ताज़ा खबर
 

सोने को गिरवी रखकर लिया जा सकेगा 90 पर्सेंट तक लोन, आरबीआई ने बढ़ाई लिमिट, रेपो रेट में कटौती नहीं

भारतीय रिजर्व बैंक ने रेपो रेट में कोई भी बदलाव न करने का फैसला लिया है। फिलहाल आरबीआई ने रेपो रेट 4 पर्सेंट ही बनाए रखने की बात कही है। इसके अलावा रिवर्स रेपो रेट भी 3.3 पर्सेंट पर ही बना रहेगा।

Author Edited By सूर्य प्रकाश नई दिल्ली | Updated: Aug 06, 2020 6:00:24 pm
shaktikant dasमीडिया से बात करते आरबीआई गवर्नर शक्तिकांत दास

भारतीय रिजर्व बैंक ने रेपो रेट में कोई भी बदलाव न करने का फैसला लिया है। फिलहाल आरबीआई ने रेपो रेट 4 पर्सेंट ही बनाए रखने की बात कही है। इसके अलावा रिवर्स रेपो रेट भी 3.3 पर्सेंट पर ही बना रहेगा। इसके चलते लोन किस्तों में कमी आने की उम्मीद कर रहे कर्जधारकों को झटका लगा है। यही नहीं 6 महीने के लिए दिए गए लोन मोराटोरियम के विस्तार को लेकर भी आरबीआई गवर्नर ने कुछ नहीं कहा है। लोन मोराटोरियम की अवधि 31 अगस्त को समाप्त हो रही है। इसके अलावा आरबीआई ने सोने के एवज में लोन की लिमिट को 90 पर्सेंट तक करने का फैसला लिया है। अब तक सोने की कीमत के 75 फीसदी के बराबर ही कर्ज मिल सकता था।

आरबीआई के गवर्नर शक्तिकांत दास ने कहा कि मौजूदा वित्त वर्ष की पहली छमाही में जीडीपी ग्रोथ के निगेटिव जोन में ही बने रहने का अनुमान है। इसके अलावा पूरे वित्त वर्ष में ही यह स्थिति देखने को मिल सकती है। आरबीआई गवर्नर ने कहा कि वैश्विक अर्थव्यवस्था अब भी कमजोर है। लेकिन विदेशी मुद्रा भंडार में बढ़त का सिलसिला जारी है। उन्होंने कहा कि भारत में आर्थिक सुधार शुरू हो गया है। खुदरा महंगाई दर नियंत्रण में है। कोरोना वायरस की वजह से इस साल की पहली छमाही में महंगाई दर में वृद्धि की उम्मीद है। हालांकि, दूसरी छमाही में इसमें कमी आने की संभावना है।

शक्तिकांत दास ने कहा कि मौद्रिक नीतियों को लेकर आक्रामक रुख तब तक जारी रहेगा, जब तक इसकी जरूरत होगी। शक्तिकांत दास ने कहा कि हम ग्रोथ में तेजी लाने के लिए भरपूर प्रयास कर रहे हैं। हमारी कोशिश है कि कोरोना के असर के असर को कम से कम किया जाए। इसके अलावा हमारी नजर महंगाई दर पर भी है। रिजर्व बैंक ने 4 फीसदी का लक्ष्य प्लस-माइनस 2 पर्सेंट का लक्ष्य रखा है। मतलब मैक्सिमम 6 पर्सेंट और मिनिमम 2 पर्सेंट।

Live Blog

Highlights

    17:13 (IST)06 Aug 2020
    सोने को गिरवी रखकर ले सकते हैं 90 पर्सेंट तक लोन

    सोने के गहनों को गिरवी रखकर अब उनके मूल्य का 90 पर्सेंट तक कर्ज लिया जा सकेगा। रिजर्व बैंक ने लिमिट को 75 फीसदी से बढ़ाकर 90 पर्सेंट करने का फैसला लिया है।

    14:24 (IST)06 Aug 2020
    एसबीआई चेयरमैन बोले, आरबीआई ने हर मसले पर किया फोकस

    मौद्रिक नीति को लेकर भारतीय स्टेट बैंक के चेयरमैन रजनीश कुमार ने कहा कि आरबीआई ने सभी मसलों पर फोकस किया है। केंद्रीय बैंक और सरकार वित्तीय सिस्टम को मजबूत करने के लिए सभी तरह के जरूरी प्रयास कर रहे हैं।

    12:57 (IST)06 Aug 2020
    ग्रामीण क्षेत्र में नकदी बढ़ाने के लिए नाबार्ड जारी करेगा 10,000 करोड़ रुपये

    आरबीआई गवर्नर दास ने कहा कि एनएचबी, नाबार्ड द्वारा 10,000 करोड़ रुपये की अतिरिक्त नकदी सुविधा मुहैया कराई जाएगी।

    12:55 (IST)06 Aug 2020
    आरबीआई गवर्नर ने माना, सप्लाई में समस्या से बढ़ी महंगाई

    आरबीआई गवर्नर शक्तिकांत दास ने माना है किआपूर्ति श्रृंखला में बाधाएं बरकरार हैं, जिससे विभिन्न क्षेत्रों में महंगाई का दबाव बना हुआ है।

    12:54 (IST)06 Aug 2020
    कोरोना केसों से फिर कमजोर हुई इकॉनमी की रफ्तार

    वैश्विक आर्थिक गतिविधियां कमजोर बनी हुई है, कोविड-19 मामलों में उछाल ने पुनरुद्धार के शुरुआती संकेतों को कमजोर किया है: आरबीआई गवर्नर

    12:53 (IST)06 Aug 2020
    MSME को लोन स्ट्रक्चरिंग पर मिलेगी राहत

    आरबीआई गवर्नर ने कहा कि दबाव झेल रहे एमएसएमई कर्जदारों का ऋण खाता यदि मानक श्रेणी में है तो वह भी कर्ज के पुनर्गठन के पात्र होंगे।

    12:51 (IST)06 Aug 2020
    सोने के एवज में मिलेगा 90 पर्सेंट तक लोन

    परिवारों पर कोविड- 19 के प्रभाव को कम करने के लिये उन्हें अब सोने के एवज में मूल्य का 90 प्रतिशत तक कर्ज दिया जायेगा, वर्तमान में यह 75 प्रतिशत तक दिया जा रहा है।- शक्तिकांत दास, आरबीआई गवर्नर

    12:49 (IST)06 Aug 2020
    आरबीआई ने बैंकों और कर्जधारकों को दी बड़ी राहत: बैंकर

    इंडियन ओवरसीज बैंक के सीईओ पार्थ प्रतिम सेनगुप्ता ने कहा कि आरबीआई ने बैंकर्स से लेकर कर्जधारकों तक की उम्मीदों को अपनी नीतियों से राहत देने की कोशिश की है। आरबीआई ने यह स्पष्ट किया है कि यदि भविष्य में महंगाई में कमी आती है तो इंटरेस्ट रेट में कमी की जा सकती है।

    12:43 (IST)06 Aug 2020
    महंगाई दर बढ़ने के चलते नहीं लिया रेट का फैसला: एक्सपर्ट्स

    आर्थिक जानकारों के मुताबिक मंदी के दौर में भी महंगाई दर अधिक होने के चलते आरबीआई ने रेट कट न करने का फैसला लिया है। हालांकि अक्टूबर में इसे लेकर केंद्रीय बैंक विचार कर सकता है।

    12:40 (IST)06 Aug 2020
    आरबीआई गवर्नर ने भविष्य में रेट कट के दिए संकेत

    शक्तिकांत दास ने कहा कि मौद्रिक नीतियों को लेकर आक्रामक रुख तब तक जारी रहेगा, जब तक इसकी जरूरत होगी। शक्तिकांत दास ने कहा कि हम ग्रोथ में तेजी लाने के लिए भरपूर प्रयास कर रहे हैं। हमारी कोशिश है कि कोरोना के असर के असर को कम से कम किया जाए।

    12:39 (IST)06 Aug 2020
    वैश्विक अर्थव्यवस्था अब भी कमजोर हालात में: शक्तिकांत दास

    आरबीआई गवर्नर ने कहा कि वैश्विक अर्थव्यवस्था अब भी कमजोर है। लेकिन विदेशी मुद्रा भंडार में बढ़त का सिलसिला जारी है। उन्होंने कहा कि भारत में आर्थिक सुधार शुरू हो गया है। खुदरा महंगाई दर नियंत्रण में है। कोरोना वायरस की वजह से इस साल की पहली छमाही में महंगाई दर में वृद्धि की उम्मीद है। हालांकि, दूसरी छमाही में इसमें कमी आने की संभावना है।

    12:38 (IST)06 Aug 2020
    रिवर्स रेपो रेट भी 3.3 पर्सेंट बना रहेगा

    केंद्रीय बैंक ने रिवर्स रेपो रेट भी 3.3 पर्सेंट पर ही बना रहेगा। आरबीआई के गवर्नर शक्तिकांत दास ने कहा कि मौजूदा वित्त वर्ष की पहली छमाही में जीडीपी ग्रोथ के निगेटिव जोन में ही बने रहने का अनुमान है। इसके अलावा पूरे वित्त वर्ष में ही यह स्थिति देखने को मिल सकती है।

    12:38 (IST)06 Aug 2020
    रेपो रेट में आरबीआई ने नहीं किया चेंज

    भारतीय रिजर्व बैंक ने रेपो रेट में कोई भी बदलाव न करने का फैसला लिया है। फिलहाल आरबीआई ने रेपो रेट 4 पर्सेंट ही बनाए रखने की बात कही है।

    Next Stories
    1 सिर्फ 20,000 रुपये में शुरू हुई थी हॉकिन्स कुकर, जानें- क्यों भारतीय कंपनी ने अपनाया विदेशी नाम
    2 गिरवी रखे शेयर, हजारों करोड़ का लोन, जानें- कैसे संकट में घिरते गए बिग बाजार वाले किशोर बियानी
    3 खाते में नहीं पहुंची पीएम किसान योजना की छठी किस्त? इन हेल्पलाइन नंबरों पर कॉल कर जानें स्टेटस
    ये पढ़ा क्या?
    X