Mutual Fund SIP : 5 साल तक रोज करें 333 रुपए का निवेश, आपके हाथों में आएंगे 12 लाख रुपए

म्‍यूचुअल फंड एसआईपी में निवेश करने से पहले निवेशक मौजूदा समय में उनकी रेटिंग भी देखना पसंद करते हैं। जिसके बाद वो तय करते हैं कि उन्‍हें किस म्‍यूचुअल फंड में निवेश करना है और किस में नहीं।

Mutual Fund SIP
लार्ज कैप म्‍यूचुअल फंड शॉर्ट टर्म में भी अच्‍छा रिटर्न देने में सक्षम में हैं। (Photo By Indian Express Archive)

भारत में अधिकर म्यूचुअल फंड कमोबेश एक जैसे हैं, निवेशकों को मॉर्निंगस्टार, वैल्यू रिसर्च, क्रिसिल, आईसीआरए, आदि जैसी विभिन्न प्रतिष्ठित रेटिंग एजेंसियों द्वारा दी गई रेटिंग को देखने के लिए मजबूर करते हैं। वास्तव में, म्यूचुअल फंड की रेटिंग रिस्‍क और रिटर्न दोनों के उपाय के रूप में काम करती है। यह एक म्यूचुअल फंड योजना में शामिल जोखिम और रिटर्न की पूरी जानकारी देने में मदद करती हैं। निवेशक इस बात को मानते हैं कि अधिक रेटिंग वाला म्यूचुअल फंड हमेशा बेहतर होता है। मौजूदा फंड रेटिंग को देखते हुए एक निवेशक को एक बेहतर विकल्प चुनने में मदद मिल सकती है।

आज हम आपके सामने ऐसे ही दो फंड लेकर आ रहे हैं जिनकी रेटिंग एजेंसीज की ओर से काफी अच्‍छी रखी है। साथ आपके निवेश का रिटर्न भी काफी अच्‍छा है। अगर आप इन म्‍यूचुअल फंड में 5 साल तक रोज 333 रुपए यानी महीने में 10000 रुपए की एसआईपी करते हैं तो आपका रुपया तकरीबन डबल हो सकता है। वहीं तीन साल की एसआईपी का भी प्रोविजन है। जिसमें आपका रिटर्न काफी बेहतर दिखाई दे सकता है। आइए आपको भी बताते हैं इन इन म्‍यूचुअल फंड एसआईपी के बारे में।

मिरे एसेट इमर्जिंग ब्लू-चिप फंड
यह म्यूचुअल फंड मुख्य रूप से लार्ज और मिड साइज की कंपनियों के कांब‍िनेशन में निवेश करता है, जिससे फंड मैनेजर्स को उचित फ्लेक्सिबिलिटी मिलती है। वैल्यू रिसर्च के आंकड़ों के मुताबिक, अगर किसी निवेशक ने तीन साल पहले इस म्यूचुअल फंड प्लान में 1 लाख रुपए का निवेश किया था। जिसकी वैल्‍यू आज 1.91 लाख रुपए हो गई होगी। अगर किसी निवेशक ने 3 साल पहले इस नियमित योजना में 10,000 रुपए की मासिक एसआईपी शुरू की होती तो आज के निवेश की वैल्‍यू 6.17 लाख रुपए हो गई होती। वहीं दूसरी ओर पांच साल के निवेश की बात करें तो एक लाख रुपए का निवेश आज 2.65 लाख हो गया होता। जबकि 10,000 रुपए की मासिक एसआईपी की वैल्‍यू 11.40 लाख रुपए हो गई होती।

केनरा रोबेको ब्लू-चिप इक्विटी फंड
यह फंड लार्ज-कैप कंपनियों में निवेश करता है। उन फंडों की तुलना में जो छोटी और मिड साइज कंपनियों में निवेश करते हैं, ऐसे फंड मंदी के बाजार में कम गिरते हैं। वैल्यू रिसर्च के आंकड़ों के मुताबिक, अगर किसी निवेशक ने 3 साल पहले इस फंड में 1 लाख रुपये का एकमुश्त निवेश किया होता, तो उसके निवेश की वैल्‍यू 1.82 लाख रुपये हो जाती। जबकि 10,000 रुपए की मासिक एसआईपी के माध्यम से निवेश किया होता, तो आज निवेश की वैल्‍यू 5.73 लाख रुपए हो गई होती। इसी तरह, अगर किसी निवेशक ने 5 साल पहले ₹1 लाख एकमुश्त निवेश किया होता, तो उसके निवेश की वैल्‍यू 2.36 लाख रुपए होती। 10,000 रुपए की मंथली एसआईपी की वैल्‍यू आज 10.79 लाख रुपए हो गई होती।

पढें Personal Finance समाचार (Personalfinance News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट