scorecardresearch

जीवन बीमा पॉलिसी खरीदना है तो जान‍िए आपके ल‍िए कौन सा सही रहेगा इंश्‍योरेंस

भविष्‍य में परिवार की सुरक्षा और वित्तीय लाभ के लिए लोग बीमा पॉलिसी खरीदते हैं। बैंक से लेकर कई संस्‍थाएं लोगों को बीमा प्रोवाइड कराती हैं। साथ ही हेल्‍थ और गंभीर बीमारियों के लिए कई कंपनियों की ओर से भी बीमा दिया जाता है।

जीवन बीमा पॉलिसी खरीदना है तो जान‍िए आपके ल‍िए कौन सा सही रहेगा इंश्‍योरेंस
जानिए कौन-कौन सा बीमा पॉलिसी ले सकते हैं आप (फोटो-Freepik)

भविष्‍य में परिवार की सुरक्षा और वित्तीय लाभ के लिए लोग बीमा पॉलिसी खरीदते हैं। बैंक से लेकर कई संस्‍थाएं लोगों को बीमा प्रोवाइड कराती हैं। साथ ही हेल्‍थ और गंभीर बीमारियों के लिए कई कंपनियों की ओर से भी बीमा दिया जाता है। वहीं भारतीय जीवन बीमा निगम हर वर्ग के लोगों को जीवन बीमा का लाभ देती है। लेकिन क्‍या आपको जानकारी है कि आप कितने तरह का बीमा लाभ ले सकते हैं? आइए जानते हैं कितने तरह की बीमा पॉलिसी होते हैं और इनके क्‍या-क्‍या लाभ हैं?

प्रमुख दो प्रकार का होता है इंश्‍योरेंस

मुख्‍य तौर पर दो तरह के इंश्‍योरेंस होता होता है, जिसमें पहला लाइफ इंश्‍योरेंस (जीवन बीमा) और समान्‍य बीमा (जनरल इंश्‍योरेंस) है। हालाकि इनके कई तरह के सबटाइप भी हैं, जो आपको कई तरह के लाभ देते हैं।

क्‍या है जीवन बीमा

जीवन बीमा पॉलिसीधारक के परिवार को उसकी मृत्यु पर या एक निश्चित समय के बाद यानी मैच्‍योरिटी के बाद एक पूर्व-निर्धारित राशि प्रदान करता है। बीमा धारक व्यक्ति उस व्यक्ति को नामांकित करेगा, जिसे बीमा कंपनी से रकम दी जाएगी। सीधे तौर पर कहें तो बीमाधारक की मौत के बाद इस जीवन बीमा के तहत परिवार को आर्थिक लाभ दिया जाता है।

कितने प्रकार का होता है लाइफ इंश्‍योरेंस?

टर्म इंश्‍योरेंस

इस बीमा योजना के तहत नॉमिनी को एक फिक्‍स्‍ड राशि, पॉलिसी टर्म के अवधि के भीतर ही पॉलिसी होल्‍डर के मौत के बाद प्रीमियम के भुगतान पर दी जाती है। वहीं अगर व्यक्ति बीमा पॉलिसी की अवधि तक जीवित रहता है, तो उसे कोई परिपक्वता लाभ नहीं मिल सकता है। टर्म इंश्योरेंस अन्य जीवन बीमा की तुलना में सस्ता है और प्रीमियम दरें अधिक किफायती हैं। टर्म इंश्योरेंस गंभीर बीमारियों को भी कवर करता है जहां बीमा कंपनी जानलेवा बीमारियों के लिए एक निश्चित राशि का भुगतान करती है।

बंदोबस्ती पॉलिसी

एक बंदोबस्ती पॉलिसी जीवन बीमा के साथ-साथ एक बचत साधन के रूप में भी कार्य करती है। यदि पॉलिसीधारक की बीमा अवधि के भीतर मौत हो जाती है, तो नामांकित व्यक्ति को पूर्वनिर्धारित राशि प्राप्त होगी, लेकिन अगर पॉलिसीधारक बीमा अवधि में जीवित रहता है, तो उसे पॉलिसी की शर्तों के अनुसार कुछ रिटर्न के साथ भुगतान किया गया प्रीमियम दिया जाता है।

मनी बैक पॉलिसी

यह बीमा पॉलिसी निवेश के साथ-साथ जीवन बीमा कवर भी देती है। पॉलिसी अवधि के तहत पॉलिसीधारक को तय समय अंतराल पर एक निश्चित राशि दी जाती है और पॉलिसीधारक की मृत्यु के मामले में नामित व्यक्ति को परिपक्वता लाभ दिया जाता है। पॉलिसी की परिपक्वता पर, धारक को बीमा अनुबंध की शर्तों के तहत बोनस के साथ परिपक्वता लाभ दिया जाता है।

पढें Personal Finance (Personalfinance News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट