एसबीआई का होम, पर्सनल और ऑटो लोन लेने वालों को तोहफा, जानिए कितनी कम हो गई ईएमआई

एसबीआई ने अपने बेस रेट में 0.05 फीसदी की कटौती की है। अब एसबीआई का बेस रेट घटकर 7.45 फीसदी पर आ गया है। नई ब्‍याज दरें आज से लागू हो गई हैं। इस कटौती से उन लोगों को फायदा होगा जिनका होम लोन पर्सनल लोन और ऑटो बेस रेट पर डिपेंड हैं।

sbi, sbi news,
एसबीआई ने अपने बीपीीएलआर और बेस रेट में कटौती की है। (Photo-Reuters )

स्‍टेट बैंक ऑफ इंडिया की ओर से बेस रेट को कम कर दिया है। यह कटौती 0.05 फीसदी की कर दी गई है। जिसके बाद एसबीआई की ब्‍याज दर 7.50 फीसदी से नीचे आ गई है। वहीं दूसरी ओर बैंक ने बेंचमार्क प्राइम लेंडिंग रेट 0.05 फीसदी कम कर दिया है। अब एसबीआई का बीपीएलआर 12.20 फीसदी रह गया है। इस का फायदा उन होम होल्‍डर्स को फायदा मिलेगा जिन्‍होंने 2010 के बाद और 2016 से पहले लोन लिया हो।

एसबीआई का यह फैसला तब लिया गया है जब देश में फेस्टिव सीजन शुरू होने वाला है। इस फैसले आम लोगों की जेब पर बड़ा असर दिखाई देगा। फि‍र चाहे उन्‍होंने एसबीआई से होम लोन लिया हो, फ‍िर पर्सनल लोन। ऑटो लोन वालों को भी इस फैसले का बड़ा फायदा मिलेगा।

एसबीआई ने दिया बड़ा तोहफा
त्‍योहारी सीजन शुरू होने से पहले देश के सबसे बड़े बैंक एसबीआई ने पर्सनल लोन, ऑटो लोन और होम लोन लेने वालों को बड़ा तोहफा दिया है। एसबीआई ने अपने बेस रेट में 0.05 फीसदी की कटौती की है। अब एसबीआई का बेस रेट घटकर 7.45 फीसदी पर आ गया है। नई ब्‍याज दरें आज से लागू हो गई हैं। इस कटौती से उन लोगों को फायदा होगा जिनका होम लोन पर्सनल लोन और ऑटो बेस रेट पर डिपेंड हैं।

क्‍या होता है बेस रेट
2010 में रिजर्व बैंक ने बैंकों को हिदायत और एक लिमिट देते हुए कहा था कि उससे ज्‍यादा या कम पर लोन नहीं दे सकते हैं। उसे बेस रेट कहलाता है। एक अप्रैल 2016 के बाद बैंकिंग सिस्‍टम में मार्जिनल कॉस्ट ऑफ फंड बेस्ड लेंडिंग रेट यानी एमसीएलआर लागू हो गई थी। जोकि लोन लेने के लिए मिनिमम ब्‍याज दर बन गई। उसके बाद एमसीएलआर के बेस पर लोन दिया जाने लगा। अब एसबीआई के बेस रेट में कटौती का फायदा उन कर्जदारों को मिलेगा जिन्‍होंने अप्रैल 2016 से पहले लोन लिया है।

बीपीएलआर में भी कटौती
वहीं 2010 से पहले देश के बैंकिंग सिस्‍टम में बेंचमार्क प्राइम लेंडिंग रेट यानी बीपीएलआर लागू था। एसबीआई ने अपनी बीपीएलआर की दरों में भी 0.05 फीसदी कम कर दिया है। जिसके बाद नई दरें 12.20 फीसदी हो गई है। वहीं दूसरी ओर एमसीएलआर की दरों में किसी भी तरह का बदलाव देखने को नहीं मिला है।

पढें Personal Finance समाचार (Personalfinance News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

Next Story
रतन टाटा की आईटी कंपनी ने बनाया एक और रिकॉर्ड, निवेशकों को कराई मोटी कमाईRatan Tata
अपडेट
X