scorecardresearch

LICHFL के शेयर करीब 13% चढ़े, जानें- क्या आपको लेने चाहिए और कब तक आएगा LIC IPO?

LIC IPO को लेकर मार्केट में काफी दिनों से चर्चाओं का बाजार गर्म है। कहा जा रहा है कि सरकार तीन हफ्तों में सेबी से इस बाबत मंजूरी चाहती है।

lic share, lic ipo, lic news
नई दिल्ली में कनॉट प्लेस स्थित एलआईसी बिल्डिंग (LIC Building)। (एक्सप्रेस आर्काइव फोटोः प्रेमनाथ पांडे)

पब्लिक सेक्टर की बीमा कंपनी एलआईसी हाउसिंग फाइनेंस (LIC Housing Finance : LICHFL) के शेयर शुक्रवार (28 जनवरी, 2022) को लगभग 13 फीसदी चढ़ गए। बीएसई सेंसक्स (BSE Sensex) पर कंपनी के शेयर 12.63% की बढ़त के साथ 389 रुपए पर पहुंच गए, जबकि निफ्टी (Nifty) पर यह 12.59% बढ़कर 389 रुपए पर आ गए थे।

दिसंबर 2021 में खत्म तिमाही में कंपनी का टैक्स चुकाने के बाद का लाभ छह फीसदी बढ़ा था। एलआईसीएचएफएल ने इससे एक दिन पहले (27 जनवरी, 2022) को बताया था कि दिसंबर में खत्म तिमाही में कर चुकाने के बाद उसका लाभ छह फीसदी की बढ़त के साथ 767.33 रुपये रहा था। बीते वित्त वर्ष इसी अवधि में कंपनी का टैक्स के बाद प्रॉफिट 727.04 करोड़ रुपए था।

कंपनी के प्रबंध निदेशक (एमडी) और सीईओ वाई विश्वनाथ गौड़ा ने कहा कि आय कमोबेश वही है। तिमाही के दौरान हमारे कलेक्शन अच्छे रहे हैं। बकौल गौड़, “हमने पहले जो प्रावधान किए थे, उनकी वजह से तिमाही में प्रावधान भी कम थे।महामारी में ढील के साथ, विकास और संपत्ति की गुणवत्ता मेट्रिक्स में सुधार होने की उम्मीद है। कोरोना महामारी से जुड़ी पाबंदियों में ढील के साथ, विकास और संपत्ति की गुणवत्ता मेट्रिक्स में सुधार होने की उम्मीद है।”

आपको लेने चाहिए LICHFL के शेयर?: च्वॉइस ब्रोकिंग (Choice Broking) के कार्यकारी निदेशक सुमीत बगड़िया ने अंग्रेजी बिजनेस वेबसाइट ‘मिन्ट’ (Mint) को बताया, “एलआईसी हाउसिंग फाइनेंस के शेयर अपने 52 हफ्ते के निचले स्तर के करीब कारोबार कर रहे हैं। यह चीज इसे रियायती मूल्य पर एक आदर्श खरीद बनाती है। साथ ही यह स्टॉक चार्ट पैटर्न पर काफी तेज दिख रहा है।

उन्होंने आगे कहा- हो सकता है कि क्लोजिंग के आधार पर 400 रुपए के स्तर पर ब्रेकआउट दें। स्टॉक में तेजी की उम्मीद है। तत्काल अल्पावधि (शॉर्ट टर्म) में 425 रुपए प्रति शेयर स्तर तक जा सकता है। हालांकि, कोई 440 रुपए के शॉर्ट टर्म टार्गेट के लिए इंतजार कर सकता है। उन्होंने यह भी सुझाव दिया कि शॉर्ट टर्म ट्रेडर्स 360 रुपए के स्तर पर स्टॉप लॉस बनाए रखते हुए उपर्युक्त लक्ष्यों के लिए मौजूदा स्तरों पर इसे ले सकते हैं।

कब तक आएगा LIC IPO?: इस बीच, खबर है कि देश की सबसे बड़ी बीमा कंपनी एलआईसी को केंद्र सरकार मार्च अंत में शेयर बाजार में लिस्ट कराएगी। गुरुवार को इस बाबत एक वरिष्ठ सरकारी अधिकारी ने समाचार एजेंसी पीटीआई को बताया कि एलआईसी के आईपीओ (Initial Public Offering) को लेकर ड्राफ्ट पेपर्स को आखिरी रूप दिया जा रहा है। जल्दी ही इसे मार्केट रेग्युलेटर भारतीय प्रतिभूति और विनिमय बोर्ड (Securities and Exchange Board of India : SEBI) के पास जमा कराया जाएगा।

निवेश और लोक संपत्ति प्रबंधन विभाग (Department of Investment and Public Asset Management : DIPAM) के सचिव तुहिन कांत पाण्डे ने कहा, ‘‘एलआईसी की विनिवेश रकम इस साल के बजट में शामिल है, क्योंकि हमारा इसे 31 मार्च से पहले लिस्ट कराने का लक्ष्य है।’’ बता दें कि सरकार के लिये विनिवेश लक्ष्य हासिल करने को लेकर एलआईसी का आईपीओ काफी महत्वपूर्ण है। वित्त वर्ष 2021-22 के बजट में यह लक्ष्य 1.75 लाख करोड़ रुपे है, जबकि पिछले वित्त वर्ष में विनिवेश से 32,835 करोड़ रुपए जुटाए गए थे।

पढें Personal Finance (Personalfinance News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट