अगर आप भी खरीदना चाहते हैं पसंदीदा कार तो इन बातों रखें ध्‍यान, लोन मिलना होगा आसान

कार लोन की करें तो अगर ठीक से योजना नहीं बनाई गई है, तो लोन की ईएमआई उधार लेने वाले की जेब पर काफी भारी पड़ सकती है। इसलिए, विशेषज्ञों का कहना है कि कर्ज लेने से पहले कार लोन ईएमआई कैलकुलेटर की मदद ले सकते हैं।

Car Loan
कार लोन लेने से पहले अपना क्रेडिट स्‍कोर, लोन टेन्‍योर, डाउन पेमेंट आदि जैसी बातों का जरूर ध्‍यान रखें। (Photo By Indian Express Archive)

डिजिटल और टेक्‍नोलॉजी के विकास साथ, लोन लेना इतना आसान कभी नहीं रहा। विशेष रूप से महामारी और अनिश्चितता की निरंतर लहरों के साथ, बड़ी संख्या में लोग विभिन्न खर्चों को पूरा करने के लिए लोन का ऑप्‍शन चुन रहे हैं। हालांकि, लोन बड़ा एक दायित्व होता है, जिसे अगर ठीक से संभाला नहीं गया तो उधारकर्ता को काफी परेशानी का सामना करना पड़ सकता है।

अगर बात कार लोन की करें तो अगर ठीक से योजना नहीं बनाई गई है, तो लोन की ईएमआई उधार लेने वाले की जेब पर काफी भारी पड़ सकती है। इसलिए, विशेषज्ञों का कहना है कि कर्ज लेने से पहले कार लोन ईएमआई कैलकुलेटर की मदद ले सकते हैं। इसके अतिरिक्त, अच्‍छे से रिसर्च वर्क करना चाहिए इसे लेने से पहले लोन को समझना चाहिए।

पहले से बजट की योजना बनाना
सबसे पहले उधार लेने वाले को सभी आवश्यक खर्चों को तौलना चाहिए और फिर कार खरीदने से पहले एक बजट तैयार करना चाहिए। विशेषज्ञों का कहना है कि अक्सर लोग कार के मालिक होने के साथ आने वाले दूसरे खर्चों को ध्यान में नहीं रखते हैं। उदाहरण के लिए, इंश्‍योरेंस, फ्यूल, मेंटेनेंस, डेप्रिसिएशन और रिपेयर जैसे खर्च शामिल हैं।

अच्‍छा क्रेडिट स्‍कोर होना जरूरी
अच्‍छा क्रेडिट स्‍कोर किसी भी प्रकार के लोन के लिए सबसे महत्वपूर्ण मानदंडों में से एक है। अगर आपका क्रेडिट स्‍कोर अच्‍छा होगा तो आपको बेहतर शर्तों के साथ कार लोन मिल सकता है। आप अपने क्रेडिट कार्ड का समय पर भुगतान और दूसरे लोन का भुगतान समय से करने से आपका क्रेडिट स्‍कोर अच्‍छा हो सकता है।

कार का प्रकार
ज्‍यादातर लोगों के लिए बार-बार कार कार खरीदना आसान नहीं होता है। इसलिए सभी लोग एक बैटर डील की तलाश करते हैं। एक्‍सपर्ट के अनुसार कार खरीदते समय आपको और भी कई चीजों पर गौर करने की जरुरत है। आपको दूसरे मॉडल ऑप्‍शंस को भी देखना चाहिए। आप सेकंड हैंड कार को भी ट्राई करना चाहिए। वहीं ऐसी कारों की ओर देखना चाहि‍ए जिनके फीचर्स सेम लेकिन कीमत कम हैं। इससे आप अपना आप रुपया भी बचा सकते हैं।

डाउन पेमेंट ज्‍यादा दें
जितना संभव हो सके एक गाड़ी की डाउन पेमेंट ज्‍यादा से ज्‍यादा देने का प्रयास करें। एक्‍सपर्ट के अनुसार कार खरीदते समय ज्‍यादा डाउन पेमेंट करने से प्रिंसीपल अमाउंट कम हो जाता है और ब्‍याज की राशि भी कम हो जाती है। प्रिंसीपल अमाउंट जि‍तना कम होगा ब्याज की राशि भी कम हो जाती है – मूलधन जितना कम होगा, ईएमआई राशि उतनी ही कम होगी।

लोन टेन्‍योर
बैंक या लेंडर लोन की लंबी अवधि के लिए दबाव डालेंगे, क्योंकि उन्हें इस तरह से लाभ होगा। हालांकि, एक छोटा लोन टेन्‍योर का ऑप्‍शन उधार लेने वाले के लिए काफी बेहतर होता है। इससे ब्‍याज पर बचत होती है। कम टेन्‍योर वाले लोन को जल्‍दी मंजूरी मिल जाती है और वहीं लोन लेने वाले को कम ब्‍याज का भुगतान करना होगा।

ईएमआई भुगतान
लोन लेने के बाद, नियमित रूप से और समय पर ईएमआई का भुगतान करना सुनिश्चित करें। यह न केवल उधारकर्ता के क्रेडिट स्कोर को बनाए रखता है बल्कि ऋणदाता के साथ संबंध भी बनाए रखता है। विशेषज्ञों का कहना है कि किसी भी ऋण के प्रति अनुशासित दृष्टिकोण होना चाहिए, जिससे किसी व्यक्ति के लिए भविष्य में तेजी से ऋण वितरण प्राप्त करना आसान हो जाता है।

पढें Personal Finance समाचार (Personalfinance News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट