जीवन बीमा प्रीमियम अगले महीने से होगा महंगा! 30-40 फीसदी ज्यादा देना होगा प्रीमियम, जानिए क्या है वजह

बीमा क्षेत्र की कंपनी म्यूनिख ने अपने टर्म प्लान की दरों में 30 से 40 फीसदी तक की बढ़ोतरी की है। जिससे बीमा प्रीमियम की दर भी 25 से 30 फीसदी तक महंगी होने की संभावना है।

Life Insurance Premium, Term Plan,
बीमा क्षेत्र के विशेषज्ञों के अनुसार बीमा प्रीमियम में बढ़ोतरी कोविड-19 की वजह से हो रही है। (फोटो सोर्स : financial express)

जीवन बीमा प्रीमियम अगले महीने से हो सकता है महंगा। सभी बीमा कंपनियां इस पर फिलहाल विचार कर रही है। लेकिन माना जा रहा है कि, अगले महीने दिसंबर से जीवन बीमा प्रीमियत 30 से 40 फीसदी तक महंगा हो सकता है। इसके साथ ही बीमा क्षेत्र की कंपनी म्यूनिख ने हाल ही में अपनी पॉलिसी का प्रीमियम 40 फीसदी तक महंगा किया है। जिसके बाद दूसरी जीवन बीमा कंपनियां भी लाइफ इंश्योरेंस प्रीमियम को 30 फीसदी तक महंगा करने की तैयारी कर रही हैं। इसके साथ ही लाइफ इंश्योरेंस के तहत आने वाले टर्म प्लान में भी 40 फीसदी तक इजाफा किया जा सकता है।

इस वजह से होगा लाइफ इंश्योरेंस महंगा – बीमा क्षेत्र के विशेषज्ञों का मानना है कि बीमा प्रीमियम में बढ़ोतरी कोविड-19 की वजह से हो रही है। उनका कहाना है कि, महामारी के दौरान बीमा कंपनियों का खर्च कई गुना तक बढ़ गया है। जिस वजह से अंडरराइटिंग पोर्टफोलियो में भारी इजाफा हुआ है।

वहीं विशेषज्ञों का मानना है कि, पूर्ण बीमा की दरों में 40 फीसदी तक इजाफा किया जा सकता है। इसलिए प्रीमियम में भी 30 प्रतिशत की बढ़ोतरी का अनुमान किया जा रहा है। इसके अलावा ये दर बीमा कराने वाले की उम्र, बीमा की राशि और व्यक्ति की लाइफ स्टाइल पर डिपेंड करेगा।

म्यूनिख ने क्यों महंगा किया लाइफ इंश्योरेंस प्रीमियम – बीमा क्षेत्र की कंपनी म्यूनिख ने अपने टर्म प्लान की दरों में 30 से 40 फीसदी तक की बढ़ोतरी की है। जिससे बीमा प्रीमियम की दर भी 25 से 30 फीसदी तक महंगी होने की संभावना है।

यह भी पढ़ें: किसानों को 1,500 रुपए की मदद देगी BJP शासित यह सरकार, जानें- वजह

बीमा कंपनियों ने 1.30 लाख क्लेम का किया सेटलमेंट – बीमा सेक्टर की रिपोर्ट के अनुसार कोरोना की पहली लहर से मरने वाले लोगों के दावे 2021 के पूरे वित्त वर्षों के दावों से अधिक थे। जबकि दूसरी लहर के दौरान बीमा कंपनियों ने कोरोना से संबंधित मौत के दामों को निपटाने के लिए 11060.5 करोड रुपये खर्च किए हैं। 21 अक्टूबर तक जीवन बीमा कंपनियों ने 1.30 लाख से अधिक कोविड-19 से जुड़ी मौतों के दावों का निपटारा किया है.

पढें Personal Finance समाचार (Personalfinance News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

Next Story
बैंक या फोन से आधार नंबर जोड़ना है तो ध्‍यान रखें ये बातें, वरना साफ हो सकता है खाते में जमा पैसा
अपडेट