एफडी से ज्‍यादा कमाई कराती है पोस्‍ट ऑफ‍िस की यह योजना, जानिए कैसे

पोस्‍ट ऑफ‍िस की कई ऐसी योजनाएं हैं जो फिक्‍स्‍ड डिपॉजिट से होने वाली कमाई से ज्‍यादा मुनाफा कमाकर देती हैं। आज हम आपको ऐसी ही योजना के बारे में बताने जा रहे हैं जिस पर निवेशकों को 7 फीसदी से ज्‍यादा ब्‍याज मिलता है।

PPF Account
पोस्‍ट ऑफ‍िस की कई ऐसी योजनाएं हैं जो फिक्‍स्‍ड डिपॉजिट से होने वाली कमाई से ज्‍यादा मुनाफा कमाकर देती हैं। (Photo By Indian Express)

कोरोना काल में देश के लोगों को कई तरह के सबक मिले। जिनमें से एक है आर्थि‍क रूप से सक्षम होना। इसका कारण है कि कोरोना काल में लोगों को आर्थि‍क संकट का सामना करना पडा है। ऐसे में पोस्‍ट ऑफ‍िस की योजनाएं आपको आपको अच्‍छी खासी कमाई करा सकती हैं। जोकि फ‍िक्‍स्‍ड डिपोजिट से ज्‍यादा ब्‍याज देती हैं। फ‍िक्‍स्‍ड डिपॉजिट में ब्‍याज दरें 6 फीसदी के आसपास हैं। आज हम पीपीएफ योजना की बात करने जा रहे हैं जो कि सात फीसदी से ज्‍यादा की ब्‍याज दरें देती हैं।

ये लोग खोल सकते हैं पीपीएफ अकाउंट : इस योजना में कोई भ्‍ी अपना अकाउंट खोल सकता है। जिसे पोस्‍ट ऑफ‍िस में आकर खुलवाया जा सकता है। यहां तक कि आप अपने बच्‍चे नाम भी पीपीएफ अकाउंट में निवेश कर सकते हैं। नाबालिग बच्‍चे की उम्र 18 साल से कम होना जरूरी है। उसके बाद आपको एक एप्‍लीकेशन देकर उसे मेजर करा सकते हैं। जिसका बाद बच्‍चा अपने अकाउंट को खुद हैंडल कर सकता है।

500 रुपए से कर सकते हैं शुरुआत : पीपीएफ में आप कम से कम 500 रुपए के साथ निवेश की शुरूआत कर सकते हैं। अधिकतम 1.5 रुपए जमा कर सकते हैं। य‍ह निवेश एक साल के लिए है। इस पर आप टैक्‍स में भी लाभ उठाया जा सकता है। वहीं आपको टैक्‍स पर मिलने वाले ब्‍याज पर टैक्‍स नहीं देना होता है। आपको बता दें क‍ि ऐसी स्‍कीम की ब्‍याज में हर तीसरे महीने में बदलाव होता रहता है।

लोन की भी मिलती है सुविधा : आप पीपीएफ अकाउंट के बदले में लोन लेने की सुविधा का लाभ ले सकते हैं। जिस फाइनेंशियल ईयर में आपने पीपीएफ अकाउंट खुलवाया है उसके खत्‍म होने से लेकर पांचवें फाइनेंश‍ियल ईयर समाप्ति तक पीपीएफ पर लोन लिया जा सकता है। अकाउंट होल्‍डर निवेश राशि का 25 फीसदी तक लोन लिया जा सकता है।

 


पढें Personal Finance समाचार (Personalfinance News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।