ताज़ा खबर
 

मौद्रिक समीक्षा में ब्याज दरों में बदलाव नहीं करेगा रिजर्व बैंक: यूबीएस

यूबीएस का अनुमान है कि रिजर्व बैंक अगस्त की मौद्रिक समीक्षा में मुद्रास्फीति के लक्ष्य को ऊंचा करेगा।

Author नई दिल्ली | August 5, 2016 6:57 PM
रिज़र्व बैंक ऑफ इंडिया।

भारतीय अर्थव्यवस्था की वृद्धि दर चालू वित्त वर्ष में 7.4 प्रतिशत रहेगी और नीतिगत मोर्चे पर रिजर्व बैंक 9 अगस्त की मौद्रिम समीक्षा में ब्याज दरों में संभवत: कोई बदलाव नहीं करेगा। यूबीएस की एक रिपोर्ट में यह राय जताई गई है। स्विट्जरलैंड की वित्तीय सेवा क्षेत्र की कंपनी के अनुसार 2016-17 में वास्तविक सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) की वृद्धि दर करीब 7.4 प्रतिशत रहेगी। 2015-16 में यह 7.6 प्रतिशत रही थी। रिपोर्ट में कहा गया है कि बही खाते को दुरच्च्स्त करने के अवस्फीतिक प्रभाव से निराशाजनक आर्थिक गतिविधियां अधिक टिकाउच्च् मार्ग की ओर अग्रसर हैं, वहीं बाहरी दबाव से अर्थव्यवस्था प्रभावित होगी। अधिक सकारात्मक बात यह है कि मजबूत बही खाते से 2017-18 में वृद्धि में सुधार होगा।

नीतिगत मोर्चे पर रिपोर्ट में कहा गया है कि रिजर्व बैंक को मई और जून के उपभोक्ता मूल्य सूचकांक आधारित मुद्रास्फीति के आंकड़ों को देखना होगा और सातवें वेतन आयोग के आंशिक क्रियान्वयन पर भी ध्यान देना होगा। इसी के अनुरूप यूबीएस का अनुमान है कि रिजर्व बैंक अगस्त की मौद्रिक समीक्षा में मुद्रास्फीति के लक्ष्य को ऊंचा करेगा। मौद्रिक नीति समीक्षा बैठक 9 अगस्त को होनी है। यूबीएस का अनुमान है कि 2017-18 के लिए मुद्रास्फीति का अनुमान 4.5 प्रतिशत किया जाएगा, जबकि पहले इसके 4.2 प्रतिशत रहने का अनुमान लगाया गया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App