PM Vaya Vandana Yojana: डेथ बेनिफिट के साथ पेंशन की गारंटी, जानें कैसे करें निवेश

इस योजना में एकमुश्त पैसा निवेश किया जा सकता है। पेंशनभोगी पेंशन के भुगतान के लिए मासिक, तिमाही, छमाही या वार्षिक विकल्प चुन सकता है।

7वां वेतन आयोग, 7th Pay Commission, भारतीय रेलवे,7th cpc, Central Government Employees,extra salary, 7th Pay Commission, Dearness Allowance, DA, Gratuity, Gratuity Changes, Central Government, New pay structure, Central government employees, fitment factor CG Employees, Business News, Modi government, Indian Stock Market, Share Market News, DA,Pension Payment Order,NER, Business News, 7th Pay Commission News, India News, National News, Hindi Newsतस्वीर का इस्तेमाल सिर्फ प्रस्तुतिकरण के लिए किया गया है। (फोटोः Freepik)

प्रधानमंत्री वय वंदना योजना (PMVVY) एक पेंशन स्कीम है जो वरिष्ठ नागरिकों के लिए है। योजना में मासिक पेंशन का विकल्प चुनने पर वरिष्ठ नागरिकों को दस साल तक एक तय दर से गारंटीशुदा पेंशन मिलती है। योजना में डेथ बेनिफिट की भी पेशकश की गई है, जिसके तहत नॉमिनी को खरीद मूल्य वापस दिया जाता है। शुरुआत में पॉलिसी बहुत कम समय के लिए थी हालांकि बाद इसे बढ़ाकर 31 मार्च 2020 तक कर दिया गया।

कौन कर सकता है PMVVY के लिए आवेदन
योजना का लाभ उठाने के लिए व्यक्ति की उम्र कम से कम 60 साल होनी चाहिए। हालांकि अधिकतम उम्र की कोई सीमा नहीं है। इसमें प्रति व्यक्ति अधिकतम 15 लाख रुपए के निवेश की अनुमति है।

कैसे करे आवेदन
संबंधित कागजों के साथ आपको एक फॉर्म भरना होगा। इसके अलावा ऑनलाइन आवेदन कर योजना का लाभ उठाया जा सकता है। इस लिंक पर क्लिक https://eterm.licindia.in/onlinePlansIndex/pmvvymain.do आप ऑनलाइन आवदेन कर सकते हैं।

इन दस्तावेजों की होगी जरुरत
पैन कार्ड की फॉटो कॉपी
स्थाई पता के लिए आधार कार्ड या पासपोर्ट की फोटो कॉपी
उस बैंक पासबुक के पहले पेज की फोटो कॉपी जिसमें पेंशन चाहिए

क्या है खरीद मूल्य
इस योजना में एकमुश्त पैसा निवेश किया जा सकता है। पेंशनभोगी पेंशन के भुगतान के लिए मासिक, तिमाही, छमाही या वार्षिक विकल्प चुन सकता है। सालाना पेंशन के लिए न्यूनतम परजेच प्राइस 1,44,578 रुपए हैं जबकि अधिकतम परचेज प्राइस 14,45,783 रुपए है। इसके अलावा मासिक पेंशन भुगतान के लिए न्यूनतम परचेज प्राइस 1.5 लाख रुपए है जबकि अधिकतम परचेज प्राइस 15 लाख रुपए है।

पॉलिसी लेते वक्त किन बातों का ध्यान रखना जरुरी
पॉलिसी के तीन साल बाद PMVVY पर लोन सुविधा भी उपलब्ध है। अधिकतम लोन की कीमत परचेज प्राइस के 75 फीसदी से अधिक नहीं होनी चाहिए।
स्कीम सरकार की अन्य योजना की तरह टैक्स लाभ नहीं मिलेगा।

Next Stories
1 Daimler: ऑटोमोबाइल कंपनियां अभी भी मंदी की चपेट में! अब इस कंपनी ने किया No Production Day का ऐलान
2 RBI ने पिछले साल की थी PMC चेयरमैन को बर्खास्त करने की सिफारिश, पर नहीं हुआ एक्शन
3 ब्रिटेन में शाहरुख-सलमान के परिवार के सदस्यों के नाम से खोली गई कंपनी, ‘कुछ-कुछ होता’ है की ‘अंजलि’ भी डायरेक्टर
आज का राशिफल
X