इस साल निवेशकों की झोली में गिरे 66 लाख करोड़ रुपए से ज्‍यादा, आंकड़ों से समझें सफलता की कहानी

पिछले साल की तरह इस साल भी निवेशकों के लिए इक्वि‍टी मार्केट कमाई का बड़ा जरिया बन रहा है। इक्‍वि‍टी मार्केट रोज ऊंचाई छूते हुए रिकॉर्ड बना रहा है। सेंसेक्‍स 58 हजार अंकों को पार कर गया। जबकि 17300 के लेवल पर हैं।

money, calculator, india news
तस्वीर का इस्तेमाल सिर्फ प्रस्तुतिकरण के लिए किया गया है। (फोटोः Freepik)

इक्व‍िटी मार्केट की सफलता का स्‍वाद निवेशकों को भरपूर मिल रहा है। उसका कारण भी है इस साल निवेशकों की झोली में 66 लाख करोड़ रुपए से ज्‍यादा आ चुके हैं। खास बात तो ये है कि यह फायदा एक इस साल एक लाख करोड़ रुपए के पार जा सकता है। जानकारों की मानें तो इस साल में सेंसेक्‍स 60 हजार और निफ्टी 20 हजार तक जा सकता है। आइए आपको भी बताते हैं कि आख‍िर निवेशकों को किस तरह से कमाई हुई है।

रिकॉर्ड स्‍तर पर शेयर बाजार
मौजूदा समय में शेयर बाजार रि‍कॉर्ड स्‍तर पर है। जबकि 31 दिसंबर को जब बाजार बंद हुआ था तो बांबे स्‍टॉक एक्‍सचेंज का प्रमुख सूचकांक सेंसेक्‍स 47,751.33 अंकों पर बंद हुआ था। जबकि 3 सितंबर को जब बाजार बंद हुआ तो 58129.95 अंकों पर था। इस दौरान सेंसेक्‍स में 10378.62 अंकों की तेजी देखने को मिल चुकी है। जबकि नेशनल स्‍टॉक एक्‍सचेंज का प्रमुख सूचकांक निफ्टी 50 31 दिसंबर को 13,981.75 अंकों पर थे। वहीं 3 सि‍तंबर को निफ्टी 17323.60 अंकों पर पहुंच गया है। इस दौरान निफ्टी में 3341.84 अंकों का उछाल दे चुका है।

सेंसेक्‍स का मार्केट कैप नए स्‍तर पर
वहीं दूसरी ओर सेंसेक्‍स का मार्केट कैप भी नए लेवल पर पहुंच गया है। मौजूदा समय में 2,54,21,578.88 करोड़ रुपए के पार चला गया है। बीते आठ महीनों में सेंसेक्‍स का मार्केट कैप में 6618560.28 करोड़ रुपए का इजाफा देखने को मिला है। खास बात तो ये है कि 31 दिसंबर 2020 को बीएसई का मार्केट कैप 1,88,03,518.60 करोड़ रुपए के आसपास है। आपको यहां एक बताना काफी जरूरी है कि बीएसई के मार्केट कैप में इजाफा निवेशकों की कमाई को दर्शाता है।

इस वित्‍त वर्ष में क्‍या रही स्थित‍ि
अगर बात फ‍िस्‍कल ईयर यानी वित्‍त वर्ष 2021-22 की बात तो पांच महीनों में निवेशकों की कमाई में कोई गिरावट देखने को नहीं मिली है। बीते वित्‍त वर्ष के आख‍िरी दिन यानी 31 मार्च 2021 को सेंसेक्‍स का मार्केट कैप 2,04,30,814.54 करोड़ रुपए था। इन पांच महीनों में निवेशकों की जेब में 4990764.34 करोड़ रुपए आ चुके हैं। जानकारों की मानें तो आने वाले दिनों में निवेशकों को और फायदा हो सकता है।

पढें Personal Finance समाचार (Personalfinance News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट