ताज़ा खबर
 

Reliance Jio ने अगस्त में जोड़े 84.45 लाख सब्सक्राइबर, Airtel ने गंवाए 5.61 लाख यूजर्स, वोडाफोन को भी बड़ा नुकसान

जियो के अलावा बीएसएनएल ही ऐसी कंपनी रही जो अक्टूबर 2018 के बाद से नये उपभोक्ताओं को जोड़ने में सफल हो रही थी, लेकिन अगस्त में इसके भी उपभोक्ताओं में कमी आयी।

Author October 18, 2019 8:30 PM
reliance jioरिलायंस जियो को बड़ा फायदा हुआ है।

भारतीय दूरसंचार नियामक प्राधिकरण (ट्राई) द्वारा शुक्रवार को जारी आंकड़ों के अनुसार, रिलायंस जियो अकेली ऐसी दूरसंचार कंपनी है जिसके ग्राहकों की संख्या में अगस्त में बढ़ी है। अन्य दूरसंचार कंपनियों भारती एयरटेल और वोडाफोन आइडिया के ग्राहक इस दौरान कम हुए हैं। आंकड़ों के मुताबिक जियो ने इस दौरान सर्वाधिक 84.45 लाख मोबाइल उपभोक्ता जोड़े।

ट्राई ने अगस्त 2019 के लिये जारी दूरसंचार ग्राहक रिपोर्ट में कहा, ‘‘देश में टेलीफोन कनेक्शन लेने वालों की संख्या जुलाई 2019 के अंत में 118.93 करोड़ थी, जो अगस्त 2019 के अंत तक बढ़कर 119.18 करोड़ पर पहुंच गयी।’’ कुल टेलीफोन उपयोगकर्ताओं में मोबाइल ग्राहकों की संख्या 117.1 करोड़ के साथ 98 प्रतिशत से अधिक रही।

रिपोर्ट में कहा गया, ‘‘कुल वायरलेस ग्राहक (जीएसएम, सीडीएमए और एलटीई) की संख्या आलोच्य माह में बढ़कर 117.1 करोड़ पर पहुंच गयी। एक महीने पहले यह संख्या 116.83 करोड़ थी।’’ इस दौरान वोडाफोन आइडिया को 49.56 लाख उपभोक्ताओं ने, भारती एयरटेल को 5.61 लाख ने, बीएसएनएल को 2.36 लाख, एमटीएनएल को 6,701 उपभोक्ताओं ने और रिलायंस कम्यूनिकेशंस को 63 उपभोक्ताओं ने छोड़ा।

जियो के अलावा बीएसएनएल ही ऐसी कंपनी रही जो अक्टूबर 2018 के बाद से नये उपभोक्ताओं को जोड़ने में सफल हो रही थी, लेकिन अगस्त में इसके भी उपभोक्ताओं में कमी आयी। अगस्त में 48.6 लाख उपभोक्ताओं ने मोबाइल नंबर पोर्ट किये। लैंडलाइन ग्राहकों की संख्या अगस्त में 1.5 लाख कम होकर 2.08 करोड़ पर आ गयी।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 7th Pay Commission: अब इस राज्य के कर्मचारियों को भी मिला दिवाली गिफ्ट, 6774 रुपये तक बढ़ जाएगी सैलरी
2 1 नवंबर से State Bank of India बचत खाते पर देगा कम ब्याज, की गई इतनी कटौती
3 RIL ने रचा इतिहास, 9 लाख करोड़ के मार्केट कैपिटल वाली पहली भारतीय कंपनी बनी
ये पढ़ा क्या?
X