ताज़ा खबर
 

Reliance की खुदरा इकाई ने अर्बन लैडर की 96% हिस्सेदारी 182 करोड़ रुपए में खरीदी

कंपनी ने कहा, ‘‘इस निवेश के जरिये समूह की डिजिटल और नव वाणिज्य पहल को प्रोत्साहन मिलेगा और साथ ही उपभोक्ताओं के लिए उत्पादों की पेशकश बढ़ेगी।’

Author Edited By Nishant Nandan November 15, 2020 6:15 PM
reliance, relinace industriesआरआरवीएल के पास अर्बन लैडर की शेष हिस्सेदारी खरीदने का भी विकल्प होगा।

रिलायंस इंडस्ट्रीज की खुदरा इकाई ने ऑनलाइन फर्नीचर कंपनी अर्बन लैडर की 96 प्रतिशत हिस्सेदारी का 182.12 करोड़ रुपये में अधिग्रहण किया है। रिलायंस इंडस्ट्रीज ने शनिवार देर रात शेयर बाजारों को भेजी सूचना में यह जानकारी दी। सूचना में कहा गया है, ‘‘रिलायंस रिटेल वेंचर्स लि. (आरआरवीएल) ने अर्बन लैडर होम डेकोर सॉल्यूशंस प्राइवेट लि. के इक्विटी शेयरों का 182.12 करोड़ रुपये में अधिग्रहण किया है।’’ इसके निवेश के जरिये उसने अर्बन लैडर की 96 प्रतिशत हिस्सेदारी का अधिग्रहण किया है।

कंपनी ने कहा, ‘‘इस निवेश के जरिये समूह की डिजिटल और नव वाणिज्य पहल को प्रोत्साहन मिलेगा और साथ ही उपभोक्ताओं के लिए उत्पादों की पेशकश बढ़ेगी।’’आरआरवीएल के पास अर्बन लैडर की शेष हिस्सेदारी खरीदने का भी विकल्प होगा, जिससे उसकी कुल हिस्सेदारी 100 प्रतिशत इक्विटी शेयर पूंजी हो जाएगी। इसके अलावा आरआरवीएल ने कंपनी में 75 करोड़ रुपये का और निवेश करने का प्रस्ताव किया है।

कंपनी ने कहा कि यह निवेश दिसंबर, 2023 तक पूरा हो जाएगा। अर्बन लैडर का भारत में गठन 17 फरवरी, 2012 को हुआ था। ऑनलाइन के अलावा कंपनी की उपस्थिति खुदरा स्टोर कारोबार में है।

कंपनी देश के विभिन्न शहरों में खुदरा स्टोरों की श्रृंखला का परिचालन करती है। वित्त वर्ष 2018-19 अर्बन लैडर का कारोबार 434 करोड़ रुपये रहा था। वित्त वर्ष के दौरान कंपनी ने 49.41 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ कमाया था।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 आयुर्वेद दिवस स्पेशल: कोरोना काल में 3 गुना बढ़ी च्यवनप्राश की मांग, हल्दी दूध और गिलोय भी खूब बिक रहे
2 पीएम किसान सम्मान निधि योजना की आने वाली है 7वीं किस्त, ऐसे लोगों को नहीं मिलेगा स्कीम का फायदा
3 दिवाली शॉपिंग के दौरान इन 6 बातों का रखें ध्यान, पैसों की न होगी तंगी, त्योहार की खुशियां भी होंगी डबल
ये पढ़ा क्या?
X