ताज़ा खबर
 

और भरा मुकेश अंबानी का खजाना, अब जनरल अटलांटिक ने किया रिलायंस रिटेल में 3,675 करोड़ के निवेश का ऐलान

सौदे में रिलायंस रिटेल की प्री-मनी इक्विटी को 4.285 लाख करोड़ रूपय आंका गया। साल की शुरुआत में जनरल अटलांटिक ने जियो प्लेटफॉर्म्स में 6,598.38 करोड़ का निवेश किया था।

Author Edited By सूर्य प्रकाश नई दिल्ली | Updated: September 30, 2020 10:50 AM
mukesh ambaniरिलायंस इंडस्ट्रीज के मुखिया मुकेश अंबानी

रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अंबानी जियो के बाद रिटेल कारोबार के लिए बड़ा निवेश जुटाने में लगे हैं। इसी कड़ी में अब ग्लोबल इन्वेस्टमेंट फर्म जनरल अटलांटिक ने रिलायंस रिटेल में 3,675 करोड़ रूपय का निवेश करने का ऐलान किया है। जनरल अटलांटिक यह निवेश 0.84% हिस्सेदारी के एवज में करेगी। यह रिलायंस रिटेल में तीसरा बड़ा निवेश है। बुधवार को रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड और रिलायंस रिटेल वेंचर्स लिमिटेड (आरआरवीएल) ने इस निवेश की घोषणा की। सौदे में रिलायंस रिटेल की प्री-मनी इक्विटी को 4.285 लाख करोड़ रूपय आंका गया। साल की शुरुआत में जनरल अटलांटिक ने जियो प्लेटफॉर्म्स में 6,598.38 करोड़ का निवेश किया था।

यह जनरल अटलांटिक का रिलायंस इंडस्ट्रीज की एक सहायक कंपनी में दूसरा निवेश है। रिलायंस रिटेल लिमिटेड के देश भर मे फैले 12 हजार से ज्यादा स्टोर्स में सालाना करीब 64 करोड़ खरीददार आते हैं। यह भारत का सबसे बड़ा और सबसे तेजी से विकसित होने वाला रिटेल बिजनेस है। रिलायंस रिटेल के पास देश के सबसे लाभदायक रिटेल बिजनेस तमगा भी है। कंपनी खुदरा वैश्विक और घरेलू कंपनियों, छोटे उद्योगों, खुदरा व्यापारियों और किसानों का एक ऐसा तंत्र विकसित करना चाहती है, जिससे उपभोक्ताओं को किफायती मूल्य पर सेवा प्रदान की जा सके और लाखों रोजगार पैदा किए जा सकें।

रिलायंस रिटेल ने अपनी नई वाणिज्य रणनीति के तहत छोटे और असंगठित व्यापारियों का डिजिटलीकरण शुरू किया है। कंपनी का लक्ष्य 2 करोड़ व्यापारियों को इस नेटवर्क से जोड़ना है। यह नेटवर्क व्यापारियों को बेहतर टेक्नॉलोजी के साथ ग्राहकों को बेहतर मूल्य पर सेवाएं देने में सक्षम बनाएगा। रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन और प्रबंध निदेशक मुकेश अंबानी ने कहा, ‘मैं प्रसन्न हूं कि जनरल अटलांटिक के साथ हमारे संबंध और मजबूत हुए हैं। हम व्यापारियों और उपभोक्ताओं को सशक्त बनाने और अंततः भारतीय रिटेल की तस्वीर बदलने के लिए काम कर रहे हैं।’

मुकेश अंबानी ने कहा कि रिलायंस रिटेल की तरह ही जनरल अटलांटिक भी प्रगति और विकास के लिए डिजिटल क्षमता में विश्वास करती है। जनरल अटलांटिक की विशेषज्ञता और भारत में निवेश के दो दशकों के उसके अनुभव का लाभ उठाने के लिए हम तत्पर हैं। हम देश में रिटेल की सूरत बदलने के लिए नया कॉमर्स प्लेटफार्म विकसित कर रहे हैं।

ईशा अंबानी ने किया निवेश का स्वागत: जनरल अटलांटिक के निवेश का स्वागत करते हुए ईशा अंबानी ने कहा, ‘एक महत्वपूर्ण भागीदार के रूप जनरल अटलांटिक का स्वागत करते हुए हमें बेहद खुशी हो रही है। सभी भारतीय उपभोक्ताओं और व्यापारियों के हित में हम भारतीय रिटेल ईको-सिस्टम का विकास जारी रखेंगे। रिटेल स्पेस में जनरल अटलांटिक के पास जबरदस्त विशेषज्ञता है और इससे हमें लाभ की उम्मीद है।’ बता दें कि ईशा अंबानी रिलायंस रिटेल में निदेशक के तौर पर जिम्मेदारी संभालती हैं।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 सरकारी नौकरियों में बड़ी गिरावट, केंद्र ने बीते साल के मुकाबले कीं सिर्फ 50 पर्सेंट भर्तियां, राज्यों में भी बुरा हाल
2 एलआईसी में 25 पर्सेंट हिस्सेदारी बेचने के लिए कानून बदलने की तैयारी में मोदी सरकार, जानें- क्या है पूरा प्लान
3 एमनेस्टी के भारत छोड़ने से 150 नौकरियों पर भी संकट, जानें- परेशान करने के आरोपों पर क्या बोली सरकार
यह पढ़ा क्या?
X