ताज़ा खबर
 

जन धन योजना के पैसों को लेकर फैली अफवाह, नहीं निकाले तो वापस ले लेगी सरकार, वित्त मंत्रालय ने दी सफाई

वित्त मंत्रालय ने इस पर गुरुवार को लोगों को भरोसा दिलाते हुए कहा कि अफवाहों पर ध्यान न दें। सरकार की ओर से मई और जून में भी महिला जन धन खातों में 500 रुपये की रकम डाली जाएगी।

जन धन योजना के तहत आए पैसों को लेकर बैंको में उमड़ी भीड़

प्रधानमंत्री जन धन योजना के तहत खुले 20.6 करोड़ महिलाओं के खातों में सरकार की ओर से डाले जा रहे 500 रुपयों को लेकर ऐसी अफवाह फैली कि देश भर में बैंक शाखाओं में लोग बड़ी संख्या में उमड़ पड़े। यहां तक कि अब सरकार को इस पर स्पष्टीकरण देना पड़ा है। दरअसल कहीं से यह अफवाह फैल गई थी कि जन धन खातों में जमा की गई रकम को यदि नहीं निकाला गया तो उसे सरकार वापस ले सकती है। इस पर देश भर में शाखाओं पर भीड़ उमड़ी थी और कोरोना संकट के बीच सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों की भी धज्जियां उड़ती देखी गईं।

वित्त मंत्रालय ने इस पर गुरुवार को लोगों को भरोसा दिलाते हुए कहा कि अफवाहों पर ध्यान न दें। सरकार की ओर से मई और जून में भी महिला जन धन खातों में 500 रुपये की रकम डाली जाएगी। यही नहीं अप्रैल, मई और जून समेत तीनों महीनों के रुपयों को कभी भी निकाला जा सकता है। सरकार की ओर से रकम वापस लिए जाने की अफवाहें पूरी तरह से निराधार हैं।

यही नहीं सबसे ज्यादा जन धन खातों को मैनेज करने वाले भारतीय स्टेट बैंक ने भी ग्राहकों से अपील करते हुए कहा कि वे अफवाहों पर ध्यान न दें और अपनी सुविधा के मुताबिक कभी भी रकम निकाल सकते हैं। अफवाहों को दूर करने के लिए वित्तीय मामलों के विभाग ने ट्वीट कर कहा कि सरकार की ओर जन धन खातों में जमा किए 500 रुपयों को लाभार्थी कभी भी निकाल सकते हैं। ट्वीट में कहा गया कि राशि आपके खाते में जमा है और कभी भी निकाल सकते हैं। यह राशि मई और जून में भी आएगी। इस तरह जन धन योजना की लाभार्थी महिलाओं को तीन महीने में 1,500 रुपये की रकम सरकार की ओर से दी जाएगी।

SBI ने भी की अपील, अफवाहों पर न दें ध्यान: बता दें कि देश में जन धन योजना के तहत कुल 38.08 करोड़ खाते खुले हैं, जिनमें से 20.60 करोड़ महिलाओं के खातों में सरकार ने अप्रैल से जून तक 500 रुपये जमा करने का ऐलान किया है। देश भर में जन धन योजना के तहत खुले खातों में कुल 1.9 लाख करोड़ रुपये की रकम जमा है। भारतीय स्टेट बैंक ने ग्राहकों से अपील करते हुए कहा कि सरकार की ओर से आई रकम आपके खाते में जमा है, जिसे कभी भी निकाला जा सकता है और यह सरकार को वापस नहीं जाएगी।

तीन महीने तक मिलने हैं 500 रुपये: गौरतलब है कि 27 मार्च को वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने देश के गरीब तबके की मदद के लिए 1.7 लाख करोड़ रुपये के कोरोना पैकेज का ऐलान किया था। इसके तहत महिलाओं के खाते में रकम डालने के अलावा अप्रैल से जून तक उज्ज्वला योजना के लाभार्थियों को मुफ्त सिलेंडर का भी ऐलान किया गया है।

Coronavirus से जुड़ी जानकारी के लिए यहां क्लिक करें: जानें-कोरोना वायरस से जुड़ी हर खबर । जानिये- किसे मास्क लगाने की जरूरत नहीं और किसे लगाना ही चाहिए |इन तरीकों से संक्रमण से बचाएं क्या गर्मी बढ़ते ही खत्म हो जाएगा कोरोना वायरस? । इन वेबसाइट और ऐप्स से पाएं कोरोना वायरस के सटीक आंकड़ों की जानकारी, दुनिया और भारत के हर राज्य की मिलेगी डिटेल ।  कोरोना संक्रमण के बीच सुर्खियों में आए तबलीगी जमात और मरकज की कैसे हुई शुरुआत, जान‍िए

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App। जनसत्‍ता टेलीग्राम पर भी है, जुड़ने के ल‍िए क्‍ल‍िक करें।

Next Stories
1 रेल यात्रा के बदल सकते हैं नियम, लॉकडाउन के बाद मास्क पहनना, थर्मल स्क्रीनिंग, सोशल डिस्टेंसिंग होगी जरूरी, बुजुर्गों को यात्रा से दूर रखने की तैयारी
2 एचडीएफसी बैंक के बोर्ड में नियुक्तियों के फैसले पर रिजर्व बैंक ने लगाई रोक, कहा- नए एमडी के आने तक करें इंतजार
3 PPF, सुकन्या समृद्धि योजना और आरडी जमा पर पोस्ट ऑफिस ने दी पेनल्टी में राहत, 30 जून तक जमा कर सकते हैं न्यूनतम राशि