scorecardresearch

Personal Finance: पहली सैलरी से ही शुरू करें करोड़पति बनने का सफर, ये है रास्ता

Personal Finance: आप अपनी पहली सैलरी से योजनाबद्ध तरीके से निवेश करके जल्द करोड़पति बन सकते हैं।

Personal Finance: पहली सैलरी से ही शुरू करें करोड़पति बनने का सफर, ये है रास्ता
Personal Finance: सैलरी से भी आप बन सकते हैं करोड़पति (फोटो: Freepik)

Personal Finance:करोड़पति बनाना हर किसी का सपना होता है। शुरुआत में सही ढंग से योजनाबद्ध तरीके से निवेश किया जाए, तो बेहद कम समय में भी आप अपने लक्ष्य को प्राप्त कर सकते हैं। एक्सपर्ट कहना है कि निवेश की शुरुआत किसी भी व्यक्ति को जितनी जल्दी हो सके उतनी जल्दी करनी चाहिए। इसका फायदा यह होता है कि आपके निवेश को बढ़ने के लिए समय मिल जाता है।

एप्सिलोन मनी के सीईओ और को-फाउंडर अभिषेक देव का कहना है कि अगर निवेश जल्दी शुरू करने की बात करें, तो पहली सैलरी से अच्छा कुछ भी नहीं होता। पहली सैलरी अनुशासित तरीके से निवेश करने का एक बेहतर मौका होता है। लंबी अवधि के नजरिए से अपने बड़े खर्चों को ध्यान में रखते हुए हर महीने सैलरी का कुछ हिस्सा निवेश करना चाहिए।

इसके लिए सबसे बेहतर बिकल्प एसआईपी होती है। हमारे पास इक्विटी और बैलेंस फंड का एक पोर्टफोलियो होना चाहिए। इसके लिए हमें पूरे सोच- विचार के बाजार की परिस्थितियों के हिसाब से अच्छे फंड खोजने चाहिए। इसके लिए आप अपने वित्तीय सलहाकार की मदद ले सकते हैं। म्यूच्यूअल फंड लेने के बाद आपको साल दर साल रिव्यू करना होता है, जिससे आप तय कर पाएं कि आपको अपनी एसआईपी को बढ़ाना है या फिर कम करना है।

10 साल में करोड़पति बनने का प्लान

हम इसके बारे में पहले ही चर्चा कर चुके हैं कि करोड़पति बनने के लिए हमें कैसे निवेश करने जरूरत है। अब बताते हैं कि 10 साल में एक करोड़ रुपए की पूंजी जमा करने के लिए क्या करना होगा?

इसके लिए आपको हर महीने 45,000 रुपए अगले 10 सालों के लिए एसआईपी में निवेश करने होंगे। इतिहास के आधार पर बात करें, तो आमतौर पर म्यूच्यूअल फंड 12 फीसदी का वार्षिक रिटर्न देते हैं। (45,000*12*10) के हिसाब में निवेश किए जाए, तो यह रकम बढ़कर 1.04 करोड़ हो जाएगी। ऐसे में आप केवल 33 लाख रुपए निवेश करेंगे और 71 लाख रुपए का फायदा होगा। एसआईपी के जरिए निवेश में आपको हमेशा याद रखना कि पहले के कुछ सालों में आपको सब्र रखना है क्योंकि कंपाउंडिंग का असर हमेशा आखिरी के सालों में दिखाई देता है।

पढें Personal Finance (Personalfinance News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट