पोस्‍ट ऑफ‍िस की किन स्‍कीमों पर मिलती है लोन की सुविधा, जान‍िए क्‍या है पूरा प्रोसेस

पोस्‍ट ऑफ‍िस की छोटी बचत योजनाओं में दो ही ऐसी स्‍कीम हैं, जिनमें आपको लोन की सुविधा मिलती है। दोनों ही योजनाओं की अपनी अलग शर्तें और नियम है। जिनको पूरा करने पर आपको लोन की सुविधा मिल सकती है।

Post Office RD
पोस्‍ट ऑफ‍िस के रिकरिंग डिपॉजिट पर 5.8 फीसदी का रिटर्न मिलता है। (Photo By Indian Express Archive)

पोस्‍ट ऑफ‍िस की स्‍मॉल सेविंग स्‍कीम लोन की भी सुविधा देती हैं। सभी स्‍कीम्‍स में इस सुविधा को लेने के लिए अलग-अलग एलिजिबिलिटी क्राइटेरिया है। जिसे पूरा करने के बाद ही आपको यह सुविधा दी जाती है। अगर आपने भी पोस्‍ट ऑफ‍िस की स्‍मॉल सेविंग में निवेश किया हुआ है और इस फेस्टिव सीजन में आपको रुपयों की जरुरत है तो इस सुविधा का आराम से फायदा उठा सकते हैं। आइए आपको भी बताते हैं कि पोस्‍ट ऑफि‍स की किस स्‍कीम में आपको लोन की सुविधा मिल रही है।

पीपीएफ में इस तरह से ले सकते हैं लोन सुविधा

  • उस वित्तीय वर्ष के अंत से एक वर्ष की समाप्ति के बाद लोन लिया जा सकता है जिसमें प्रारंभिक सदस्यता की गई थी। (यानी 2019-20 के दौरान खाता खुला, लोन 2020-21 में लिया जा सकता है)।
  • उस वर्ष के अंत से पांच वर्ष की समाप्ति से पहले लोन लिया जा सकता है जिसमें प्रारंभिक सदस्यता की गई थी।
  • जिस वर्ष लोन लागू किया गया है, उसके ठीक पहले के दूसरे वर्ष के अंत में उसके क्रेडिट में शेष राशि का 25 फीसदी तक लोन ऋण लिया जा सकता है। (अर्थात यदि 2019-20 के दौरान लिया गया लोन, 31.03.2018 को शेष ऋण का 25 फीसदी)
  • एक वित्तीय वर्ष में केवल एक ही लोन लिया जा सकता है।
  • दूसरा लोन तब तक नहीं दिया जाएगा जाएगा जब तक कि पहला लोन चुकाया नहीं जाता।
  • यदि लिया गया लोन 36 महीने के भीतर चुकाया जाता है, तो लोन पर ब्याज दर 1 फीसदी प्रति वर्ष लागू होगी।
  • यदि लोन 36 महीने के बाद चुकाया जाता है तो लोन पर ब्‍याज 6 फीसदी की दर से लागू होगा। यह ब्‍याज उसी दिन से लागू होगा जिस दिन दिया गया था।

पोस्‍ट ऑफ‍िस की आरडी पर लोन की शर्तें

  • 12 किश्तों के जमा होने और 1 साल तक खाता चालू रखने के बाद भी बंद नहीं किया गया है तो डिपॉजिटर्स अकाउंट में जमा शेष राशि का 50 फीसदी तक लोन की सुविधा का लाभ उठा सकता है।
  • लोन एकमुश्त या समान मासिक किश्तों में चुकाया जा सकता है।
  • लोन पर ब्याज आरडी खाते पर लागू 2फीसदी + आरडी ब्याज दर के रूप में लागू होगा।
  • ब्याज की गणना निकासी की तारीख से चुकौती की तारीख तक की जाएगी।
  • यदि मेच्‍योरिटी तक लोन का भुगतान नहीं किया जाता है, तो लोन और ब्याज आरडी अकाउंट के मेच्‍योर्ड अमाउंट से काट लिया जाएगा।

और किसी योजना में नहीं है लोन की सुविधा
वैसे तो पोस्‍ट ऑफ‍िस की और भी छोटी बचत योजनाएं हैं जो‍कि काफी पॉपुलर हैं, लेकिन उनमें लोन की सुविधा नहीं है। जिसमें टाइम डिपॉजिट स्‍कीम, मंथली इंवेस्‍टमेंट स्‍कीम, नेशनल सेविंग सर्टिफि‍केट, सुकन्‍या योजना, किसान विकास पत्र शामिल हैं। इन सभी योजनाओं में रिटर्न तो काफी अच्‍छा है, लेकिन लोन की जो सुविधा पीपीएफ और आरडी अकाउंट होल्‍डर्स के लिए है वो किसी दूसरी योजना में नहीं है।

पढें Personal Finance समाचार (Personalfinance News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट