Post Office Scheme में आपने भी किया है निवेश, तो जानें कौन सी सेवा के लिए कितना देना होगा चार्ज

पोस्ट ऑफिस में बेहतर रिटर्न मिलता है। इसके अलावा पोस्ट ऑफिस के तहत किए गए निवेश में टैक्स छूट का भी फायदा मिलता है। इनकम टैक्स एक्ट के सेक्शन 80C के तहत डेढ़ लाख तक की राशि पर डिडक्शन का बेनेफिट भी मिलता है।

PO Schemes Service Charges, Post office, Invetment

Post Office Scheme : पोस्ट ऑफिस में किया गया निवेश हमेशा सुरक्षित रहा है। यहां आपको कई योजनाओं में सरकारी बैंक और प्राइवेट बैंक से ज्यादा ब्याज भी मिलता है। इसके साथ ही पोस्ट ऑफिस में निवेश करने के लिए बहुत ज्यादा कागजी कार्रवाई भी नहीं करनी होती। ऐसे में बहुत से लोग पोस्ट ऑफिस में पैसा निवेश करना ज्यादा पसंद करते हैं। लेकिन बहुत से लोगों को नहीं मालूम होगा कि, पोस्ट ऑफिस की योजनाओं में निवेश करने के बाद कई सर्विस के लिए चार्ज भी देना पड़ता है। जैसे कि, अगर आप पासबुक जारी कराते हैं, चेक बुक जारी कराते हैं या फिर दूसरी सर्विस के लिए पोस्ट ऑफिस चार्ज करता है। आइए जानते हैं कि, पोस्ट ऑफिस में किस सर्विस के लिए आपको कितना चार्ज देना पड़ता है।

पोस्ट ऑफिस में निवेश करने पर टैक्स में मिलती है छूट – पोस्ट ऑफिस में बेहतर रिटर्न मिलता है। इसके अलावा पोस्ट ऑफिस के तहत किए गए निवेश में टैक्स छूट का भी फायदा मिलता है। इनकम टैक्स एक्ट के सेक्शन 80C के तहत डेढ़ लाख तक की राशि पर डिडक्शन का बेनेफिट भी मिलता है।

पोस्ट ऑफिस की इन सर्विस पर लगता है इतना चार्ज
डुप्लीकेट पासबुक जारी करना – 50 रुपये
खो गए या खराब पासबुक के बदले पासबुक जारी करना – 10 रुपये प्रति रजिस्ट्रेशन
अकाउंट की स्टेटमेंट या डिपॉजिट की रसीद – 20 रुपये प्रति मामला
नॉमिनेशन में बदलाव या रद्द करना – 50 रुपये
अकाउंट को ट्रांसफर करना – 100 रुपये
अकाउंट की प्लेजिंग करना – 100 रुपये

साल में पोस्ट ऑफिस में इतनी चेक बुक मिलती है फ्री- इंडियन पोस्ट ऑफिस की ओर से एक फाइनेंशियल ईयर में 10 चेक की चेकबुक फ्री मिलती है। इसके बाद प्रति चेक के हिसाब से 2 रुपये चार्ज देने होते है। इसके साथ ही चेक के डिसऑनर पर 100 रुपये की फीस देनी होती है।

यह भी पढ़ें: बगैर इंटरनेट भी कर सकते हैं UPI से ट्रांजेक्शन, नहीं जानते तो यहां जानें पूरी प्रक्रिया

पोस्ट ऑफिस की इन योजनाओं में कर सकते हैं निवेश – अगर आप पोस्ट ऑफिस में निवेश करने का प्लान कर रहे हैं। तो आप सेविंग्स अकाउंट, रिकरिंग डिपॉजिट अकाउंट, टाइम डिपॉजिट अकाउंट, मंथली इनकम स्कीम, सीनियर सिटीजन सेविंग्स स्कीम, पब्लिक प्रॉविडेंट फंड, सुकन्या समृद्धि स्कीम, नेशनल सेविंग्स सर्टिफिकेट और किसान विकास पत्र में निवेश कर सकते हैं।

पढें Personal Finance समाचार (Personalfinance News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।