ताज़ा खबर
 

भारत-चीन युद्ध की वजह से नहीं हो पाई थी रतन टाटा की शादी, चार बार विवाह के करीब पहुंचे थे

Ratan Tata Marriage: रतन टाटा ने फेसबुक पेज Humans of Bombay पर बातचीत में बताया था कि वह अपने जीवन में चार बार शादी तक पहुंचे लेकिन विभिन्न कारणों से विफल रहे। अंतिम बार विफल रहने के रतन टाटा ने आजीवन कुंवारा रहने का फैसला किया।

यूएस की नौकरी छोड़ इस वजह से भारत लौट आए थे रतन टाटा (फोटो क्रेडिट- फाइनेंशियल एक्सप्रेस)

रतन टाटा अपने समय में देश के सबसे सफल कारोबारियों में शुमार रहे हैं। उनका नाता देश के सबसे बड़े कारोबारी घराने से रहा है। माना जाता है कि सफल लोगों को शादी करने के लिए कोई भी लड़की मना नहीं कर पाती है। इसके बावजूद रतन टाटा की शादी नहीं हो पाई। इसके पीछे भी दिलचस्प किस्सा है।

वैसे तो रतन टाटा का पूरा जीवन दिलचस्प किस्सों से भरा पड़ा है। इसमें शादी ना करने का किस्सा भी है। आज हम आपको इसी किस्से के बारे में बताने जा रहे हैं। यह किस्सा रतन टाटा ने पिछले साल खुद बताया था। फेसबुक पेज Humans of Bombay पर रतन टाटा ने अपने बचपन, प्यार, रिलेशनशिप और शादी के बारे में खुलकर बात की। रतन टाटा ने बताया था कि एक बार वे एक बार शादी करने के काफी करीब पहुंच गए थे, लेकिन कई कारणों से यह शादी नहीं हो पाई।

भारत-चीन युद्ध भी रहा बड़ा कारण: रतन टाटा ने बताया कि कॉलेज की पढ़ाई पूरी होने के बाद वे अमेरिका के लॉस एंजिल्स में एक आर्किटेक्ट फर्म में काम करने लगे। इस दौरान उनको अपने साथ काम करने वाली लड़की से प्यार हो गया। वह शादी करने ही वाले थे कि उनको अपनी दादी की याद आने लगी। वह अपनी दादी से 7 साल से नहीं मिले थे और उनसे मिलने के लिए भारत लौट आए। उस समय भारत और चीन के बीच युद्ध चल रहा था। दादी से मिलने के बाद रतन टाटा अमेरिका गए और लड़की के घरवालों से भारत चलकर शादी करने की बात कही। लेकिन चीन के साथ युद्ध की वजह से लड़की के घरवालों ने भारत आने और शादी दोनों से इनकार कर दिया।

चार बार शादी के मुकाम तक पहुंचे रतन टाटा: 2011 में एक बातचीत में रतन टाटा ने बताया कि वे अपने जीवन में चार बार शादी के मुकाम तक पहुंचे। लेकिन हर बार किसी ना किसी कारण से उनकी शादी नहीं हो पाई। चौथी बार उन्हें लॉस एंजिल्स की एक लड़की से प्यार हुआ। लेकिन यह शादी भी नहीं हो पाई। इसके बाद रतन टाटा ने आजीवन कुंवारा रहने का फैसला किया।

बचपन में ही हो गया था माता-पिता का तलाक: फेसबुक पेज Humans of Bombay पर बातचीत में रतन टाटा ने बताया कि 1948 में उनके माता-पिता का तलाक हो गया था। उस समय उनकी उम्र केवल 10 साल की थी। उस जमाने में तलाक सामान्य घटना नहीं थी। इस कारण उन्हें बचपन में काफी शर्मिंदगी झेलनी पड़ी। लेकिन उनकी दादी ने काफी सहारा दिया और हर तरीके से उनकी मदद की। इसके बाद जब उनकी मां ने दूसरी शादी की तो स्कूल के लड़के रतन टाटा को काफी चिढ़ाते थे।

Next Stories
1 टाटा ग्रुप दे रहा सिर्फ 10 हजार रुपए में पार्टनर बनने का मौका, हर महीने कर सकते हैं हजारों रुपए की कमाई
2 आंगनवाड़ी, आशा और मनरेगा मजदूरों का बढ़ सकता है मानदेय, सरकार उठाने जा रही है बड़ा कदम
3 नौकरियों की बहार: इस साल 1.50 लाख से ज्यादा फ्रेशर्स को नौकरी देंगी आईटी कंपनियां, इसमें रतन टाटा की टीसीएस भी शामिल
ये पढ़ा क्या?
X