बीते एक साल में इन इंटरनेशनल Mutual Fund ने जमकर कराई कमाई, जानि‍ए कितना हुआ मुनाफा

वास्‍तव में कई ऐसे म्‍यूचुअल फंड हैं जो विदेशी इक्‍विटी में निवेश करते हैं। बीते कुछ समय में विदेशी इक्‍व‍िटी मार्केट काफी अच्‍छा प्रदर्शन कर रहा है। आइए आपको भी बताते हैं कि विदेशी म्‍यूचुअल फंड ने निवेशकों को सबसे ज्‍यादा कमाई कराई है।

तस्वीर का इस्तेमाल सिर्फ प्रस्तुतिकरण के लिए किया गया है।

इंटरनेशनल फंड वो भारतीय इक्व‍िटी फंड हैं जो ऐप्पल, अमेजन, बार्कलेज, ड्यूश बैंक, फिएट, नोवार्टिस और अन्य जैसे ग्‍लोबल स्‍टॉक में निवेश करते हैं। यदि आप इंटरनेशनल म्यूचुअल फंड का उपयोग करते हैं, तो आपको विदेशी शेयरों को चुनने में और उसकी जटिलताओं को समझने की जरुरत नहीं है। एक फंड मैजेजर आपके लिए कमाई वाले ग्‍लोबल फंड को स‍िलेक्‍ट कर सकता है। यह कोई मुश्‍क‍िल काम भी नहीं है। यह किसी विदेशी फंड में पैसा लगाने के लिए किसी अन्य म्यूचुअल फंड में निवेश करने जितना आसान है।

आज हम आपको ऐसे ही कुछ इंटरनेशनल फंड के बारे में बताने जा रहे हैं जि‍न्‍होंने बीते एक साल में सबसे बेहतरीन प्रदर्शन किया है। वास्‍तव में कई ऐसे म्‍यूचुअल फंड हैं जो विदेशी इक्‍विटी में निवेश करते हैं। बीते कुछ समय में विदेशी इक्‍व‍िटी मार्केट काफी अच्‍छा प्रदर्शन कर रहा है। आइए आपको भी बताते हैं कि विदेशी म्‍यूचुअल फंड ने निवेशकों को सबसे ज्‍यादा कमाई कराई है।

पीजीआईएम इंडिया ग्लोबल इक्विटी अपॉर्चुनिटीज फंड

  • पीजीआईएम इंडिया ग्लोबल इक्विटी अपॉर्चुनिटीज फंड डायरेक्ट-ग्रोथ 1,371 करोड़ रुपए की संपत्ति का प्रबंधन करता है।
  • फंड का एक्‍सपेंस रेश्‍यो 1.39 फीसदी है, जो कि अधिकांश अन्य अंतरराष्ट्रीय फंडों द्वारा लगाए गए एक्‍सपेंस रेश्‍यो के बराबर है।
  • पीजीआईएम इंडिया ग्लोबल इक्विटी अपॉर्चुनिटीज फंड का 1 साल का डायरेक्‍ट ग्रोथ रिटर्न 29.08 फीसदी है।
    इस फंड ने सालाना औसतन 12.72 फीसदी का रिटर्न दिया है।
  • इस स्‍कीम का उद्देश्य मुख्य रूप से विदेशी म्यूचुअल फंड की यूनिट्स में निवेश करके लांग टर्म कैपिटल ग्रोथ हासिल करना है।

फ्रैंकलिन इंडिया फीडर फ्रैंकलिन यूएस अपॉर्च्युनिटीज फंड
फ्रैंकलिन इंडिया फीडर फ्रैंकलिन यूएस अपॉर्चुनिटीज डायरेक्ट फंड ने एक साल में 28.91 फीसदी रिटर्न दिया है। इसने अपनी स्थापना के बाद से प्रति वर्ष औसतन 21.87 फीसदी का रिटर्न दिया है। फंड मुख्य रूप से छोटे, मध्यम और लार्ज-कैप यूएस फर्मों में निवेश करता है, जिसमें विभिन्न प्रकार के उद्योगों में बड़ी विकास क्षमता होती है।

निप्पॉन इंडिया यूएस इक्विटी अपॉर्चुनिटीज फंड
निप्पॉन इंडिया जापान इक्विटी फंड जापानी शेयर बाजारों में लिस्टिड इक्विटी सिक्‍योरिटीज में निवेश करता है। फंड का लक्ष्य अपने निवेशकों के लिए लांग टर्म कैपिटल प्रोफिट उत्पन्न करना है। इसके अलावा, यह स्थिर रिटर्न देने के लिए फंड के एक हिस्से को मनी मार्केट इंस्ट्रूमेंट्स और बॉन्ड में निवेश करता है। फंड की संपत्ति का 90 फीसदी इक्विटी में है, शेष 10 फीसदी दूसरी असेट्स में लगी हुई हैं। निप्पॉन इंडिया यूएस इक्विटी अपॉर्चुनिटीज फंड डायरेक्ट-ग्रोथ पर 1 साल का रिटर्न 26.95 फीसदी है। इसकी स्थापना के बाद से इसका औसत वार्षिक रिटर्न 17.43 फीसदी रहा है।

एडलवाइस ग्रेटर चाइना इक्विटी ऑफ-शोर फंड
इस योजना का उद्देश्य जेपी मॉर्गन फंड – जेएफ ग्रेटर चाइना इक्विटी फंड में निवेश करके लांग टर्म कैपिटल ग्रोथ देना है। एडलवाइस ग्रेटर चाइना इक्विटी ऑफ-शोर फंड डायरेक्ट-ग्रोथ 1,792 करोड़ की संपत्ति का प्रबंधन करता है। फंड का एक्‍सपेंस रेश्‍यो 1.43 फीसदी है, जो कि अधि‍कतर दूसरे इंटरनेशनल फंड द्वारा लगाए गए एक्सपेंस रेश्‍यो से ज्‍यादा है। पिछले साल एडलवाइस ग्रेटर चाइना इक्विटी ऑफ-शोर फंड का डायरेक्ट-ग्रोथ रिटर्न 15.90 फीसदी था। इसकी स्थापना के बाद से इसका औसत वार्षिक रिटर्न 16.37 फीसदी रहा है।

आईसीआईसीआई प्रूडेंशियल यूएस ब्लूचिप इक्विटी फंड
आईसीआईसीआई प्रूडेंशियल यूएस ब्लूचिप इक्विटीज फंड का निवेश उद्देश्य निवेशकों को यूएस में मान्यता प्राप्त स्टॉक एक्सचेंजों में लिस्‍ट‍िड कंपनियों की इक्विटी और इक्विटी से संबंधित स‍िक्‍योरिटीज में मुख्य रूप से निवेश करके लांग टर्म कैपिटल प्रोफ‍िट देना है।आईसीआईसीआई प्रूडेंशियल यूएस ब्लूचिप इक्विटी डायरेक्ट प्लान-ग्रोथ 1,766 करोड़ की संपत्ति का प्रबंधन करता है। फंड का एक्‍सपेंस रेश्‍यो 1.27 फीसदी है, जो कि अधिकांश अन्य इंटरनेशनल फंडों द्वारा लगाए गए एक्‍सपेंस रेश्‍यो के बराबर है। आईसीआईसीआई प्रूडेंशियल यूएस ब्लूचिप इक्विटी डायरेक्ट प्लान पर पिछले एक साल का ग्रोथ रिटर्न 33.02 फीसदी था। इसकी स्थापना के बाद से इसका औसत वार्षिक रिटर्न 18.90 फीसदी है।

पढें Personal Finance समाचार (Personalfinance News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।