ताज़ा खबर
 

इस राज्य में डाकियों के जरिए होगा पीएम किसान योजना के लाभार्थियों का पंजीकरण, जानें- क्या होगा तरीका

सूबे में किसानों को इस स्कीम से जोड़ने के लिए 300 डाकियों को तैनात किया गया है, जो उनके घरों में जाएंगे और रजिस्ट्रेशन कराएंगे। गोवा सरकार के मुताबिक राज्य में 38,000 किसान कृषि कार्डधारक हैं, जिनमें से 21,000 लोग पीएम किसान योजना के पात्र हैं।

pm kisan schemeपीएम किसान सम्मान निधि स्कीम के तहत मिलते हैं सालाना 6 हजार रुपये।

पीएम किसान सम्मान निधि स्कीम से अन्नदाताओं को जोड़ने के लिए गोवा ने एक नया तरीका निकाला है। सूबे में किसानों को इस स्कीम से जोड़ने के लिए 300 डाकियों को तैनात किया गया है, जो उनके घरों में जाएंगे और रजिस्ट्रेशन कराएंगे। गोवा सरकार के मुताबिक राज्य में 38,000 किसान कृषि कार्डधारक हैं, जिनमें से 21,000 लोग पीएम किसान योजना के पात्र हैं। हालांकि अब तक इस स्कीम के तहत राज्य में 10,000 किसानों का ही पंजीकरण हुआ है। ऐसे में सरकार ने बाकी बचे 11,000 किसानों के पंजीकरण के लिए डाक विभाग की मदद लेने का फैसला लिया है।

राज्य के डिप्टी चीफ मिनिस्टर चंद्रकांत कावलेकर ने कहा, ‘अब तक पीएम किसान स्कीम से 11,000 किसान पंजीकृत नहीं हुए हैं। अब इन तक डाकियों को भेजा जाएगा और उनका पंजीकरण होगा। अब तक स्थानीय डाकिया जो लोगों तक चिट्ठी पहुंचाते थे, वे अब इस स्कीम के लिए रजिस्ट्रेशन कराने का काम करेंगे।’ कावलेकर ने कहा कि गोवा सरकार यह सुनिश्चित करना चाहती है कि राज्य में कोई भी व्यक्ति कृषि योजनाओं के लाभ से वंचित न रहे। उन्होंने कहा कि पीएम किसान स्कीम के अलावा अन्य योजनाओं से भी किसानों को जोड़ने के लिए भी डाक विभाग की मदद ली जाएगी।

डाक विभाग के सीनियर अधिकारी डॉ. विनोद कुमार ने बताया कि राज्य में 255 पोस्ट ऑफिस हैं और उनमें तैनात 300 कर्मचारियों को इस काम में लगाया गया है। बीते 10 दिनों से राज्य में डाक विभाग की ओर से इस स्कीम को चलाया जा रहा है और अब तक 5,000 के करीब लोगों तक संपर्क किया जा चुका है और भरे हुए फॉर्म रिसीव किए गए हैं। यही नहीं ऐसे किसान जिनका कोई सेविंग खाता नहीं है, उनका अकाउंट भी डाक विभाग की ओर से खोला जा रहा है। ये खाते इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक के तहत खोले जा रहे हैं। इन खातों को खुलवाने के लिए सिर्फ आधार नंबर की ही जरूरत है।

बता दें कि पीएम किसान सम्मान निधि स्कीम के तहत अब तक छह किस्तें जारी की जा चुकी हैं और दिसंबर से मार्च के दौरान किसानों को 7वीं किस्त जारी की जाएगी। देश में अब तक करीब 11 करोड़ किसानों का इस स्कीम के तहत रजिस्ट्रेशन किया जा चुकी है। 5वीं किस्त 10.45 करोड़ किसानों को मिली थी, जबकि छठी किस्त अब तक 9 करोड़ से ज्यादा किसानों को मिल चुकी हैं।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 आनंद महिंद्रा की बेटियां क्यों नहीं हैं बिजनेस का हिस्सा? जानें- महिंद्रा ग्रुप के चेयरमैन ने दिया क्या जवाब
2 7th Pay Commission: सरकारी कर्मचारियों को मिलेगा 10,000 रुपये का फेस्टिवल अडवांस, जानें- कैसे लागू होगी स्कीम
3 मुस्लिम से हिंदू लड़की की शादी वाले ऐड को तनिष्क ने लिया वापस, टि्वटर पर #BoycottTanishq हुआ था ट्रेंड
ये पढ़ा क्या?
X