Post Office में निवेश कर कुछ सालों में पा सकते हैं आकर्षक रकम! जानें- कौन सी स्कीम में पा सकते हैं कितना पैसा

भारतीय डाक विभाग ने नई इंटरएक्टिव वॉयस रिस्पांस (IVR) सेवा शुरू की है। इस सुविधा का फायदा आप फोन के जरिए ले सकते हैं। पोस्ट ऑफिस की इस सुविधा के जरिए आप अकाउंट बैलेंस की जानकारी ले सकते हैं

Post Office, Investment, PPF, NPS
भारतीय डाक विभाग ने नई इंटरएक्टिव वॉयस रिस्पांस सेवा शुरू की।

इंडियन पोस्ट ऑफिस बैंकों की तरह हाईटेक हो गए है। यहां अब केवल रजिस्टर्ड डाक या स्पीड पोस्ट ही नहीं होती। बल्कि पोस्ट ऑफिस के जरिए आकर्षक रिटर्न पाने के लोग अलग-अलग स्कीम में अपना पैसा भी निवेश करते हैं। आपको बात दें पोस्ट ऑफिस की कई स्कीम तो ऐसी हैं। जिनमें आपको सरकारी और प्राइवेट बैंकों से ज्यादा ब्याज मिलता है। जिसके चलते बड़ी संख्या में लोग अब पोस्ट ऑफिस में निवेश करना पसंद करते हैं। इसके अलावा हाल ही में इंडियन पोस्ट ऑफिस ने अपने कस्टमर के लिए “Interactive Voice Response (IVR)” की सुविधा भी शुरू की है। जिसमें आप अपने मोबाइल के जरिए कई सुविधाओं का फायदा उठा सकते हैं। आइए जानते है पोस्ट ऑफिस की स्कीम और IVR सुविधा के बारे में….

किसान विकास पत्र – पोस्ट ऑफिस के जरिए आप किसान विकास पत्र में निवेश कर सकते हैं। जिसमें आपके पैसे 10 साल 4 महीने में डबल हो जाएंगे। वहीं आप किसान विकास पत्र में 1000 रुपये से निवेश करना शुरू कर सकते है। इसके साथ ही किसान विकास पत्र में अधिकतम निवेश की कोई सीमए नहीं है।

पब्लिक प्रॉविडेंट फंड – पोस्ट ऑफिस की इस स्कीम में आपको सालाना 7.1 प्रतिशत की ब्याज मिलती है। इसमें आपका पैसे 15 साल तक के लिए निवेश होता है। लेकिन आप जरूरत के समय में निवेश किए हुए पैसे को 50 फीसदी हिस्सा 5 साल बाद भी निकाल सकते हैं। पब्लिक प्रॉविडेंड फंड में आप सालाना न्यूनतम 500 रुपये और अधिकतम 1 लाख 50 हजार रुपये तक निवेश कर सकते हैं।

सुकन्या समृद्धि योजना – पोस्ट ऑफिस की इस स्कमी में बेटियों के बेहतर भविष्य के लिए आप निवेश कर सकते हैं। जिसमें आपको बेटी की 10 साल की उम्र से पहले निवेश शुरू करना होता है। वहीं इस स्कीम में आप कम से कम 250 रुपये पर बेटी का अकाउंट खोल सकते हैं। वहीं सुकन्या समृद्धि योजना में मैच्योरिटी बेटी की उम्र 21 साल पूरी होने पर ही मिलती है। इसके साथ ही सरकार की इस स्कीम में पैसा निवेश करने पर टैक्स में छूट भी मिलती है।

यह भी पढ़ें: PM Kisan की 10वीं किस्तः इस तारीख को खाते में क्रेडिट हो जाएंगे पैसे, जानें- किन्हें और क्यों मिलेगी दोगुनी रकम?

नेशनल सेविंग्‍स सर्टिफिकेट – पोस्‍ट ऑफिस नेशनल सेविंग्‍स सर्टिफिकेट में निवेश एक बेहतर ऑप्‍शन हो सकता है। पोस्‍ट ऑफिस की इस स्‍माल सेविंग्‍स स्‍कीम्‍स की खासियत यह है कि इसमें निवेश की मैक्सिमम लिमिट नहीं है। वहीं, इसमें मल्‍टीपल अकाउंट खुलवाए जा सकते हैं। NSC में डिपॉजिट पर इनकम टैक्‍स के सेक्‍शन 80C के अंतर्गत 1.5 लाख रुपये तक टैक्‍स डिडक्‍शन का भी फायदा मिलता है। पोस्ट ऑफिस की इस स्कीम में सालाना इंटरेस्ट रेट अभी 6.8 फीसदी है।

यह भी पढ़ें: EPFO का बड़ा फैसला, कर्मचारियों को होगा डबल फायदा! जानिए डिटेल

पोस्ट ऑफिस की IVR सुविधा – भारतीय डाक विभाग ने नई इंटरएक्टिव वॉयस रिस्पांस (IVR) सेवा शुरू की है। इस सुविधा का फायदा आप फोन के जरिए ले सकते हैं। पोस्ट ऑफिस की इस सुविधा के जरिए आप अकाउंट बैलेंस की जानकारी ले सकते हैं, कार्ड ब्लॉक करा सकते हैं, नए कार्ड ले सकते हैं। इसके अलावा PPF, NSC, SSY जैसी कई जानकारियों के बारे में पता लगा सकते हैं। इसके लिए ग्राहक को अपने रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर से भारतीय डाक के टोल फ्री नंबर 18002666868 पर फोन करना होगा।

पढें Personal Finance समाचार (Personalfinance News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट