ताज़ा खबर
 

रतन टाटा के बाद इस निवेशक ने भी नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में जताया भरोसा, बोले-शानदार काम कर रहे हैं

इससे पहले बिजनेसमैन रतन टाटा ने पीएम मोदी के न्यू इंडिया मिशन पर विश्वास जताया था और कहा था उनमें 'न्यू इंडिया' डिलीवर करने की क्षमता है।

वाराणसी से सटे शहंशाहपुर में एक शौचालय निर्माण के लिए श्रमदान करते हुए पीएम नरेन्द्र मोदी। (फोटो-पीटीआई)

टाटा समूह के मानद चेयरमैन रतन टाटा द्वारा पीएम नरेन्द्र मोदी में भरोसा जताने के बाद दुनिया के एक जाने निवेशक ने भी पीएम मोदी की नेतृत्व क्षमता में विश्वास जताया है। दुनिया उभरते हुए बाजार में निवेश करने वाले इंवेस्टर मार्क मोबिस ने कहा है कि चुनौतियों के बावजूद पीएम मोदी बेहतरीन प्रदर्शन कर रहे हैं। हाल ही में ब्लूमबर्ग को दिये एक इंटरव्यू में मार्क मोबिस ने कहा, ‘मैं समझता हूं कि वह (नरेन्द्र मोदी) कई चुनौतियों और विषमताओं के बावजूद शानदार काम कर रहे हैं।’ मार्क मोबिस ने कहा, ‘ इसे स्वीकार कीजिए, ये आसान नहीं है, आपके पास इतने सारे राज्य हैं, उतनी ही विधानसभाएं हैं, जो कि कई चीजों पर एक राय नहीं रखती है।’ जीएसटी के बारे में उन्होंने कहा कि इस टैक्स रिफॉर्म को कर पाना ही बड़ी बात थी।’ बता दें कि इससे पहले बिजनेसमैन रतन टाटा ने पीएम मोदी के न्यू इंडिया मिशन पर विश्वास जताया था और कहा था उनमें ‘न्यू इंडिया’ डिलीवर करने की क्षमता है।

HOT DEALS
  • Honor 7X Blue 64GB memory
    ₹ 16699 MRP ₹ 16999 -2%
    ₹0 Cashback
  • Honor 9 Lite 64GB Glacier Grey
    ₹ 13989 MRP ₹ 16999 -18%
    ₹2000 Cashback

भारत के बारे में टेम्पटन इमर्जिंग मार्केट ग्रुप के एग्जीक्यूटिव चेयरमैन मार्क मोबिस ने कहा कि भारत को सरकारी कंपनियों के निजीकरण पर विचार करना चाहिए। उन्होंने कहा कि भारत में कंज्यूमर बाजार में अपार संभावनाएं हैं। उन्होंने कहा, ‘कंज्यूमर मार्केट भारत की सबसे बड़ी ताकत बनेगा, भारत में इंटरनेट के क्षेत्र में जो हो रहा है उसकी वजह से 400 से 500 मिलियन लोगों के पास 4जी पहुंचेगा। इससे हर क्षेत्र में विस्तार होगा।’ इस साल जून में इस मार्केट एक्सपर्ट ने कहा था कि भारत को ना सिर्फ विदेशियों के लिए बल्कि देशी पूंजी निवेशकों के लिए पूंजी निवेश की प्रक्रिया को आसान बनाना चाहिए। उन्होंने कहा, ‘भारत में सरकारी बाधाएं और लालफीताशाही आज भी बरकरार है, इसे दूर किये जाने की जरूरत है। हालांकि प्रशासनिक बाधाओं के बावजूद भारत अब भी निवेश का बेहतर लक्ष्य है।’
बता दें कि पिछले महीने निवेश की दुनिया के जाने-माने चेहरे मर्क फैबर ने भी ईटी नाउ को कहा था कि वे उम्मीद करते हैं कि 2019 में पीएम मोदी विकास के एजेंडे के दम पर फिर से चुनाव जीतेंगे।’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App