ताज़ा खबर
 

रिजर्व बैंक की बड़ी कार्रवाई, ICICI बैंक पर लगा 3 करोड़ रुपये का जुर्माना, SBI ने किया ये ऐलान

रिजर्व बैंक ने एक बयान में कहा कि मास्टर सर्कुलर में दिये गये दिशानिर्देशों के उल्लंघन को लेकर आईसीआईसीआई बैंक पर तीन करोड़ रुपये का जुर्माना लगाया है।

icici bank, sbi, rbiआईसीआईसीआई बैंक पर तीन करोड़ रुपये का जुर्माना लगाया गया है (Photo: Reuters)

बैंकों पर भारतीय रिजर्व बैंक की सख्ती बरकरार है। इसी के तहत रिजर्व बैंक ने आईसीआईसीआई बैंक पर तीन करोड़ रुपये का जुर्माना लगाया है।

क्या है जुर्माने की वजह: रिजर्व बैंक ने एक बयान में कहा कि मास्टर सर्कुलर में दिये गये दिशानिर्देशों के उल्लंघन को लेकर आईसीआईसीआई बैंक पर तीन करोड़ रुपये का जुर्माना लगाया गया है। वहीं, आईसीआईसीआई बैंक ने स्टॉक एक्सचेंज में दायर सूचना में कहा कि मई 2017 में कुछ निवेशों को एचटीएम श्रेणी से एएफएस श्रेणी में डालने पर बैंकिंग नियमन अधिनियम, 1949 के कुछ प्रावधानों के तहत उसपर जुर्माना लगाया गया है।

बैंक ने शुरू की है ये सुविधा: आपको बता दें कि हाल ही में निजी क्षेत्र के आईसीआईसीआई बैंक ने वॉइस असिस्टेंस बेस्ड बैंकिंग सर्विसेज लॉन्च की है। इस नई सुविधा के तहत बैंक ग्राहक बैलेंस चेक, क्रेडिट कार्ड डिटेल्स समेत सवालों के जवाब सिर्फ एक आवाज से ले सकते हैं। ये सर्विस 24 घंटे, सातों दिन उपलब्ध रहेगी। (ये पढ़ें— कोरोना काल में एसबीआई की नई सुविधा)

इस सुविधा के लिए ICICI बैंक ग्राहकों को Alexa/Google Assistant डाउनलोड करना होगा और इन्हें अपने ICICI बैंक अकाउंट से लिंक करना होगा। इसके बाद आप वॉइस कमांड देकर अपने बैंक अकाउंट या कार्ड से जुड़ी सभी जानकारियां ले सकते हैं। बता दें कि बैंक ने ग्राहकों के लिए वॉट्सऐप चैट बेस्ड सर्विस ICICIStack भी दिया है। इसके तहत बैंक लगभग 500 सर्विसेज की पेशकश करता है। इसमें डिजिटल अकाउंट खोलने से लेकर लोन सॉल्युशंस, निवेश समेत अन्य जरूरी बैंकिंग सुविधा होती है।

एसबीआई ने किया ये ऐलान: देश के सबसे बड़े बैंक भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) ने कोरोना संक्रमण के खिलाफ लड़ाई में हाथ आगे बढ़ाते हुए 71 करोड़ रुपये आवंटित किए हैं। इस आवंटित रकम का इस्तेमाल कोरोना से सबसे अधिक राज्यों में एक हजार बिस्तरों का अस्पताल बनाने समेत अन्य सुविधा के लिए किया जाएगा।

बैंक की ओर से दी गई जानकारी के मुताबिक कुल आवंटित राशि में से 30 करोड़ रुपये अस्थायी अस्पताल के लिए दिए जाएंगे। इसके अलावा 21 करोड़ रुपये का आवंटन स्वास्थ्य उपकरणों की खरीद, अस्पतालों में ऑक्सीजन की आपूर्ति, कोविड देखभाल केंद्र, एम्बुलेंस, पीपीई किट और मास्क के साथ जरूरतमंद लोगों को भोजन समेत राहत सामग्री मुहैया कराने में किया जाएगा। ये पढ़ें— एसबीआई का अलर्ट, 31 मई तक करा लें ये काम

Next Stories
1 उदय कोटक ने बताया-कब तक बने रहेंगे पद पर, आनंद महिंद्रा की मदद से की थी बैंक की शुरुआत
2 शादी के लिए बिल गेट्स ने कर ली थी सभी हेलिकॉप्टर की बुकिंग, अब 27 साल बाद हुआ तलाक
3 IDBI बैंक को 5 साल बाद बड़ा मुनाफा, LIC से ये है कनेक्शन
यह पढ़ा क्या?
X