इस म्‍यूचुअल फंड ने तीन साल में दिया है करीब 21 फीसदी का रिटर्न, जान‍िए क्‍या हैं खूबियां और कमियां

यूटीआई म्‍यूचुअल फंड का फ्लोटर रेगुलर प्‍लान करीब तीन साल पहले लांच हुआ था। इस दौरान इस प्‍लान ने निवेशकों अभी तक करीब 21 फीसदी का रि‍टर्न दिया है। यह फंड डेट, गवर्नमेंट सिक्‍योरिटीज और लो रिस्‍क सिक्‍योरिटीज में निवेश करता है।

UTI mutual fund
यूटीआई फ्लोटर फंड ने बीते 3 साल में करीब 21 फीसदी का रिटर्न दिया है। (Financial Express Archive)

कुछ म्‍यूचुअल फंड ऐसे भी होते हैं जो इक्‍विटी को छोड़ डेट बांड, गवर्नमेंट सिक्‍योरिटीज और लो रिस्‍ट सिक्‍योरिटीज में निवेश करते हैं। ताकि निवेशकों का रुपया बाजार जोखि‍म से दूर रहे और रिटर्न भी अच्‍छा मिले। ऐसा ही एक म्‍यूचुअल फंड यूटीआई फ्लोटर फंड ग्रोथ। जिसे लांच हुए करीब तीन साल ही हुए हैं। इस दौरान इस फंड ने निवेशकों को करीब 21 फीसदी का रिटर्न दिया है। जबकि सालाना रिटर्न 6.80 फीसदी का है। क्‍योंकि इस फंड का रुपया इक्‍व‍िटी में नहीं है जो पिछले कुछ सालों से ज्‍यादा रिटर्न दे रहे हैं।

खास बात तो ये है कि इस फंड में बीजेपी से यूपी के सुल्‍तान पुर लोकसभा सीट से सांसद मेनका गांधी ने भी निवेश किया है। इस म्‍यूचुअल फंड में उनकी निवेश राश‍ि 2.50 करोड़ रुपए से ज्‍यादा है। यह जानकारी खुद मेनका गांधी ने 2019 के लोकसभा चुनाव के दौरान अपने हलफनामे में दी थी। आइए आपको भी बताते हैं कि आखि‍र इस म्‍यूचुअल फंड की क्‍या खासियत है। किन लोगों ने इस म्‍यूचुअल फंड में निवेश करना चाहिए। साथ ही अगर एसआईपी करते हैं तो आपको कितना रिटर्न मिल सकता है।

इस फंड की खास‍ियत

  • यूटीआई फ्लोटर फंड ग्रोथ कुल साइज 3242.16 करोड़ रुपए देखने को मिला है।
  • 2 सितंबर 2021 के हिसाब से इस फंड की नेट एसेट वैल्‍यू 1205.8652 रुपए है।
  • फंड का एक्‍सपेंस रेश्‍यो 1.28 फीसदी है, जोकि औसत से करीब दोगुना है।

कहां किया है निवेश और क‍िनको हो सकता है फायदा
पहले बात इस बात की करते हैं कि इस फंड ने 246.69 फीसदी इंवेस्‍टमेंट डेट फंड में किया हुआ है। जिसमें 142 फीसदी इंवेस्‍टमेंट सरकारी सिक्‍योरिटीज में और 104.64 फीसदी का इंवेस्‍टमेंट बेहद कम रिस्‍क की सिक्‍योरिटीज में किया हुआ है। वो निवेशक जो लंबी अवधि के लिए पैसा निवेश करना चाहते हैं, लेकिन इक्विटी फंड की जगह में कम जोखिम वाले असेट्स संपत्ति पसंद करते हैं। वो इसमें निवेश कर सकते हैं।

लांच से अब तक कितना मिला रिटर्न
पहले एक मुश्‍‍त निवेश की बात करें तो 30 अक्‍टूबर 2018 से अब तक यह फंड 20.59 फीसदी का रिटर्न दे चुकी है। उदाहरण के तौर पर समझने का प्रयास करें तो इस फंड में किसी ने 10 हजार रुपए का एक मुश्‍त निवेश किया होता तो उसकी वैल्‍यू मौजूदा समय में 1258.70 रुपए हो चुकी होती। वहीं सालाना रिटर्न की बात करें तो 6.80 फीसदी देखने को मिल रहा है।

एसआईपी पर कितना रिटर्न
वहीं दूसरी ओर एसआईपी इंवेस्‍टमेंट के हिसाब से बात करें तो किसी ने 30 अगस्‍त 2019 से अब तक 1000 रुपए का मासिक निवेश किया होगा तो उसका इंवेस्‍टमेंट 24 हजार हो गया होगा। जबकि इन दो सालों में 5.59 फीसदी के रिटर्न के हिसाब से कुल वैल्‍यू 25340.77 रुपए हो गई होगी। जिस पर सालाना रिटर्न 5.31 फीसदी देखने को मिल रहा है।

क्‍या है इस फंड की खामी
इस फंड की सबसे बड़ी खामी यही है कि आपको शॉर्ट टर्म में ज्‍यादा रिटर्न नहीं मिलता है। जैसा कि इक्‍व‍िटी बेस्‍ड म्‍यूचुअल फंड में देखने को मिलता है। जैसा कि हमने ऊपर देखा क‍ि बीते तीन साल में इस फंड ने सिर्फ 21 फीसदी का ही रिटर्न दिया है। अगर यह इक्‍विटी बेस्‍ड फंड होता तो रिटर्न इसके मुकाबले तीन से चार गुना ज्‍यादा होगा। वहीं आपको अच्‍छे फंड के लिए लंबा इंतजार करना पड़ता है। जिसमें 10 से 15 साल का वक्‍त लग सकता है।

पढें Personal Finance समाचार (Personalfinance News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट