ताज़ा खबर
 

एक से पांच जुलाई तक पीपीएफ में निवेश से होगा ज्‍यादा फायदा, जानिए क्‍यों?

जानकारों के अनुसार अगर महीने के पहले पांच दिनों में पब्लिक प्रोविडेंट फंड में निवेश किया जाए तो ज्‍यादा फायदा मिलता है। मौजूदा समय में पीपीएफ 7.1 फीसदी का ब्‍याज मिल रहा है। यह सरकार की सबसे लोकप्रिय योजनाओं में से एक है।

केंद्रीय कर्मचारियों के डीए और एरियर बढ़ाने को लेकर आज अहम बैठक। (प्रतीकात्मक फोटो- IE)

सरकारी निवेश योजनाओं की बात आती है तो अध‍िकतर लोग खासकर देश के बड़े नेता भी पब्लिक‍ प्रोविडेंट फंड में निवेश रकते हैं। इसमें अच्‍छा रिटर्न तो मिलता ही है। साथ ही टैक्‍स पर भी छूट मिलती है। वैसे अधि‍कतर लोगों के बीच एक सवाल जरूर रहता है कि आख‍िर पीपीएफ में निवेश महीने की किस तारीख से करना चाहिए। जिससे ज्‍यादा से ज्‍यादा लोगों को फायदा मिल सके। इसका पुख्‍ता जवाब नहीं मिल पाता है।

वैसे पर्सनल फाइनेंस के जानकारों कहना है अगर अगर महीने की पहली तारीख से लेकर 5 तारीख तक निवेश किया जाए तो ज्‍यादा फायदा देखने को मिलता है। मौजूदा समय में पीपीएफ में निवेश पर 7.1 फीसदी की दर से ब्याज मिल रहा है। वैसे सरकार की ओर स्‍मॉल सेविंग फंड की ब्‍याज दरें रिवाइज्‍ड होती हैं। वहीं पीपीएफ अकाउंट में इंट्रस्‍ट का कैल्‍कुलेशन मंथली कम्पाउंडिंग के जरिए किया जाता है।

1 से 5 तारीख के बीच करना चाहिए निवेश : इंवेस्‍टर्स को निवेश का सबसे बेहतर फायदा 1 से 5 तारीख के बीच होता है। जानकारों के अनुसार पीपीएफ का रुपया महीने के शुरुआती 5 दिनों में करा देना चाहिए। 5 के राश‍ि जमा कराई जाती है तो उस महीने की जमा रकम पर ब्‍याज उसी महीने में नहीं मिलता है। हर महीने इंट्रेस्ट का कैलकुलेशन 5 तारीख से महीने की आखिरी तारीख के बीच मिनिमम अमाउंट पर किया जाता है।

हर महीने निवेश करना जरूरी है ? : जानकारों के अनुसार अगर आपको पीपीएफ पर ज्‍यादा ब्‍याज कमाना है तो हर महीने निवेश करने की जगह वित्‍त वर्ष के शुरुआत में सारा रुपया जमा करा देना चाहिए। पीपीएफ में एक साल में निवेश की सीमा 1.5 लाख रुपए है। इन रुपए को पीपीएफ में एक साल में निवेश करने की सीमा 1.5 लाख रुपए है. अगर आप 1 से 5 तारीख के बीच पूरे रुपए को निवेश करने पर ज्‍यादा फायदा मिलता है।

क्‍या है पीपीएफ की खासियत : – पोस्‍ट ऑफिस के साथ बैंकों में भी पीपीएफ अकाउंट खुलवा सकते हैं।
– पहले इसे 15 साल के लिए खुलवाया जा सकता है। उसके बाद इसे 5-5 साल के ब्‍लॉक में एक्‍टेंड भी किया जा सकता है। .
इस अकाउंट में 1 साल में न्यूनतम 1 बार और अधिकतम जितनी बार चाहें पैसे जमा कराया जा सकता है।
– एक साल में कम से कम 500 रुपए का निवेश और अधि‍कतम 1.5 लाख रुपए तक जमा कराए जा सकते हैं।
– पीपीएफ की दरें प्रत्‍येक तीन महीने में रिवाइज्‍ड होती हैं।
इस अकाउंट को सिंगल और जॉइंट दोनों तरह से खुलवाया जा सकता है।
– पीपीएएफ में नॉमिनी बनाने की सुविधा भी मिलती है.
– पीपीएफ को बैंक से पोस्‍ट ऑफ‍िस और पोस्‍ट ऑफ‍िस से बैंक में ट्रांसफर कराया जा सकता है।

जमा हो सकती है अच्‍छी राशि : अगर आपने पीपीएफ अकाउंट में हर साल 10 हजार रुपए जमा करते हैं तो मौजूदा इंट्रेस्ट रेट के हिसाब से 15 साल बाद यह रुपया 2 लाख 71 हजार 214 रुपए हो जाएगा। इन सालों में कुल जमा 1.5 लाख रुपए ब्‍याज के रुपयों के मौर पर 1 लाख 21 हजार 214 रुपए मिलेंगे। यानी कुल रुपया 2.71 लाख रुपए हो जाएगा।

Next Stories
1 घर बैठे जेनरेट कर सकते हैं पीएफ का यूनिवर्सल अकाउंट नंबर, जानिए क्‍या है तरीका
2 सरकार की इस योजना में रिटायरमेंट के बाद नहीं रहेगी रुपयों की कमी, हर महीने करना है इतना निवेश
3 देश की जनता को राहत, सरकार ने पीपीएफ, सुकन्‍या जैसी योजनाओं की ब्‍याज दरों में नहीं की कटौती
ये पढ़ा क्या?
X