ताज़ा खबर
 

Anil Ambani को हर महीने साढ़े चार सौ करोड़ रुपये का घाटा, छह महीनों में 73% घट गई संपत्ति, अब रह गई सिर्फ 970 करोड़!

अनिल अंबानी की कुल संपत्ति जो कि 11 जून को 3,651 करोड़ रुपए थी वह अब घटकर 970.10 करोड़ रुपए ही रह गई है।

उद्योगपति अनिल अंबानी। (रॉयटर्स)

बुरे दौर से गुजर रहे रिलायंस कम्युनिकेशंस के चेयरमैन अनिल अंबानी की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही है। बीते छह महीनों में उनकी संपत्ति 73 प्रतिशत घट गई है। रिलायंस समूह की कंपनियों की कुल मार्केट वेल्यू बीते 6 महीनों में 7,500 करोड़ रुपये से घटकर 2,400 करोड़ रुपये हो गई है। वहीं अनिल अंबानी की कुल संपत्ति जो कि 11 जून को 3,651 करोड़ रुपए थी वह अब घटकर 970.10 करोड़ रुपये ही रह गई है।

बिजनेस स्टैंडर्स में छपी खबर के मुताबिक अगर इन सब आंकड़ों की 2008 से तुलना करें तो यह अंतर कहीं गुणा बढ़ जाता जब अनिल अंबानी और उनकी कंपनियों का कामकाज चरम पर था। आंकड़ों से साफ है कि अंबानी को प्रति माह कुल 446.83 करोड़ रुपये का घाटा हो रहा है।

सबसे ज्यादा हैरान करने वाला आंकड़ा गिरवी शेयर से जुड़ा हुआ है। अगर अंबानी के गिरवी रखे गए शेयरों को अलग रख दें तो उनकी कुल संपत्ति 144.60 करोड़ रुपये पहुंचती है। 2018-19 के दौरान दिग्गज कंपनियों के सीईओ एएम नाइक (अध्यक्ष, एलएंडटी) और सीपी गुरनानी (एमडी, टेक महिंद्रा) को इतने ही अमाउंट की होम सैलरी और अन्य सुविधाएं मिलती थीं।

अनिल अंबानी की रिलायंस ग्रुप की कंपनियों की कुल मार्केट वेल्यू 2,361 करोड़ रुपये है जो कि 2008 में चार लाख करोड़ रुपए थी। उनकी पांच लिस्टड कंपनियों का MCap 11 जून को 7,539 करोड़ रुपये था। प्रमोटरों और प्रमोटर कंपनियों के शेयरों के मूल्य को अंबानी की कुल संपत्ति के रूप में गिना जाता है।

वर्तमान में, ग्रुप की पांच कंपनियां स्टॉक एक्सचेंजों में सूचीबद्ध हैं इनमें रिलायंस इन्फ्रास्ट्रक्चर, रिलायंस पावर, रिलायंस कैपिटल, रिलायंस नेवल एंड इंजीनियरिंग और रिलायंस फाइनेंस शामिल है। अनिल अंबानी की किसी भी कंपनी का MCap 1,000 करोड़ रुपये से ज्यादा नहीं है।

व्यापार में मंदी और भारी कर्ज तले दबे अनिल अंबानी ने अब अपने खर्चों में कटौती करनी शुरू कर दी है। इसी दिशा में हाल ही में एक बड़ा कदम उठाते हुए उन्होंने अपना एक लग्जरी विमान किराए पर देने की योजना बनाई है। अंबानी की रिलायंस ट्रांसपोर्ट एंड ट्रेवल्स ने अपने तीन बिजनेस जेट्स में से एक 13 सीट वीले ग्लोबल-5000 को बेंगलुरु में एक वैश्विक चार्टर कंपनी को किराए पर देने के लिए रिलीज किया है।

Next Stories
1 ‘5-6 साल पहले संकट में थी अर्थव्यवस्था, हमने किया सुधार’, CAA पर हंगामे के बीच बोले पीएम मोदी
2 लगातार चौथे दिन शेयर बाजार ने लगाई छलांग, ऐतिहासिक 41,800 से ऊपर पहुंचा सेंसेक्स
3 नए साल में रसोईघर का बजट और बिगाड़ेगी महंगाई
ये पढ़ा क्या?
X