडिया में 10 प्रतिशत और एनएचपीसी में 11.36 प्रतिशत हिस्सेदारी बेचने का भी फैसला किया है। (फाइल फ़ोटो)

सरकार के विनिवेश कार्यक्रम की शुक्रवार को अच्छी शुरुआत हुई और इस्पात क्षेत्र की प्रमुख कंपनी सेल के शेयरों की बिक्री में पेश शेयरों की। सीमा से दोगुने से भी अधिक अभिदान मिला। इस बिक्री से सरकार को 1,715 करोड़ रुपए प्राप्त हो सकते हैं।

चालू वित्त वर्ष में विनिवेश कार्यक्रम के तहत पहली बिक्री पेशकश की गई। खुदरा निवेशकों में सेल के शेयरों के लिये अच्छा आकर्षण देखा गया जिसे मिलाकर कुल अभिदान प्राप्ति 2.08 गुणा तक पहुंच गया। सेल में सरकार की पांच प्रतिशत हिस्सेदारी का विनिवेश करने के तहत 20.65 करोड़ शेयरों को बिक्री के लिये पेश किया गया था।

सेल की इस बिक्री पेशकश के बाद कंपनी में सरकार की हिस्सेदारी घटकर 75 प्रतिशत रह जायेगी। इससे कंपनी में सेबी के सूचीबद्धता नियमों का भी पालन होगा। सूचीबद्ध कंपनियों में उनकी चुकता पूंजी के 25 प्रतिशत सार्वजनिक हिस्सेदारी रखनी अनिवार्य की गई है।

सरकार ने चालू वित्त वर्ष के दौरान विनिवेश कार्यक्रम के तहत 43,425 करोड़ रुपए जुटाने का लक्ष्य रखा है। सरकार को सेल की बिक्री पेशकश के तहत 42.93 करोड़ शेयरों की खरीद के लिये बोली मिली है जिससे उसे 3,400 करोड़ रुपए तक मिल सकते हैं लेकिन सरकार ने इसमें ग्रीन-शू विकल्प नहीं रखा इसलिये उसके खजाने में केवल 1,715 करोड़ रुपए ही पहुंचेंगे।

सरकार ने सेल के अलावा ओएनजीसी में पांच प्रतिशत, कोल इंडिया में 10 प्रतिशत और एनएचपीसी में 11.36 प्रतिशत हिस्सेदारी बेचने का भी फैसला किया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App