scorecardresearch

Provident Fund खाते में जमा है अच्छी खासी रकम, पर नहीं चेक कर पा रहे बैलेंस? यह है सरल तरीका

पीएफ बैलेंस (PF Balance) एसएमएस सेवा के जरिए भी चेक किया जा सकता है।

pf, pf balance, umang app
तस्वीर का इस्तेमाल सिर्फ प्रस्तुतिकरण के लिए किया गया है। (फोटोः unsplash.com)

प्रोविडेंट फंड (पीएफ) खाते का बैलेंस चेक करना बेहद सरल है। आप इसे उमंग ऐप्लिकेशन (Umang App) के जरिए पता कर सकते हैं, जबकि इस ऐप के अलावा बैलेंस चेक करने के कई आसान तरीके हैं। मसलन एसएमएस से, मिस कॉल से या फिर ईपीएफओ की वेबसाइट से।

हालांकि, इसके लिए आपका ईपीएफओ यानी एंप्लाई प्रोविडेंट फंड ऑर्गनाइजेशन में खाता होना जरूरी है। पीएफ खाते का सबसे बड़ा और बढ़िया लाभ यह है कि इसमें ब्याज दर अधिक (बैंकों की तुलना में) होती है। यह साढ़े आठ फीसदी तक होती है।

आइए जानते हैं कि आप किन-किन तरीकों से पीएफ बैलेंस पता कर सकते हैं:

  • यह काम अगर उमंग ऐप के जरिए करेंगे, तो पहले आपको उसे गूगल प्ले स्टोर या फिर ऐप्पल ऐप स्टोर से डाउनलोड करना होगा। फिर आपको लॉगइन करने के बाद बैलेंस चेक करने के लिए यूएएन और ओटीपी (वन टाइम पासवर्ड) डालना होगा।
  • एसएमएस के जरिए यह काम करना चाहते हैं, तब आपको एक नंबर पर एसएमएस भेजना होगा। यह नंबर है 7738299899। इस पर आपको ‘EPFOHO UAN ENG’ लिखकर अपने रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर (यूएएन से) से भेजना होगा। मैसेज के आखिरी में जो तीन कैरेक्टर्स हैं, उनका मतलब उस भाषा से जिसमें आप नोटिफिकेशन वाला मैसेज पाना चाहते हैं। यह सेवा नौ भाषाओं में उपलब्ध है, जिसमें हिंदी, बांग्ला, तमिल, मराठी, गुजराती, कन्नड़, पंजाबी, तेलुगू और मलयालम आदि हैं।
  • मिस कॉल के माध्यम से अगर पीएफ खाते का बैलेंस पता करना है, तब आपको 011-22901406 पर मिस कॉल देनी होगी। ध्यान रहे कि आप जिस नंबर से मिस कॉल दें, वह यूएएन रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर होना चाहिए, जिसके बाद आपको एसएमएस के रूप में बैलेंस की जानकारी मुहैया करा दी जाएगी।
  • ईपीएफओ की वेबसाइट की मदद से यह काम करना चाहते हैं, तब आपको ईपीएफओ की साइट पर जाना होगा। फिर ‘अवर सर्विसेज’ टैब पर क्लिक करना होगा और आगे ‘फॉर एंप्लाइज’ चुनना होगा। आगे आपको “मेंबर पासबुक” ऑप्शन पर जाना होगा और यूएएन और पासवर्ड डालना होगा। यह काम करते ही ई-पासबुक आपके सामने होगी।

EPFO ने नवंबर, 2021 में जोड़े 13.95 लाख नए अंशधारक: वहीं, ईपीएफओ ने नवंबर, 2021 में शुद्ध रूप से 13.95 लाख अंशधारक जोड़े हैं, जो एक साल पहले की समान अवधि की तुलना में लगभग 38 प्रतिशत अधिक है। निश्चित वेतन पर रखे गये (पेरोल) कर्मचारियों के ताजा आंकड़ों से यह जानकारी मिली है। ईपीएफओ के अस्थायी पेरोल आंकड़ों के अनुसार, पिछले साल नवंबर में 13.95 लाख अंशधारक जोड़े गए हैं। यह अक्टूबर, 2021 की तुलना में 2.85 लाख या 25.65 प्रतिशत अधिक है।

दरअसल, श्रम मंत्रालय ने गुरुवार को एक बयान में कहा, ‘‘सालाना आधार पर तुलना की जाए, तो अंशधारकों की संख्या में 3.84 लाख की वृद्धि हुई है। नवंबर, 2020 में ईपीएफओ ने शुद्ध रूप से 10.11 लाख अंशधारक जोड़े थे।’’ ये आंकड़े देश में संगठित रोजगार की स्थिति की जानकारी देते हैं। नवंबर, 2021 में जोड़े गए कुल 13.95 अंशधारकों में से 8.28 लाख सदस्य पहली बार ईपीएफओ के सामाजिक सुरक्षा दायरे में आए है।

पढें Personal Finance (Personalfinance News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.