इन कारणों से Health Insurance Porting Request हो जाता है नामंजूर, जान‍िए सभी वजह

ऐसे कई कारण हैं जिसकी वजह से आपका Health Insurance Porting Request खारिज हो सकता है। ऐसे में आपको कई बातों की ध्‍यान रखने की जरुरत है। ताकि आपको हेल्‍थ इंश्‍योरेंस के बेहतर विकल्‍प मिल सकें।

health Insurance portability
इरडा ने इंश्‍योरेंस कंपन‍ियों को हेल्‍थ इंश्‍योरेंस पोर्टेबिलि‍टी की रिक्‍वेस्‍ट को खारिज करने के अध‍िकार दिए हुए हैं। (Photo By Financial Express archive)

क्या आप जानते हैं कि बीमा नियामक इरडा ने इंश्‍योरेंस कंपनि‍यों को Health Insurance Porting Request को अस्वीकार करने का अधिकार दिया है? यदि कोई पॉलिसीधारक समय पर आवश्यक दस्तावेज जमा करने में विफल रहता है, तो अस्वीकृति हो सकती है। पोर्टिंग अनुरोध को अस्वीकार करने के अन्य कारणों में अपर्याप्त जानकारी, खराब क्‍लेम हिस्‍ट्री और पॉलिसी के नवीनीकरण में रुकावट शामिल हैं। आप एक बेहतर बीमाकर्ता के पास जाने चाह रखते हैं, लेकिन यह आवश्यक नहीं है कि आपका आवेदन नए बीमाकर्ता द्वारा स्वीकार किया जाएगा।

ऐसे में आपसे बार-बार इसी बात के लिए अनुरोध किया जाता है कि आप सभी पॉलिसी दस्तावेज़, पहचान के प्रमाण, मेडिकल हिस्‍ट्री आदि सत्यापित रखें और एक सुचारू पोर्टिंग प्रक्रिया सुनिश्चित करने के लिए तैयार रहें। आइए आपको भी बताते हैं कि आख‍िर आपका Health Insurance Porting Request किन परस्थिति‍यों में खारिज किया जा सकता है।

अंडरराइटिंग रिस्‍क
आप जिस भी इंश्‍योरेंस कंपनी में स्‍व‍िच करने के बारे में सोच रहे हैं यानी कोई नया इंश्‍योरेंय लेना या पोर्टेबिलिटी रिक्‍वेस्‍ट दोनों एक जैसे ही हैं। यदि ग्राहक की मेडिकल कंडीशल कंपनी की निर्धारित अंडरराइटिंग रिस्‍क या फ‍िर रिस्‍क एक्‍सेप्‍टेंस के अनुसार नहीं है तो कंपनी इसे अस्‍वीकार कर सकती है।

जानकारी से देने से बचना, गलत जानकारी देना
आपके मेडिकल हिस्‍ट्री पूरा विवरण होना जरूरी है, ऐसा ना करने पर आपका पोर्टिंग प्रोसेस खटाई में पड़ सकता है। कस्‍टमर की ओर से बताई सभी जानकारी और चिकित्सा जांच के दौरान मिली जानकारी में थोड़ा भी फर्क आता है तो पोर्ट रिक्‍वेस्‍ट को अस्वीकार किया जा सकता है। इसी तरह, यदि पिछले बीमाकर्ता द्वारा बताए गए दावों का इतिहास फॉर्म में बताए गए अनुसार नहीं है, तो नया बीमाकर्ता इसे अस्वीकार कर देगा।

उम्र भी है एक कारक
एक प्रमुख कारक जो स्वास्थ्य पॉलिसी पोर्टेबिलिटी को अस्वीकार कर सकता है, वह है पॉलिसीधारक की अधिक उम्र। जहां 60-70 आयु वर्ग के लोगों में पोर्टेबिलिटी की कुछ संभावनाएं होती हैं, वहीं 70 वर्ष से अधिक आयु के लोगों के आवेदन खारिज होने की संभावना अधिक होती है। बीमा कंपनियां सीरियस अंडरराइटिंग रूल्‍स लागू करती हैं, ज्‍यादा प्रीमियम लेती हैं और वरिष्ठ नागरिकों से पोर्टेबिलिटी अनुरोधों के लिए को-पे क्‍लॉज भी पेश कर सकती हैं। इस प्रकार, यदि ग्राहक किसी विशेष योजना में निर्दिष्ट आयु वर्ग के अंतर्गत नहीं आता है, तो आवेदन को अस्वीकार किया जा सकता है।

डेडलाइंस
अगर आप पोर्टिंग टाइमलाइन का पालन नहीं करते हैं, तो आपको रिजेक्ट किया जा सकता है। नई इंश्‍योरेंस कंपनी की कॉल न उठाना, मेडिकल चेक-अप के लिए उपलब्ध ना होना भी रिजेक्ट होने के कुछ निश्चित शॉट तरीके हैं। निर्धारित तिथियों तक दस्तावेज जमा करना भी सुनिश्चित करें और समय सीमा को बिल्‍कुल भी ना भूलें।

पढें Personal Finance समाचार (Personalfinance News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट