यह पांच पेंशन स्‍कीम आपके रिटायरमेंट के जीवन को बना देगी आसान, कभी नहीं होगी रुपया की किल्‍लत

vवर्तमान में, भारतीय जीवन बीमा निगम (एलआईसी), नेशनल पेंशन सिस्टम (एनपीएस) ट्रस्ट, और इंडिया पोस्ट ऑफिस जैसे कई राज्य समर्थित संगठन आपकी सेवानिवृत्ति की योजना बनाने के लिए कई निवेश विकल्पों की पेशकश कर रहे हैं।

civil servants, Narendra Modi, Central Pension Rules, 7th pay commission, 7th pay commission latest news, 7th pay commission latest news today, 7th cpc, 7th cpc latest news, 7th cpc latest news today, 7th pay commission news today, 7th pay commission latest news today 2021, 7th pay commission latest news 2021, 7th pay commission latest news in hindi, 7th pay commission latest news 2021 today
7th Pay Commission: पूर्व कर्मचारियों ने प्रधानमंत्री को पत्र लिखकर पेंशन नियमों में बदलाव पर चिंता जतायी। (express file)

बाजार में निवेश के ढेर सारे विकल्प उपलब्ध होने के कारण, अपनी रिटायरमेंट की योजना बनाना कभी-कभी एक कठिन काम बन जाता है। वर्तमान में, भारतीय जीवन बीमा निगम (एलआईसी), नेशनल पेंशन सिस्टम (एनपीएस) ट्रस्ट और इंडिया पोस्ट ऑफिस जैसे कई राज्य समर्थित संगठन, आपकी सेवानिवृत्ति की योजना बनाने के लिए कई इंवेस्‍टमेंट ऑप्‍शन सामने रख रहे हैं। सरकार समर्थित योजनाओं में निवेश जमा पर सुरक्षा के साथ-साथ प्रभावशाली रिटर्न प्रदान करता है।

वैसे मौजूदा दौर में इन पेंशन योजनाओं का महत्‍व और ज्‍यादा बढ गई है। कोरोना काल में नौकरीपेशा लोगों को ऐसा करने पर मजबूर किया है ताकि अपने बुढापे को संवार सके। इन पेंशन योजनाओं क मैच्‍योरिटी के बाद आपको कभी रुपयों की जरुरत नहीं पडेगी। आज आपको ऐसी ही पांच याजनाआकं के बारे में जानकारी देने जा रहे हैं जो आपकी रिटरसरमेंट की चिंताओं को दू कर देगा। आइए आपको भी बताते हैं।

राष्ट्रीय पेंशन योजना या एनपीएस : एनपीएस को शुरुआत में केवल सरकारी कर्मचारियों के लिए 2004 में शुरू किया गया था। हालांकि, बाद में इस योजना को 2009 में सभी के लिए बढ़ा दिया गया। निवेशक एनपीएस योजना में सेवानिवृत्ति या 60 वर्ष की आयु तक, जो भी पहले हो, निवेश कर सकते हैं। यह योजना कर लाभ और कर-मुक्त निकासी भी प्रदान करती है। आपात स्थिति के मामले में निवेशक पूरे कोष का 25 फीसदी एडवांस के रूप में भी निकाल सकते हैं।

अटल पेंशन योजना (APY) : अटल पेंशन योजना (APY) भारत सरकार द्वारा शुरू की गई एक सामाजिक सुरक्षा योजना है। यह योजना असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों को 1000 रुपये से लेकर 5000 रुपये तक की पेंशन का वादा करती है। 60 वर्ष की आयु प्राप्त करने वाले नागरिक अटल पेंशन योजना का लाभ उठा सकते हैं। अभिदाता की मृत्यु होने पर भी लाभार्थियों को जीवन भर के लिए पेंशन मिलती है।

एलआईसी सरल पेंशन योजना : एलआईसी ने हाल ही में सरल पेंशन योजना शुरू की है, जो 40-80 वर्ष की आयु के निवेशकों को व्यक्तिगत तत्काल वार्षिकी योजना में निवेश करने की पेशकश करती है। निवेशक एलआईसी एजेंट के माध्यम से या निकटतम एलआईसी के कार्यालय के माध्यम से पॉलिसी को ऑफलाइन खरीद सकते हैं, वे ऑनलाइन भी योजना में निवेश कर सकते हैं।
एलआईसी वर्तमान में सरल पेंशन योजना के साथ वार्षिक, अर्धवार्षिक, त्रैमासिक और मासिक वार्षिकी प्रदान कर रहा है। योजना में आविष्कारक दो प्रकार की वार्षिकी योजनाओं में से चयन कर सकते हैं। विकल्प एक में, वे खरीद मूल्य पर 100% रिटर्न के साथ एन्‍यूटी प्राप्त कर सकते हैं, जबकि अनुभाग विकल्प एक संयुक्त जीवन के अंतिम उत्तरजीवी का चयन करने का विकल्प प्रदान करता है जो खरीद मूल्य पर 100% रिटर्न के साथ एन्‍यूटी प्राप्त करना जारी रखेगा।

प्रधानमंत्री वय वंदना योजना (पीएमवीवीवाई) : एलआईसी प्रधानमंत्री वय वंदना योजना (पीएमवीवीवाई) प्रदान करता है, एक पेंशन योजना जो 7.40% प्रति वर्ष की रिटर्न की सुनिश्चित दर का वादा करती है। हालांकि, प्रधानमंत्री वय वंदना योजना के तहत वरिष्ठ नागरिकों द्वारा ली गई पॉलिसी 15 लाख रुपए से अधिक नहीं होनी चाहिए। योजना में निवेश करने की न्यूनतम आयु 60 वर्ष है और पॉलिसी की अवधि 10 वर्ष है। निवेशकों को न्यूनतम 1000 रुपये पेंशन और अधिकतम पेंशन 10,000 रुपये मिलती है।

वरिष्ठ नागरिक बचत योजना (एससीएसएस) : वरिष्ठ नागरिक बचत योजना (एससीएसएस) एक पेंशन योजना है जिसका उद्देश्य सेवानिवृत्त कर्मचारियों को लाभ प्रदान करना है। इस योजना के तहत, 60 वर्ष से अधिक आयु के सेवानिवृत्त नागरिक न्यूनतम 1000 रुपये और अधिकतम 15 लाख रुपये पांच साल के कार्यकाल के लिए निवेश कर सकते हैं जिसे तीन साल तक बढ़ाया जा सकता है।

 

पढें Personal Finance समाचार (Personalfinance News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट