रामदेव की रुचि सोया ने 55 दिनों में निवेशकों का मोटा नुकसान, शेयरों में करीब 20 फीसदी की गिरावट

बाबा रामदेव की कंपनी रुचि सोया जिसका जल्‍द ही एनएफओ भी आने वाला है, बीते 55 दिनों में अपने 52 हफ्तों की ऊंचाई से करीब 20 फीसदी तक फि‍सल चुका है। करीब 1000 शेयरों की वैल्‍यू 2.75 लाख रुपए से ज्‍यादा कम हो चुकी है।

योगगुरु बाबा रामदेव (फाइल फोटो, सोर्स- रॉयटर्स)

भले ही रामदेव अपने गुप और उसकी कंपनियों के लिए बडे-बडे दावे और ऐलान कर रहे हों, लेकि‍न रुचि सोया के शेयरों ने निवेशकों के माथे पर बल ला दिए हैं। बीते 55 दिनों में कंपनी का शेयर करीब 20 फीसदी तक नीचे गिर गया है। यानी 1000 शेयरों में निवेश करने वाले दिनों में 2.75 लाख रुपए से ज्‍यादा का नुकसान हो चुका है।

आपको बता दें क‍ि बाबा रामदेव ने हाल ही में रुचि सोया और पतंजलि को लेकर बडे-बडे ऐलान किए हैं। जहां रुचि सोया का एनएफओ लाया जा रहा है। ताकि प्रमोटर्स की शेयरिंग कंपनी से कम हो और कंपनी को अपने कर्ज से मुक्ति‍ मिल सके। वहीं दूसरी ओर पतंजलि का आईपीओ लाने की भी तैयारी की जा रही है। आइए आपको भी बताते हैं आख‍िर निवेशकों को कितना नुकसान हो चुका है।

55 दिनों में 20 फीसदी तक गिरा रुचि सोया : वास्‍तव में बीते 55 दिन रुचि सोया के लिए कोई खास नहीं रहे हें। आंकडों के अनुासर 9 जून 2021 को कंपनी का शेयर प्राइास 1377 रुपए पर था। उसके बाद से किस्‍मत पलटी कंपनी के शेयरों ने गोता लगाना शुरू कर दिया। आज कंपनी का शेयर1101.80 रुपए पर आ गया है। यानी इस दौरान कंपनी के शेयरों में 20 फीसइी तक की गिरावट देखने को मिल चुकी है।

1000 शेयरों पर 2.75 लाख से ज्‍यादा का नुकसान : शेयरों की कीमत गिरती है तो कुछ निवेशकों को फायदा होता है तो कुछ को फायदा। अगर बात नुकसान की करें तो 1377 रुपए के हिसाब एक हजार शेयरों की वैल्‍यू 13,77,000 हो गई थी, जोकि आज कंपनी के शेयरों यानी मेरी 11,01,800 रुपए रह गई है। यानी निवेशकों को एक हजार शेयरों पर निवेशकों को 2.75 लाख रुपए से ज्‍यादा का नुकसान हो चुका है।

बीते 10 महीनों में कंपनी ने निवेशकों को 180 फीसद तक रिटर्न दि‍या है। पिछले साल 25 सितंबर 2020 को कंपनी का शेयर 405 रुपए पर था। जोकि करीब करीब 10 महीने के बाद 1133 रुपए के साथ दिन के उच्‍च स्‍तर पर आ गई है। जानकारों की मानें तो कंपनी का एनएफओ आने के बाद कंपनी के शेयरों में और तेजी आने की पूरी संभावना है।

 

 

पढें Personal Finance समाचार (Personalfinance News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट