ताज़ा खबर
 

Covid Insurance Claim : इन कारणों से कैंसल हो सकता है आपका दावा

कोरोना वायरस के कारण कई लोगों की मौत हुई है। जिसकी वजह से इंश्‍योरेंस कंपनियों पर क्‍लेम का बोझ काफी बढ़ गया है। वैसे आपका कोविड इंश्‍योरेंस क्‍लेम कैंसल भी हो सकता है। जिसके पीछे कारण है आपका समय पर प्रीमियम ना भरना और इंश्‍योरेंस लेते वक्‍त पहले से मौजूद गंभीर बीमारी को छिपाना।

टर्म इंश्‍योरेंस लेने पहले आपको कोविड वैक्‍सीन लगवाना अनिवार्य हो गया है। कंपनियों ने कुछ इसी तरह के नए नियम तैयार किए हैं। ( Express Photo by Amit Chakravarty )

कोविड-19 महामारी के कारण इंश्‍योरेंस क्‍लेम में भारी उछाल देखने को मिला है। हालांकि बीमा कंपनियां क्‍लेम को निपटाने में तेजी दिखा रही हैं और इनमें से अधिकांश का निपटारा भी कर दिया है। कोरोना वायरस के कारण, हाल ही में कोविड 19 को कवर करने वाली विभिन्न बीमा पॉलिसियां शुरू की गई हैं। पॉलिसी के प्रकार के आधार पर, पॉलिसीधारक कैशलेस मोड या रिइंबर्समेंट के माध्यम से इंश्‍योरेंस क्‍लेम कर सकते हैं। अगर आप खर्च का भुगतान करने के बाद क्‍लेम करते हैं तो आपको क्‍लेम फॉर्म जमा करके बीमाकर्ता से रिइंबर्समेंट प्राप्त करना होगा।

वहीं कुछ मामले ऐसे भी सामने आ रहे हैं जिनके कोविड इंश्‍योरेंस पॉलिसी के क्‍लेम्‍स को खारिज किया जा रहा है। जिसके कई कारण हैं। भारती एक्सा लाइफ इंश्योरेंस के प्रबंध निदेशक और मुख्य कार्यकारी अधिकारी पराग राजा इसके पीछे कई कारण मानते हैं। जिसकी वजह से कोविड क्‍लेम कैंसल हो जाता है। जिसमें पॉलिसी लैप्‍स होने और गंभीर बीमारियों की जानकारी पहले नहीं दी है। आइए आपको विस्‍तार से बताते हैं इन कारणों के बारे में।

अगर आपकी पॉलिसी हो गई है इनेटिक्‍व या लैप्‍स : पॉलिसी को सक्रिय रखने के लिए, पॉलिसीधारक को समय पर प्रीमियम का भुगतान करना होता है। समय पर प्रीमियम का भुगतान न करने पर पॉलिसी लैप्स हो जाती है। इस बीच अगर पॉलिसी होल्‍डर की मौत हो जाती है तो लाइफ इंश्‍योरेंस कंपनी क्‍लेम को अस्‍वीकार कर सकती है।

पहले से मौजूद बीमारियों का खुलासा न करना : यदि पॉलिसीधारक को पहले से कोई गंभीर बीमारी है, उदाहरण के लिए, पॉलिसी जारी करने से पहले बीमाधारक कैंसर से पीड़ित था और पॉलिसी खरीदते समय इसका खुलासा नहीं किया गया था, तो बीमाकर्ता दावे को अस्वीकृत कर सकते हैं। कई बीमा कंपनियों ने कहा है कि वे प्राथमिक रूप से सभी वास्तविक दावों का निपटान करने की कोशिश कर रही हैं। अगर किसी बीमा फर्म ने अस्पष्ट आधार पर पॉलिसी के दावे को खारिज कर दिया है, तो व्यक्ति शिकायत दर्ज करा सकते हैं।

देश में एक दिन में कोविड से सबसे ज्‍यादा मौत : इस बीच, भारत में शुक्रवार को कोविड-19 के कारण 6,148 नई मौतें हुई है। यह एक दिन में मौत होने का नया रिकॉर्ड है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के आज के आंकड़ों के अनुसार कोरोनो वायरस के बीते 24 घंटों में लगातार तीसरे दिन 1 लाख से नीचे रही। आंकड़ों के अनुसार 24 घंटे की अवधि के दौरान केवल 94,052 नए मामले दर्ज किए गए।

Next Stories
1 Gold Investment : घर बैठकर आराम से खरीद सकते हैं सोना, ये हैं बेहतरीन ऑप्‍शन
2 ‘हम दो, हमारे दो’ की टू चाइल्‍ड पॉलिसी से टैक्‍सपेयर्स को मिलते हैं कौन-कौन से फायदे
3 LIC Kanyadaan Policy: रोजाना करें 121 रुपए का निवेश, बेटी हो जाएगी 27 लाख रुपए की मालकिन
ये पढ़ा क्या?
X