अगर आप भी हैं एसबीआई के कस्‍टमर तो फ्री में भर सकते हैं आईटीआर, जानिए पूरा प्रोसेस

एसबीआई ग्राहक जो योनो ऐप के माध्यम से आईटीआर दाखिल करने में रुचि रखते हैं, उन्हें ध्यान रखना चाहिए कि आईटीआर दाखिल करते समय कुछ दस्तावेजों की आवश्यकता होती है।

SBI issued Alert to customers To avoid cyber fraud Use YONO and BHIM app for transaction
ऑनलाइन ट्रेडिंग ऐप के जरिए युवक के अकाउंट से उड़ाए 13 लाख रुपए ( फोटो- QQCR.COM)

भारतीय स्टेट बैंक (SBI) के ग्राहक जो अपना आयकर रिटर्न (ITR) दाखिल करना चारहते हैं तो YONO ऐप पर Tax2Win के साथ ऐसा कर सकते हैं। देश के टॉप लेंडर ने ने हाल ही में घोषणा की है कि उसके ग्राहक योनो ऐप पर अपना आईटीआर दाखिल कर सकते हैं। इसके लिए कस्‍टमर्स को किसी तरह की पेमेंट या चार्ज भी नहीं देना होगा। इसका मतलब यह है कि योनो ऐप से एसबीआई कस्‍टमर फ्री में आईटीआर फाइल कर सकते हैं। एसबीआई ने ट्वीट करते हुए कहा कि क्या आप आईटीआर फाइल करना चाहते हैं? आप इसे योनो पर टैक्स2विन के साथ मुफ्त में कर सकते हैं। आपको केवल 5 दस्तावेजों की जरूरत है। अभी डाउनलोड करें: sbiyono.sbi,”।

इन डॉक्‍युमेंट्स की है जरुरत
एसबीआई के ग्राहक जो योनो ऐप के माध्यम से आईटीआर दाखिल करने में रुचि रखते हैं, उन्हें ध्यान देना चाहिए कि आईटीआर दाखिल करते समय कुछ दस्तावेजों की आवश्यकता होती है।

  • पैन कार्ड
  • आधार कार्ड
  • फॉर्म-16
  • टैक्स कटौती विवरण
  • ब्याज आय प्रमाण पत्र
  • टैक्स सेविंग के लिए इन्वेस्टमेंट प्रूफ

योनो ऐप के जरिए ऐसे करें आईटीआर फाइल
योनो ऐप के जरिए आईटीआर फाइल करने के लिए एसबीआई के ग्राहकों को कुछ स्टेप्स फॉलो करने होंगे।

  • ग्राहकों को एसबीआई योनो में लॉग इन करना होगा।
  • फिर यूजर को ‘शॉप्‍स एंड ऑर्डर’ ऑप्‍शन का चयन करना होगा।
  • अब, उम्मीदवारों को ‘टैक्‍स एंड इंवेस्‍टमेंट’ का चयन करना होगा।
  • उसके बाद ‘Tax2Win’ का चयन करना होगा।

दिसंबर तक हो गई है लास्‍ट डेट
सितंबर में, केंद्रीय प्रत्यक्ष कराधान बोर्ड (CBDT) ने वित्त वर्ष 2020-21 के लिए ITR फाइलिंग की समय सीमा 31 दिसंबर 2021 तक बढ़ा दी है। यह फैसला ज्यादातर कोविड -19 महामारी के मद्देनजर करदाताओं के सामने आने वाली कठिनाइयों को देखते हुए लिया गया है। वित्त मंत्रालय ने एक बयान में कहा था कि असेसमेंट ईयर 2021-22 के लिए इनकम का विवरणी प्रस्तुत करने की नियत तिथि, जो कि अधिनियम की धारा 139 की उप-धारा (1) के तहत 31 जुलाई, 2021 थी, जिसे परिपत्र संख्या 9 के तहत 30 सितंबर, 2021 तक बढ़ाया गया था। उसे 31 दिसंबर, 2021 तक बढ़ा दिया गया है।

पढें Personal Finance समाचार (Personalfinance News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट