scorecardresearch

Post office की बचत योजनाओं के खातों में कितना होना चाहिए मिनिमम बैलेंस? नहीं किया मेंटेन तो लग सकती है पेनाल्टी

अगर आप भी बिना जोखिम निवेश की प्‍लानिंग कर रहे हैं तो पोस्‍ट ऑफिस आपके लिए बेहतर ऑप्‍शन हो सकता है।

Post Office Minimum Balance
पोस्‍ट ऑफिस के स्‍माल सेविंग स्‍कीम में निवेश करना बेहतर ऑप्‍शन (फाइल फोटो)

पोस्‍ट ऑफिस की छोटी बचत योजनाओं में निवेश करने पर लोगों को अच्‍छा रिटर्न मिलता है। इसके अलवा अगर कोई निवेशक बिना जोखिम निवेश के बारे में सोचता है तो उसे यहां निवेश करना चाहिए। इसके स्‍कीमों में टैक्‍स छूट से लेकर कई फायदे मिलते हैं। बच्‍चों से लेकर बुजुर्गों के लिए यहां निवेश की स्‍कीमें हैं। इसमें बैंक से ज्‍यादा का ब्‍याज दिया जाता है। अगर आप भी बिना जोखिम निवेश की प्‍लानिंग कर रहे हैं तो पोस्‍ट ऑफिस आपके लिए बेहतर ऑप्‍शन हो सकता है। यहां निवेश करने के लिए खाता ओपेन करना होता है। जिसके तहत कुछ मिनिमम बैलेंस रखना होता है।

डाकघर की छोटी बचत योजना के तहत आने वाली अलग- अलग स्‍कीमों में आपको अलग- अलग खाता खोलना पड़ता है। जिसमें मिनिमम बैलेंस लिमिट अलग- अलग होती है। इसके अलावा इन स्‍कीमों में ब्‍याज भी डिफरेंट होता है। आइए जानते हैं कौन सी स्‍कीम में खाते में कितनी है मिनिमम बैलेंस की लिमिट।

SB(cheque account)​- 500 रपये।
SB (non cheque account)​- 50 रुपये।
MIS​ – 100 रुपये।
TD​ – 100 रुपये।
PPF​ – 500 रुपये।
Senior Citizen​ – 1000 रुपये।

यह भी पढ़ें: एक बार प्रीमियम भरकर पाएं 12 हजार रुपये का पेंशन, जानें- LIC के इस खास स्कीम के बारे में सबकुछ

कौन सी स्‍कीम में मिलता है अधिक ब्‍याज?
सभी स्‍कीमों के ब्‍याज अलग होते हैं। सबसे अधिक ब्‍याज पोस्‍ट ऑफिस की सुकन्‍य समृद्धि योजना के तहत 7.6 फीसद की दी जाती है। इसके बाद सिनियर सिटीजन स्‍कीम के तहत 7.4 फीसद का ब्‍याज दिया जाता है। किसान विकास पात्र के तहत सालाना 9 फीसद और एनएससी के तहत 8 फीसद का ब्‍याज दिया जा रहा है। बता दें कि अगर कोई व्‍यक्ति मिनिमम बैलेंस नहीं बनाए रखता है तो खाता बंद हो सकता है या फिर पेनॉल्‍टी भी लगाया जा सकता है।

कैसे खोल सकते हैं खाता
पोस्‍ट ऑफिस में निवेश करने के लिए आप दोनों माध्‍यमों ऑनलाइन और ऑफलाइन का उपयोग कर सकते हैं। ऑनलाइन खाता खालने के लिए आपको इंडियन पोस्‍ट ऑफिस की अधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। खाता खोलने के लिए आपको अपने नजदीकी शाखा में एक बार जाना पड़ता है। चाहे आप ऑनलाइन माध्‍यम का ही उपयोग कर रहे हों।

​​​

पढें Personal Finance (Personalfinance News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट