ताज़ा खबर
 

हम चलते नहीं दौड़ते हैं, रामदेव ने बताई रुचि सोया को संकट से उबारने की कहानी

मीडिया से बात करते हुए बाबा रामदेव ने आईपीओ के सवाल पर कहा कि पतंजलि की तरफ से आईपीओ इस साल नहीं आएगा, लेकिन इसे लेकर इस वित्त वर्ष के अंत तक कोई फैसला ले लिया जाएगा।

योगगुरु बाबा रामदेव (फाइल फोटो, सोर्स- रॉयटर्स)

संकट का सामना कर रही कंपनी रुचि सोया को पतंजलि ने खरीद लिया था। बाद के दिनों में रुचि सोया के कारोबार में काफी तेजी देखने को मिली। पतंजलि आयुर्वेद के संस्थापक बाबा रामदेव से पत्रकार ने इसे लेकर सवाल किया तो उन्होंने कहा था कि हम चलते नहीं दौड़ते हैं।

साल 2019 में पतंजलि आयुर्वेद ने 4,350 करोड़ रुपये में रुचि सोया का अधिग्रहण किया था। इस कंपनी को खरीदने की रेस में अडानी समूह भी शामिल था लेकिन बाद में पीछे हटने का फैसला लिया। उस दौरान लोगों में इस बात को लेकर आशंका थी कि संकट का सामना कर रहे रुची सोया के कारोबार को किस तरह से रामदेव की कंपनी मुनाफे में बदलेगी। लेकिन बाद के दिनों में पतंजलि को रुची सोया से काफी मुनाफा प्राप्त हुआ।

मीडिया से बात करते हुए बाबा रामदेव ने आईपीओ के सवाल पर कहा कि पतंजलि की तरफ से आईपीओ इस साल नहीं आएगा, लेकिन इसे लेकर इस वित्त वर्ष के अंत तक कोई फैसला ले लिया जाएगा। साथ ही उन्होंने कहा कि रुचि सोया के फॉलो-ऑन पब्लिक ऑफर के सिलसिले में विभिन्न इंस्टीट्यूशनल इनवेस्टर्स से मिल रहे हैं।

बताते चलें कि वित्त वर्ष 2021 में पतंजलि का टर्नओवर 30,000 करोड़ रुपये से अधिक था। इसमें रुचि सोया की बिक्री का योगदान 16,318 करोड़ रुपये का था। बाबा रामदेव ने कहा कि उनका लक्ष्य दो साल के भीतर कंपनी को कर्जमुक्त बनाना है।

रुचि सोया के बोर्ड में आचार्य बालकृष्ण बतौर चेयरमैन हैं। वहीं, योगगुरु रामदेव नॉन एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर और राम भरत मैनेजिंग डायरेक्टर हैं। आपको यहां बता दें कि कंपनी के निदेशक मंडल की 19 अगस्त, 2020 को हुई बैठक में राम भरत को 17 दिसंबर, 2022 तक के लिए प्रबंध निदेशक नियुक्त किया गया है। इसके अलावा डॉक्टर गिरिश आहूजा, तजेंद्र मोहन भसीन के अलावा ज्ञान सुधा मिश्रा स्वतंत्र निदेशक के तौर पर बोर्ड में शामिल हैं।

Next Stories
1 योग के साथ कमाई भी कराएंगे बाबा रामदेव! ला रहे हैं पतंजलि का आईपीओ, जानिए योग गुरु की पूरी योजना
2 सबसे बड़ा आईपीओ ला रही पेटीएम ने लोन देने में बनाया रिकॉर्ड, सिर्फ तीन महीने में 13.8 लाख लोगों को बांटा पैसा
3 गौतम अडानी को पिछले 40 दिन में लगा तगड़ा फटका, हर रोज हुआ 5 हजार करोड़ रुपए का नुकसान
यह पढ़ा क्या?
X