ताज़ा खबर
 

घर बैठे जेनरेट कर सकते हैं पीएफ का यूनिवर्सल अकाउंट नंबर, जानिए क्‍या है तरीका

ईपीएफओ की ओर से एक ऐसा सिस्‍टम तैयार किया गया है कि जिससे आप खुद यूनिवर्सल अकाउंट नंबर जेनरेट कर सकते हैं। इसे जेनरेट करने के लिए सिर्फ आपको आधार नंबर की जरुरत पड़ती है। आइए आपको भी बताते हैं कि ईपीएफओ यूएएन नंबर किस तरह से जेनरेट किया जा सकता है।

इस आशय का एक संशोधन कर्मचारी भविष्य निधि योजना, 1952 में श्रम और रोजगार मंत्रालय द्वारा आधिकारिक राजपत्र में अधिसूचना के माध्यम से किया गया था।

प्रोविडेंट फंड से रुपया निकालने या ट्रांसफर करने के लिए यूनिवर्सल अकाउंट नंबर की जरुरत पड़ती है। इसके ना होने पर आपको काफी मुश्‍किलों का सामना करना पड़ता है। ऐसे में आपका यूएएन एक्‍टिव होना काफी जरूरी है। अब इस बात की चिंता ईपीएफओ की ओर से खत्‍म कर दी गई है। ईपीएफओ की ओर से अपने सिस्‍टम में बड़ा अपडेट करते हुए ईपीएफओ यूएएन जेनरेट करने का ऑप्‍शन दिया है। अब कोई भी घर बैठकर इसे जेनरेट कर सकता है।

यूनिवर्सल अकाउंट नंबर को जेनरेट कने के लिए आपको सिर्फ दो चीजों की जरुरत पड़ती है। पहला है रजिस्‍टर्ड मोबाइल नंबर की और दूसरा है आधार नंबर की। इन दोनों की मदद से आप घर पर बैठकर ऑनलाइन यूएएन जेनरेट कर सकते हैं। ध्‍यान रहे कि आपका मोबाइल नंबर और आधार कार्ड आपस में लिंक होना काफी जरूरी है। आइए आपको भी बताते हैं क‍ि आख‍िर किस तरीके से यूएएन को जेनरेट कर सकते हैं।

इस तरीके से किया जा सकता है यूएएन जेनरेट : – आपको पहले https://unifiedportal-mem.epfindia.gov.in/memberinterface/ लिंक पर जाना होगा।
– उसके बाद आपको ‘ऑनलाइन आधार वेरिफाइड यूएएन अलॉटमेंट’ या डायरेक्ट यूएएन अलॉटमेंट पर क्लिक करना होगा।
– आधार नंबर टाइप करने के बाद आपको जेनरेट ओटीपी पर क्‍ल‍िक करना होगा उसके बाद आपके रजिस्‍टर्ड मोबाइल नंबर पर ओटीपी आ जाएगा।
– ओटीपी डालने के बाद डिस्क्लेमर को एक्सेप्ट करना है और डिटेल्स को वेरिफाई करने के बाद मैंडेटरी फील्ड में जानकारी को भरना है।
– कैप्चा कोड और डिस्क्लेमर चेकबॉक्स पर क्लिक करने के बाद ‘रजिस्टर’ बटन पर क्लिक करना होगा।
– रजिस्टर बटन पर क्लिक करने के बाद आपको यूएएल अलॉट हो जाएगा। आपके स्‍क्रीन पर यूएएन नंबर आ जाएगा।

इस तरह से एक्‍ट‍िव होगा यूएएन : – सबसे पहले आपको WWW.epfindia.in पर जाना होगा।
– Our Services पर क्लिक करने के बाद For Employees ऑप्‍शन को जूज करना होगा।
– Member UAN /ऑनलाइन सर्विस पर क्लिक करना जरूरी है।
– यहां आपको एक्टिवेट योर UAN के ऑप्‍शन पर क्लि‍क करना होगा।
– अब आपको UAN, नाम, डेट ऑफ बर्थ, मोबाइल नम्बर और कैपचा आदि डिटेन डालनी होगी।
– आपको गेट ऑथराइजेशन पिन विकल्प पर क्लिक करना होगा।
– आपके रजिस्‍टर्ड मोबाइल नंबर पर ओटीपी आएगा।
– आपको आई एग्री ऑप्‍शन पर क्‍लिक कर ओटीपी डालना होगा।
– वैलिडेट ओटीपी और एक्टिव यूएएन पर क्लिक करना होगा। आपका यूएएन एक्‍टिव हो जाएगा।

क्‍या है इसका फायदा : ईपीएफओ यूएएन के कई तरह के फायदे होते हैं। जिसकी मदद से पीएफ को ऑनलाइन ट्रांसफर किया जा सकता है। बैलेंस चेक करने और विद्ड्रॉल की सुविधा मिलती है। आपको सभी पुराने और नए अकाउंट दिखाई देते हैं। यूएएन के माध्‍यम से ईपीएफओ आपकी सभी समस्‍याओं का समाधान करेगा।

Next Stories
1 सरकार की इस योजना में रिटायरमेंट के बाद नहीं रहेगी रुपयों की कमी, हर महीने करना है इतना निवेश
2 देश की जनता को राहत, सरकार ने पीपीएफ, सुकन्‍या जैसी योजनाओं की ब्‍याज दरों में नहीं की कटौती
3 इस साल सोने की कीमत में जबरदस्‍त गिरावट, 50 हजार रुपए से कितना हुआ सस्‍ता
ये पढ़ा क्या?
X