ताज़ा खबर
 

बिकने से पहले BPCL ने SBI कार्ड से मिलाया हाथ, पेट्रोल-डीजल भरवाने पर मिलेगी बड़ी राहत

केंद्रीय मंत्रिमंडल ने पिछले साल नवंबर में बीपीसीएल में सरकार की समूची 52.98 प्रतिशत हिस्सेदारी की बिक्री की मंजूरी दी थी। इसकी​ बिक्री की प्रक्रिया जारी है।

BPCL में सरकार समूची हिस्सेदारी बेच रही है

केंद्र सरकार भारत पेट्रोलियम कॉरपोरेशन लिमिटेड(बीपीसीएल) में अपनी हिस्सेदारी बेचने की प्रक्रिया में जुटी है। इस बीच, बीपीसीएल ने एसबीआई कार्ड के साथ हाथ मिलाया है। एसबीआई कार्ड और बीपीसीएल ने मिलकर ‘बीपीसीएल एसबीआई कार्ड ऑक्टेन’ जारी करने की घोषणा की। इसके तहत उन ग्राहकों को अधिकतम बचत की पेशकश की गयी है जो ईंधन खरीदारी में बड़ी राशि खर्च करते हैं।

क्रेडिट कार्ड को इस रूप से डिजाइन किया किया गया है, जिससे उन ग्राहकों को अधिकतम बचत हो जो ईंधन पर अधिक राशि खर्च करते हैं। एसबीआई कार्ड ने एक बयान में कहा कि बीपीसीएल-एसबीआई कार्ड ऑक्टेन बीपीसीएल ईंधन और मैक ल्यूब्रिकेन्ट, भारत गैस (एलपीजी) पर खर्च (केवल वेबसाइट और ऐप पर) और बीपीसीएल के ‘इन और आउट’ सुविधा स्टोर पर व्यय पर 25X रिवार्ड प्वाइंट मिलेंगे।

बयान के अनुसार कार्ड के तहत बीपीसीएल के पेट्रोल पंप स्टेशनों पर ईंधन और ल्यूब्रिकेंट पर खर्च में 7.25 प्रतिशत मूल्य वापसी (एक प्रतिशत अधिभार छूट समेत) और भारत गैस पर खर्च में 6.25 प्रतिशत मूल्य वापसी का लाभ मिलेगा। इसके अलावा इसमें डिपार्टमेंटल स्टोर और किराना दुकानों समेत अन्य नियमित खर्च की श्रेणी में भी लाभ का प्रावधान किया गया है।

कंपनी के अनुसार कार्डधारक देशभर में 17,000 से अधिक बीपीसीएल पेट्रोल पंपों पर छूट का लाभ ले सकते हैं। इसमें ईंधन मामले में कोई न्यूनतम लेन-देन की सीमा नहीं है। इससे ग्राहक हर बार ईंधन खरीद पर बचत कर सकेंगे। बता दें कि केंद्रीय मंत्रिमंडल ने पिछले साल नवंबर में बीपीसीएल में सरकार की समूची 52.98 प्रतिशत हिस्सेदारी की बिक्री की मंजूरी दी थी। इसकी​ बिक्री की प्रक्रिया जारी है। (भाषा से इनपुट)

Next Stories
1 37 साल पहले दिसंबर में ही 47 हजार 500 रुपए में लॉन्च हुई थी Maruti 800, जानें कैसे हुई थी शुरुआत और क्या थी इंदिरा गांधी की भूमिका
2 Post office से जुड़े ग्राहकों के लिए आया Dakpay, एक जगह मिलेगी कई सर्विस
3 2 दिन के लिए अंडर-में​टनेंस में SBI की कई सर्विस, जानिए​ किन ग्राहकों को होगी दिक्कत
ये पढ़ा क्या?
X