ताज़ा खबर
 

अनिल अंबानी ने बड़े भाई के खिलाफ छेड़ी थी जंग, संकट के दौर में मुकेश अंबानी से यूं मिल रही मदद

रिलायंस ग्रुप के मालिक अनिल अंबानी पर कर्ज का ऐसा बोझ है कि उन्हें साल 2019 में जेल जाने की भी नौबत आ गई थी।

Jio अनिल अंबानी के रिलायंस इंफ्राटेल की संपत्ति का अधिग्रहण कर रही है।

देश के सबसे बड़े कारोबारी की बात होती है तो मुकेश अंबानी का नाम सबसे पहले आता है। दौलत के मामले में मुकेश अंबानी दुनिया के टॉप 10 अमीरों में शुमार हैं। इसके उलट, मुकेश अंबानी के छोटे भाई अनिल कर्ज के जंजाल में फंसे हुए हैं।

जेल जाने की आ गई थी नौबत: रिलायंस ग्रुप के मालिक अनिल अंबानी पर कर्ज का ऐसा बोझ है कि उन्हें साल 2019 में जेल जाने की भी नौबत आ गई थी। दरअसल, अनिल अंबानी को स्वीडन की कंपनी का बकाया देना था लेकिन वह समय रहते इसका इंतजाम नहीं कर पाए। हालांकि, इस हालात से निकालने में अनिल अंबानी के बड़े भाई मुकेश अंबानी ने मदद की थी।

उन्होंने बकाया चुका कर अनिल अंबानी को जेल जाने से बचाया। इसके बाद अनिल अंबानी ने मुकेश अंबानी और नीता अंबानी को शुक्रिया भी कहा। अब मुकेश अंबानी की कंपनी रिलायंस जियो अनिल अंबानी के रिलायंस इंफ्राटेल की संपत्ति का अधिग्रहण कर रही है।

रिलायंस इंफ्राटेल को इससे 4,400 करोड़ रुपये मिले हैं। इसी से अनिल अंबानी अपने देनदारों को भुगतान करने वाले हैं। कर्जदाताओं को इसमें से 3515 करोड़ रुपये प्राप्त हो सकते हैं।

दोनों भाइयों के बीच चला है लंबा विवाद: आपको बता दें कि धीरू भाई अंबानी की मौत के बाद उनके दोनों बेटे यानी मुकेश और अनिल अंबानी के बीच संपत्ति का बंटवारा हुआ था। इस बंटवारे के बाद अनिल अंबानी ने अपने भाई मुकेश अंबानी पर 10 हज़ार करोड़ की मानहानि का मुक़दमा भी दर्ज कराया था।

बीबीसी की एक रिपोर्ट के मुताबिक मुकेश अंबानी ने न्यूयॉर्क टाइम्स को इंटरव्यू दिया था। इस इंटरव्यू में उन्होंने अनिल अंबानी पर जासूस की एक टीम लगाने का आरोप लगाया था। इसी इंटरव्यू के बाद अनिल अंबानी ने मानहानि का मुक़दमा दर्ज कराया था।

Next Stories
1 EPFO ने लिया ये बड़ा फैसला, होली से पहले करीब 6 करोड़ लोगों को मिली राहत
2 7th pay commission: कर्मचारियों की सैलरी के लिए 17 हजार करोड़ रुपये खर्च, पेंशन के लिए इतनी होगी रकम
3 देश के सबसे बड़े दानवीर का दांव, लंदन की इस कंपनी को खरीदने का किया ऐलान
ये पढ़ा क्या?
X