ताज़ा खबर
 

मुकेश अंबानी ने बताया भारत की ग्रोथ का आइडिया, जानिए- क्या है देश के सबसे अमीर शख्स की सलाह

मुकेश अंबानी ने कहा कि हम भारत को एक डिजिटल सोसायटी बनाना चाहते हैं। भारत के एजुकेशन सिस्टम को पूरी तरह ट्रांसफॉर्म करना चाहते हैं और एनर्जी सेक्टर में भी बदलाव चाहते हैं ताकि फॉसिल फ्यूल पर निर्भरता कम हो सके।

mukesh ambaniरिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अंबानी

भारत की दिग्गज कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अंबानी का कहना है कि भारत को अपने विकास को गति देने के लिए मैन्युफैक्चरिंग सेक्टर के बारे में नए सिरे से सोचने की जरूरत है और उसे दोबारा परिभाषित करना चाहिए। मुकेश अंबानी ने कहा कि भारत को अपने मैन्युफैक्चरिंग सेक्टर को रिडिफाइन करने और पुनर्विचार करने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि हमें अपने लघु एवं मध्यम उद्योगों को मजबूत करने की जरूरत है। रिलायंस के मुखिया मुकेश अंबानी ने एक ऑनलाइन लॉन्च इवेंट के दौरान यह बात कही।

अंबानी ने कहा कि हमें मैन्युफैक्चरिंग सेक्टर को गति देने के लिए क्लिक्स के साथ ही ब्रिक्स पर भी ध्यान दिए जाने की जरूरत है। ‘आत्मनिर्भर भारत’ अभियान के बीच मुकेश अंबानी की यह टिप्पणी खासा मायने रखती है। बता दें कि पीएम नरेंद्र मोदी भी लगातार मैन्युफैक्चरिंग सेक्टर को मजबूत करने की बात कर रहे हैं। पीएम मोदी ने आत्मनिर्भर भारत अभियान की लॉन्चिंग के दौरान कहा था कि देश के लघु एवं मध्यम उद्योगों का विकास जरूरी है। ऐसे में साफ है कि मुकेश अंबानी की राय भी काफी हद तक पीएम नरेंद्र मोदी से मिलती-जुलती है।

भविष्य के लिए आखिर मुकेश अंबानी क्या विरासत छोड़ना चाहते हैं? इसके जवाब में मुकेश अंबानी ने कहा कि हम भारत को एक डिजिटल सोसायटी बनाना चाहते हैं। भारत के एजुकेशन सिस्टम को पूरी तरह ट्रांसफॉर्म करना चाहते हैं और एनर्जी सेक्टर में भी बदलाव चाहते हैं ताकि फॉसिल फ्यूल पर निर्भरता कम हो सके।

गौरतलब है कि पिछले ही दिनों मुकेश अंबानी ने कहा था कि रिलायंस जियो भारत को चौथी औद्योगिक क्रांति का अग्रणी बनने में मदद कर सकता है। मुकेश अंबानी ने कहा था कि भले ही तीन औद्योगिक क्रांतियों में भारत में पिछड़ गया हो, लेकिन अब आईटी सेक्टर, हाईस्पीड इंटरनेट केनेक्टिविटी और अफोर्डेबल स्मार्ट डिवाइसेज के जरिए उसके पास यह मौका है। देश के सबसे अमीर शख्स ने कहा कि उनकी कंपनी रिलायंस जियो में वे तत्व हैं, जिनके जरिए औद्योगिक क्रांति की अगुवाई की जा सकती है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 खत्म नहीं हुई रिटेल किंग किशोर बियानी की पारी! भतीजे के जरिए फिर रिटेल सेक्टर में कर सकते हैं वापसी
2 पीएम किसान योजना के लाभार्थियों का एक फॉर्म भरते ही बनेगा किसान क्रेडिट कार्ड, दो बीमा योजनाओं का फायदा भी
3 देश भर में घटी बेरोजगारी, पर इन राज्यों में अब भी 22 पर्सेंट तक है बेरोजगारी की दर, बिहार में भी 11 पर्सेंट लोगों पर काम नहीं
ये पढ़ा क्या?
X