scorecardresearch

नई-नई शादी हुई है तो ऐसा हेल्‍थ इंश्‍योरेंस हो सकता है बेहतर, जानिए लाभ और फीचर्स

अगर आपकी नई-नई शादी हुई है तो भी आपको हेल्‍थ इंश्‍योरेंस कराना चाहिए। इसके कई फायदे हैं, जो आपको कई परेशानियों से बचाएगा।

नई-नई शादी हुई है तो ऐसा हेल्‍थ इंश्‍योरेंस हो सकता है बेहतर, जानिए लाभ और फीचर्स
जानिए नए कपल के लिए कौन सा हेल्‍थ इंश्‍योरेंस होगा बेहतर (फोटो-Freepik)

अस्‍पताल और गंभीर बीमारियों में खर्च से बचने के लिए लोग हेल्‍थ इंश्‍योरेंस का प्‍लान करते हैं, ताकि इमरजेंसी के समय उनकी आर्थिक स्थिति सही नहीं होने पर भी उन्‍हें और उनके परिवार को पूरा इलाल मिल सके और उनकी जमा पूंजी भी सेफ रहे। एक्‍सपर्ट, सभी वर्ग के लोगों को हेल्‍थ इंश्‍योरेंस कराने की सलाह देते हैं। वहीं अगर आपकी नई-नई शादी हुई है तो भी आपको हेल्‍थ इंश्‍योरेंस कराना चाहिए। इसके कई फायदे हैं, जो आपको कई परेशानियों से बचाएगा।

यहांं कौन सा हेल्‍थ इंश्‍योरेंस खरीदना चाहिए और कौन आपके लिए बेहतर होगा, जिसके बारे में पूरी जानकारी दी गई है। अगर आप कॉर्पोरेट हेल्‍थ बीमा कवर के अंतर्गत आते हैं, तो आप पर्सनल हेल्‍थ बीमा कवर ले सकते हैं, जिसमें ज्‍यादा लाभ और फीचर्स दिए गए हों। एक्‍सपर्ट ऐसे हेल्‍थ बीमा पर प्रति व्‍यक्ति 10 लाख बीमा की राशि की सलाह देते हैं।

वहीं अगर फैमिली को कवर करने की बात आती है तो कपल 25 लाख के कवर के साथ फैमिली फ्लोटर प्लान खरीद सकता है। साथ ही अगर वह चाहे तो इंश्‍योरेंस कंपनियों के उचित दाम पर दिए जा रहे 1 करोड़ रुपये के बीमा प्‍लान का भी चयन कर सकता है। हालांकि यह जरूरी है कि अगर आप हेल्‍थ बीमा ले रहे हैं तो आप मार्केट में उपलब्‍ध सभी बीमा प्‍लान की तुलना कर लें और जानकारी ले लें कि कौन सा आपके लिए बेहतर हो सकता है।

वहीं आपको इस बात का भी खास ख्‍याल रखना चाहिए कि आपकी नई-नई शादी हुई है तो आपको इसी के अनुसार एक हेल्‍थ इंश्‍योरेंस का चयन करना चाहिए। आप ऐसी योजना का चयन कर सकते हैं, जिसमें डिलीवरी के दौरान कवर, मैटरनिटी कवरेज, प्रसव या गर्भवस्‍था के दौरान लागत को कवर करता हो।

अधिकांश बीमाकर्ता 24 से 48 महीने और कुछ 9 महीनों की अवधि की पेशकश करते हैं। वहीं अगर बीमा प्‍लान पहले से है, तो अपने स्वास्थ्य बीमा नवीनीकरण के समय मैटरनिटी ऐड-ऑन खरीदना एक अच्‍छा विकल्‍प हो सकता है। ऐसे में आप वेटिंग पीरियड से बच सकते हैं और बिना तनाव के अपने परिवार की योजना बना सकते हैं।

हालांकि, इस मामले में, गर्भधारण करने से पहले मैटरनिटी कवरेज चुनना महत्वपूर्ण है ताकि बीमा कंपनियां पहले से मौजूद गर्भावस्था के कारण इससे इनकार न करें। मैटरनिटी ऐड-ऑन मुख्य रूप से एक समग्र कवरेज है जो एम्बुलेंस-मुक्त, अस्पताल में भर्ती होने से पहले और बाद के खर्चों और बच्चे के जन्म से लेकर 30-90 दिनों तक के खर्चों से बचाता है।

पढें Personal Finance (Personalfinance News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

First published on: 03-10-2022 at 06:39:35 pm
अपडेट